ज्वाइन करे टेलीग्राम ग्रुप

Join Our Group
Join Telegram
WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

Samagra Shiksha Abhiyan 2.0 | समग्र शिक्षा अभियान 2023



Samagra Shiksha Abhiyan (समग्र शिक्षा अभियान) 2.0 : नमस्कार दोस्तों स्वागत करता हु मै आप सभी को अपने इस आर्टिकल में जैसा कि आप सभी को बता दू की हमारे देश भर में साक्षरता अनुपात को बढ़ाने के लिए प्रत्येक बच्चे को शिक्षा दिया जाता है और इसका अधिकार भी दिया जाता है क्योंकि हमारा देश का शिक्षा स्तर बहुत गिरा हुआ है इसी को बढ़ाने के लिए सरकार के द्वारा निरंतर प्रयास किया जा रहा है जिसके लिए सरकार के द्वारा बहुत से ऐसे योजनाओं को संचालन कर रही है और हाल ही में सरकार के द्वारा एक नई नीति आरंभ की गई है जिसके अंतर्गत शिक्षा के स्तर में विभिन्न प्रकार के बदलाव लाए गए हैं आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के अंतर्गत इस योजना से संबंधित सारी जानकारी बताने जा रहे हैं जिस योजना का नाम समग्र शिक्षा अभियान-2.0 है इस योजना के तहत शिक्षा के संपूर्ण जानकारी हम आपको देने जा रहे हैं जिसके अंतर्गत समग्र शिक्षा अभियान का उद्देश्य क्या है इस योजना का लाभ क्या है,इसकी विशेषताएं क्या है,इसके लिए पात्रता क्या है,महत्वपूर्ण दस्तावेज क्या लगाई गई आवेदन करने की प्रक्रिया सारी जानकारी हम आपको अपने इस आर्टिकल में बताने जा रहे हैं जिसे आप भी समग्र शिक्षा अभियान-2.0 का लाभ उठा सकें।

,Samagra Shiksha Abhiyan 2.0 ,समग्र शिक्षा अभियान 2.0

Samagra Shiksha abhiyan 2.0

Samagra Shiksha Abhiyan 2.0 केंद्र सरकार के द्वारा इस योजना को मंजूरी दे दी गई है और यह मंजूरी 4 अगस्त 2021 को दी गई है इस योजना के अंतर्गत स्कूल से लेकर बारहवीं कक्षा के सभी आयामों को शामिल किया जाएगा यह योजना नई शिक्षा नीति के सिफारिशों के अनुरूप बनाई गई है जिसमें की शिक्षा संबंधी टिकाऊ विकास लक्ष्य भी शामिल है समग्र शिक्षा अभियान 2.0 के तहत आने वाले वर्ष में चरणबद्ध तरीके से स्कूल में बाल वाटिका स्मार्ट कक्षा प्रशिक्षित शिक्षकों की व्यवस्था रखी जाएगी और इसके अलावा एक आधारभूत ढांचा व्यवसायिक शिक्षा एवं रचनात्मक शिक्षण विधियों को व्यवस्था की जाएगी विद्यालय में ऐसा वातावरण तैयार किया जाएगा जिससे की पृष्ठभूमि बहुभाषी जरूरत और बच्चे की विभिन्न क्षमता पर जोर दिया जाएगा इसके अलावा इस योजना के अंतर्गत शिक्षा पाठ्य सामग्री भी तैयार की जाएगी जिसके लिए प्रति छात्र ₹500 की राशि रखी गई है।
,Samagra Shiksha Abhiyan 2.0 ,समग्र शिक्षा अभियान 2.0

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

अभियान के तहत पंजाब के लिए प्रस्तावित की गई 1103 करोड़ रुपए की राशि

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय के द्वारा स्कूली शिक्षा के लिए समग्र शिक्षा योजना के तहत एक 1103 करोड़ रुपए के बजट का प्रावधान किया गया है इस पार वरदान वित्तीय वर्ष में 2023 से 24 के लिए पंजाब में किया गया है इस योजना के अंतर्गत प्रदेश के शिक्षा स्तर को सुधार लाया जा सके और इसी उद्देश्य इस योजना को आरंभ किया गया था तथा राज्य सरकार उक्त राशि में 64:60 का हिस्सा साझा किया जाएगा इस राशि में से 661.75 करोड़ केंद्रीय वित्त पोषण के रूप में प्रस्तावित किए गए हैं इससे 441.16 करोड रुपए का राज्य सरकार के द्वारा प्रारंभिक शिक्षा माध्यमिक शिक्षा और अन्य शिक्षा घटकों के लिए प्रदान किए जाएगा और प्रारंभिक शिक्षा के लिए मंत्रालय के द्वारा 707.13 करोड़ रुपए और माध्यमिक शिक्षा के लिए 378.62 करोड़ रुपए निर्धारित किए गए हैं।

key highlights of Samagra Shiksha abhiyan 2.0

🔥 योजना का नाम 🔥 समग्र शिक्षा अभियान 2.0
🔥 किसने आरंभ की 🔥 भारत सरकार
🔥 लाभार्थी 🔥 भारत के छात्र
🔥 उद्देश्य 🔥 शिक्षा के स्तर में सुधार करना
🔥 आधिकारिक वेबसाइट 🔥 Click Here
🔥 साल 🔥 2023

समग्र शिक्षा अभियान 2.0 बजट

इस अभियान का कार्यवन के लिए 2.94 लाख करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे इसके अलावा इस योजना के तहत आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा बालिकाओं की हॉस्टल में सैनिटरी पैड की व्यवस्था करना कस्तूरबा गांधी विश्वविद्यालय का बारहवीं कक्षा तक विस्तार करना इत्यादि जैसे प्रावधान शामिल किए गए इस योजना को 1 अप्रैल 2021 से लेकर 31 मार्च 2026 तक कार्यान्वित की जाएगी 2.94 लाख करोड़ रुपए के बाजार में से 1.50 लाख करोर रुपए की हिस्सेदारी केंद्र सरकार की रहेगी। Samagra Shiksha Abhiyan 2.0 के अंतर्गत लगभग 11.6 लाख स्कूल 15.6 करोड़ बच्चे और 57 लाख शिक्षकों को इस योजना के अंतर्गत लाभ दिया जाएगा इसके अलावा इस योजना के अंतर्गत सीखने की प्रक्रिया पर भी निगरानी रखी जाएगी बाल वाटिका स्थापित करना शिक्षकों की क्षमताओं का विकास एवं प्रशिक्षण कार्य पर भी जोड़ दिया जाएगा शिक्षकों को प्रशिक्षित करने के लिए भिन्न प्रकार के प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा वह सभी छात्र जो दूर से आते हैं उनको माध्यमिक स्तर पर प्रतिवर्ष परिवहन सुविधा राशि भी दी जाएगी जो कि ₹6000 की होगी।

Samagra Shiksha abhiyan 2.0 का कार्यान्वयन

इस शिक्षा अभियान के अंतर्गत कार्य वन के लिए शिक्षा में सुधार लाने के लिए सरकार के द्वारा पवन सिस्टम आरंभ किया गया है जिस पर राज्य और केंद्र शासित प्रदेश समग्र शिक्षा अंतर्गत भारत सरकार के द्वारा यह जानकारी मिली है कि कवरेज अनुमोदन की स्कूल वार सूची स्कूल वारंगल अनुमोदन इत्यादि की स्थिति की जांच कर सकते हैं और इसके अलावा इस सिस्टम के अंतर्गत सभी राज्यों में भौतिक और द्वितीय मासिक प्रगति रिपोर्ट को भी ऑनलाइन प्रस्तुत करा दिया जाएगा जिसके लिए डेटा विश्लेषण डैशबोर्ड का निर्माण किया गया है यह डैशबोर्ड केंद्र शासित प्रदेश और राज्य के द्वारा दिए गए मासिक अपडेट के आधार पर सिस्टम से डाटा एकत्रित करता है यह सिस्टम को योजना की कार्य में पारदर्शिता लाने और सुधार करने के लिए आरंभ किया गया है।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

,Samagra Shiksha Abhiyan 2.0 ,समग्र शिक्षा अभियान 2.0

समग्र शिक्षा अभियान 2.0 का उद्देश्य

समग्र शिक्षा अभियान का मुख्य उद्देश्य शिक्षा के स्तर में सुधार करना है। इसके अलावा इस योजना के माध्यम से स्कूल से लेकर बारहवीं कक्षा के सभी आयामों को शामिल किया जाएगा जिससे कि छात्रों को बेहतर शिक्षा प्रदान की जा सके। यह योजना नई शिक्षा नीति की सिफारिशों के अनुरूप बनाई गई है जिससे कि नई शिक्षा नीति के कार्यान्वयन करने में भी मदद प्राप्त होगी। Samagra Shiksha Abhiyan-2.0 को 6 सालो तक कार्यान्वित किया जाएगा। विद्यालय, बच्चों एवं शिक्षकों का विकास इस अभियान से होगा। इस योजना के माध्यम से सीखने की प्रक्रिया पर निगरानी, बाल वाटिका की स्थापना, शिक्षको की क्षमताओं का विकास एवं प्रशिक्षण कार्य पर भी जोर दिया जाएगा। इसके अलावा शिक्षकों को प्रशिक्षित करने के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन करने पर भी इस योजना के उद्देश्य में शामिल है।

Samagra Shiksha abhiyan 2.0 के लाभ तथा विशेषताएं

  • समग्र शिक्षा अभियान को केंद्र सरकार के द्वारा आरंभ किया गया है।
  • यह अभियान 4 अगस्त 2021 को आरंभ किया गया है।
  • इस अभियान के तहत स्कूल शिक्षा के प्रिय स्कूल से लेकर बारहवीं कक्षा के सभी आयामों को शामिल किया गया है।
  • नई शिक्षा नीति 2020 की सिफारिशों के तहत इस अभियान को आरंभ किया गया है जिसमें शिक्षा संबंधी टिकाऊ विकास लक्ष्य भी शामिल है।
  • आने वाले वर्षों में इस अभियान के तहत कुछ नई तरीके से स्कूल में बाल वाटिका स्मार्ट शिक्षा परिषद शिक्षकों की व्यवस्था की जाएगी।
  • इस अभियान के तहत आधारभूत ढांचा व्यवसायिक शिक्षा और रचनात्मक शिक्षण विधियों के व्यवस्था भी सरकार के द्वारा की जाएगी।
  • इस अभियान के अंतर्गत एक आधारभूत ढांचा व्यवसायिक शिक्षा एवं रचनात्मक शिक्षण विधियों की व्यवस्था भी की जाएगी।
  • विद्यालय में ऐसा वातावरण तैयार किया जाएगा जिसमें विभिन्न पृष्ठभूमि बहुभाषी जरूरत एवं बच्चों की विभिन्न क्षमताओं पर जोड़ दिया जाएगा।
  • शिक्षक पाठ्य सामग्री भी इस अभियान के अंतर्गत तैयार की जाएगी इसके लिए प्रति छात्र ₹500 की राशि रखी गई है।
  • इस योजना के कार्य बहन के लिए 2.94 लाख करोड़ की राशि खर्च की जाएगी।
  • इसके अलावा इस योजना के तहत आंगनवाड़ी कार्यकर्ता को भी प्रशिक्षण दिया जाएगा जिससे कि सभी बालिकाओं के हॉस्टल में
  • सेनेटरी पैड की व्यवस्था करना कस्तूरबा गांधी विश्वविद्यालय का विस्तार करना इत्यादि जैसे प्रावधान शामिल किए गए हैं।
  • इस अभियान को 1 अप्रैल 2021 से लेकर 31 मार्च 2026 तक कार्य किया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत 1.50 लाख करोड़ रुपए के हिस्सेदारी केंद्र सरकार के द्वारा रहेगी।
  • लगभग 11.6 लाख स्कूल,15.6 करोड़ बच्चे और 57 लाख शिक्षकों को इस योजना के तहत लाभ दिया जाएगा।
  • छात्रों को परिवहन सुविधा राशि भी प्रतिवर्ष दिया जाएगा जो कि ₹6000 की होगी।
  • शिक्षकों को प्रशिक्षण के लिए विभिन्न प्रकार के प्रशिक्षण कार्यक्रम भी इस योजना के तहत आयोजित किए जाएंगे।
  • इस योजना के कार्य वेंकी है इस शिक्षा के स्तर को सुधार लाया जाएगा।

समग्र शिक्षा अभियान-2.0 के मुख्य तथ्य

  • वार्षिक कार्य योजना-राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेश जिलेवार वार्षिक कार्य योजना एवं बजट प्रस्ताव पोर्टल के माध्यम से जमा कर सकते हैं।
  • सिस्टम के माध्यम से इन प्रस्तावों का ऑनलाइन मूल्यांकन भी किया जाएगा और परियोजना अनुमोदन बोर्ड द्वारा दिए गए अंतिम अनुमोदन को पोर्टल पर फीड किया जाएगा।
  • स्वीकृति आदेश का ऑनलाइन सर्जन – आवश्यक अनुमोदन के बाद इस योजना के अंतर्गत सभी स्वीकृति आदेश ऑनलाइन उत्पन्न होंगे।
  • सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों को ऑनलाइन auto-generated मेल भारत सरकार द्वारा जारी किए जाएंगे जिसमें सभी संबंधित सूचना उपलब्ध होगी।
  • ऑनलाइन मासिक गतिविधियां – राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा समग्र शिक्षा के सभी घटकों के लिए गतिविधि वार प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की जाएगी।
  • स्कूल वार प्रगति रिपोर्ट ऑनलाइन जमा करना – सामग्र शिक्षा के विभिन्न घटको के अंतर्गत स्कूल वार कार्यक्रम और निर्माण की स्तिथि से संबंधित जानकारी ऑनलाइन जमा की जा सकेगी।
  • सक्रिय लॉगइन – सभी राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेशों के 740 जिले, 8100 ब्लॉक एवं 12 लाख स्कूल में जिला लॉगिन बनाया गया है।

Samagra Shiksha abhiyan पोर्टल पर लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको समग्र शिक्षा अभियान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।,Samagra Shiksha Abhiyan 2.0 ,समग्र शिक्षा अभियान 2.0
  • अब आपके सामने इसका होम पेज खुलकर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको लॉगइन के सेक्शन के अंतर्गत लॉगइन आईडी पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • आपको लॉगइन के ऑप्शन पर जाकर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार से आप पोर्टल पर लॉगइन कर सकते हैं।

ध्यान दें :- ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम सबसे पहले अपने इस वेबसाइट Sarkariyojnaa.Com के माध्यम से देते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और Share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…

Posted By Amar Gupta

🔥🔥 Join Our Group For All Information And Update, Also Follow Me For Latest Information🔥🔥

🔥 Follow US On Google News Click Here
🔥 Whatsapp Group Join Now Click Here
🔥 Facebook Page Click Here
🔥 Instagram Click Here
🔥 Telegram Channel Techgupta Click Here
🔥 Telegram Channel Sarkari Yojana Click Here
🔥 Twitter Click Here
🔥 Website  Click Here

FAQ Questions Related From  समग्र शिक्षा अभियान 2.0

✔️ समग्र शिक्षा अभियान 2.0 का उद्देश्य क्या है ?

समग्र शिक्षा अभियान का मुख्य उद्देश्य शिक्षा के स्तर में सुधार करना है। इसके अलावा इस योजना के माध्यम से स्कूल से लेकर बारहवीं कक्षा के सभी आयामों को शामिल किया जाएगा जिससे कि छात्रों को बेहतर शिक्षा प्रदान की जा सके। यह योजना नई शिक्षा नीति की सिफारिशों के अनुरूप बनाई गई है जिससे कि नई शिक्षा नीति के कार्यान्वयन करने में भी मदद प्राप्त होगी। Samagra Shiksha Abhiyan-2.0 को 6 सालो तक कार्यान्वित किया जाएगा। विद्यालय, बच्चों एवं शिक्षकों का विकास इस अभियान से होगा। इस योजना के माध्यम से सीखने की प्रक्रिया पर निगरानी, बाल वाटिका की स्थापना, शिक्षको की क्षमताओं का विकास एवं प्रशिक्षण कार्य पर भी जोर दिया जाएगा। इसके अलावा शिक्षकों को प्रशिक्षित करने के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन करने पर भी इस योजना के उद्देश्य में शामिल है।

✔️ samgra Shiksha Abhiyan पोर्टल पर लॉगइन कैसे करे ?

सबसे पहले आपको समग्र शिक्षा अभियान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
अब आपके सामने इसका होम पेज खुलकर आएगा।
इस होम पेज पर आपको लॉगइन के सेक्शन के अंतर्गत लॉगइन आईडी पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
आपको लॉगइन के ऑप्शन पर जाकर क्लिक करना है।
इस प्रकार से आप पोर्टल पर लॉगइन कर सकते हैं।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
✔️ समग्र शिक्षा 2.0 क्या है?

समग्र शिक्षा अभियान 2.0 क्या है और इसे कब शुरू किया गया है ? SSA 2.0 केंद्र सरकार द्वारा 4 अगस्त 2021 को नई शिक्षा निति के अंतर्गत शुरू की गई एक एकीकृत योजना है, प्री-स्कूल से लेकर बारहवीं कक्षा तक के सभी आयामों को शामिल कर सरकार शिक्षा में नए बदलाव कर छात्रों को एक सामान समावेशी कक्षा वातावरण प्रदान किया जाएगा।

✔️ समग्र शिक्षा योजना का वेतन क्या है?

272 एसएसए पीजीटी शिक्षकों को तत्कालीन वाम मोर्चा सरकार द्वारा वर्ष 2011 में सर्व शिक्षा अभियान और रामसा की दो केंद्रीय योजनाओं के विलय के माध्यम से नियुक्त किया गया था। प्रारंभ में उन्हें 8830.00 रुपये मासिक वेतन स्वीकृत किया गया था, जिसे पांच साल की सेवा के बाद वर्ष 2016 में बढ़ाकर 26,730.00 कर दिया गया था।

✔️ सर्व शिक्षा अभियान किसकी देन है?

सर्व शिक्षा अभियान (BRC) 2001भारत सरकार का एक प्रमुख कार्यक्रम है, जिसकी शुरूआत (2001-02) मे अटल बिहारी बाजपेयी द्वारा एक निश्चित समयावधि के तरीके से प्राथमिक शिक्षा के सार्वभौमिकरण जैसा कि भारतीय संविधान के 86वें संशोधन द्वारा निर्देशित किया गया है जिसके तहत 6-14 साल के बच्चों (2001 में 205 मिलियन अनुमानित) की मुफ्त|

✔️ समग्र शिक्षा अभियान को सरकार कब तक चलाएगी और इस पर कुल कितना खर्च होने का अनुमान है?

समग्र शिक्षा अभियान के संदर्भ में सरकार ने बताया है कि वह इस योजना को मार्च 2026 तक इस योजना को चलाएगी। जानकारी के मुताबिक इस योजना के लिए सरकार कुल मिलाकर 2.94 लाख करोड़ों रुपए खर्च करने वाली है।

Leave a Comment