ज्वाइन करे टेलीग्राम ग्रुप

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना 2022: एप्लीकेशन फॉर्म,ऑनलाइन आवेदन,और लाभ कैसे मिलेगा

pradhanmantri Garib Kalyan Yojana,प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना,pm garib kalyan yojana,इस योजना के तहत सभी गरीब को दिया फ्री में राशन

pradhanmantri Garib Kalyan Yojana

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ बता दें कि जो भी गरीब और मजदूर भाई है उन सभी के लिए इस योजना का आरंभ हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा किया गया इस योजना के अंतर्गत हमारी सरकार ने 26 मार्च 2020 को 21 दिन का लॉक डाउन के ध्यान में रखते हुए इस योजना का समस्या गरीब जनता के लिए किया था और उन्हीं के लिए यह योजना का आरंभ किया है और इस प्रेस को कॉन्फ्रेंस को संबंधित रखते हुए हमारे वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बहुत सारे योजनाओं को प्रधानमंत्री जन कल्याण योजना के अंतर्गत आरंभ किया है इस योजना का सफल कार्य के लिए केंद्र सरकार के द्वारा की राशि खर्च करने की ठानी है pradhanmantri Garib Kalyan Yojana

जैसा कि आप सभी को यह बता दे प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना इस योजना के अंतर्गत हमारे सरकार के द्वारा 80 करोड़ देश के लाभार्थियों को दिया जाएगा अगर आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको इस योजना से जुड़ी सारी जानकारी के लिए हमारी आर्टिकल को फायदा होगा तो आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो हमारे योजना को ध्यान पूर्वक पढ़ें

pradhanmantri Garib Kalyan Yojana

जैसा कि आप सभी लोग भी यह जानते हैं कि हमारे देश में कोरोनावायरस का दूसरा लहर किस तरह से चल रहा था जिसके कारण हमारे राज्य में लॉक डाउन लग गया और इस लोक डाउन के वजह से हमारे देश के सभी गरीब लोग भूख से मरने लगे और वह ना तो काम पर जा सकते थे और ना ही घर पर बैठ के अपना भरण पोषण कर पाते हैं तो इस सभी समस्याओं को ध्यान में रखते हुए हमारे देश के केंद्र सरकार ने यह घोषणा की है कि सभी गरीब लोगों को गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत राशन देने का कार्य किया जाएगा

pradhanmantri Garib Kalyan Yojana के अंतर्गत हमारे जो भी सभी गरीब लाभार्थी हैं जो इसका लाभ उठाते हैं उन सब का राशन पहुंचाने का काम हमारे सरकार के द्वारा किया जा रहा है और प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत देश के सभी आर्थिक रूप से जो भी कमजोर वर्ग के नागरिक हैं हमारे देश के जैसे कि सड़क पर रहने वाले और जो कूड़ा उठाने वाले हैं रिक्शा चालक प्रवासी मजदूर यह सभी को सरकार के द्वारा प्राथमिक दी जाएगी संजीव सुधांशु पांडे द्वारा दी गई है

और उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा वितरण किया गया यह 200 लाख मैट्रिक टन खाद्यान्न कोरोना वायरस के आर्थिक प्रभाव को कम करने में मदद करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा अप्रैल 2020 से मार्च 2022 तक 200 लाख मैट्रिक टन खाद्यान्न वितरित किया गया है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा अब मुफ्त खादान प्रदान करने की योजना को 3 महीने और बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। इस योजना के माध्यम से लाभार्थियों को 35 किलो राशन के साथ दाल, चीनी, तेल और नमक प्रदान किया जाता है। यह वितरण प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के पांचवें चरण के अंतर्गत किया जा रहा है। अप्रैल से जून 2020 के बीच अंत्योदय कार्ड धारकों को 195 करोड़ रुपए की लागत का आठ लाख मैट्रिक टन खाद्यान्न वितरित किया गया है।

और इसके साथ ही हमारे भारत को आत्मनिर्भर भारत योजना के अंतर्गत जो भी मजदूर हैं उन सभी को 12 हजार मैट्रिक टन खाद्यान्न और समय कितना दिया जाएगा जिससे वह अपना भरण-पोषण कर सके और 2020 से लेकर मार्च 2022 तक 134 लाख मैट्रिक टन निशुल्क खदान वितरित किया गया और इसके अलावा ही हम आपको यह बता दे कि जून 2021 से अगस्त 2021 तक इन विच में जो भी कार्ड धारक है उन सभी को 564.5 लाख मैट्रिक टन खदान देने की हमारे सरकार ने वितरित किया और दिसंबर 2021 से लेकर मार्च 2022 तक हमारे सरकार के द्वारा 58.71 लाख मैट्रिक टन गेहूं और इसके साथ ही 12.75 लाख मैट्रिक टन चावल और 13.35 लाख मैट्रिक टन सोयाबीन तेल और आयोडीन नमक हमारे सरकार के द्वारा बाटा गया

सितंबर 2022 तक किया गया इस योजना का विस्तार

जैसा कि हम आप सभी को यह बता दें कि आपको यह पता होगा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना को 6 महीने के लिए बढ़ाने का निर्णय लिया गया है और हम आपको यह बता दे कि इस बात की घोषणा केंद्र सरकार के द्वारा 26 मार्च 2022 को की गई जिसके के लिए सरकार के द्वारा आगे बढ़ाने के लिए 30.40 लाख रुपए खर्च किए गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा इस बात की जानकारी ट्वीट के माध्यम से दी गई है और इस योजना का लाभ हमारे देश के 80 करोड़ से अधिक नागरिक उठा सकते हैं और यह बात की जानकारी और इस योजना का ऐलान हमारे प्रधानमंत्री जी के द्वारा मार्च 2020 के लॉकडाउन से लागू होने के पश्चात से इसे लागू किया गया था

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना को लागू करने का बस यही मकसद है कि कोरोनावायरस के अंतर्गत जितने भी हमारे देश के गरीब नागरिक है उन सभी को राशन की प्राप्ति हो सके और वह सभी नागरिक इस योजना के माध्यम से सभी के हाथ में 5 किलो से अधिक अनाज को मिल जाए और देश के सभी नागरिकों ने जिनके पास राशन कार्ड है वह अपने कोटे से साथ-साथ राशन के साथ इस योजना को प्रतिमाह 5 किलो फायदा में प्राप्त कर सकते हैं और इससे हमारे गरीब के जो भी गरीब कल्याण है उन सभी का भरण-पोषण बदीया से वह अपने परिवार के लिए कर पाएंगे और खुशी-खुशी जिंदगी बिता सकते हैं और कोरोनावायरस में हम जानते हैं उन सभी को बहुत ज्यादा परेशानी होती है और उन्हें परेशानियों को देखते हुए हमारी योजना का निर्माण किया

80 करोड़ लाभार्थियों के लिए यहां आवंटित किया गया है 759 लाख मैट्रिक टन खदान

जैसा कि मैं आप सभी को यह बता दो कि आप जानते होंगे कि मार्च 2020 में भारत सरकार के द्वारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत इसकी घोषणा की गई थी और इस घोषणा के अंतर्गत प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के माध्यम से सभी गरीब लोगों के लिए 80 करोड़ राष्ट्रीय खाद सुरक्षा अधिनियम के लाभार्थियों को मुफ्त में दी जाएगी और इस योजना को महामारी के कारण बहुत सारी बाधाओं का सामना करना पड़ा और सभी जरूरतमंद नागरिकों को खाद सुरक्षा देने का यह उद्देश्य है कि वह सभी अपना जीवन बिता सकें और वह भूखे ना मरे इस योजना के अंतर्गत अंत्योदय योजना और प्राथमिकता वाले परिवारों को जिस तरह से वितरित किया जाता था उसी तरह से सामान्य रूप में वितरित किए जाएंगे वाले हैं और मासी खाद की मात्रा को दोगुना कर गया था और इस योजना के पहले चरण से लेकर पांचवें चरण तक आपको पता होगा कि लगभग 80 करोड़ ऐसे लाभार्थियों को अनाज बांटा गया था और हमारे राज्य के जो केंद्र शासित प्रदेश है उन सभी में 759 लाख में खदान को बांटा गया था और यह खदान में सब्सिडी के रूप में 2.6 लाख करोड़ रुपए के बराबर होता है और हम अभी तक आपको बता दें कि लगभग 580 लाख मैट्रिक का खदान सभी लाभार्थियों को बाटा गया

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के पांच चरण

हम आप सभी को यह क्या बता दे इस योजना का प्रारंभ में ही इसका संचालन घोषणा केवल 3 महीना के लिए ही की गई थी जो कि अप्रैल 2020 से लेकर मई 2020 तक होता है और जून 2020 तक था पर आप सभी को यह बता दें कि यह योजना का पहला चरण था इसके बाद जुलाई में 2020 से लेकर नवंबर 2020 तक या दूसरे चरण की घोषणा की गई थी और साल 2020 से 21 खत्म हो उसके बाद वर्ष 2022 में की महामारी आ गई जिसके कारण इस संकट को देखते हुए सरकार को फिर से अप्रैल 2021 में सरकार के द्वारा योजना मई 2021 तक और जून 2021 की अवधि के लिए विस्तार किया गया जो कि इस योजना का तीसरा चरण था और उसके बाद फिर से इस योजना का चौथा चरण को भी संचालित किया गया जो कि जुलाई 2021 से लेकर नवंबर 2021 तक था और इसके बाद इस योजना का पांचवा चरण 2 दिसंबर 2021 से मार्च 2022 तक जारी रहा

इस योजना के अंतर्गत मुफ्त राशन बांटा गया  

जैसा कि हम आप सभी को यह बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी के द्वारा 20 दिसंबर 2021 को कैबिनेट बैठक में आयोजन किया गया जिसमें उन्होंने सभी को मुफ्त राशन का वितरण के लिए 6 महीने के लिए इस योजना को बढ़ाने का निर्णय किया और अब दिल्ली के नागरिक को एक 30 मई 2022 तक मुफ्त राशन दिया गया और यह जानकारी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी के द्वारा कैबिनेट बैठक के बाद एक डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से दिया गया और दिल्ली सरकार द्वारा यह राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम और प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत लाभार्थी इसका मुफ्त राशन वितरण किया गया है उनको फ्री में मिल रहा है और प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना को लांच किया गया था

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण दिव्यांग पेंशन योजना

हम आप सभी को यह बता दे कि हमारे देश के माननीय श्रीमती निर्मला सीतारमण ने इससे संबंधित करते हुए यह बताया कि हमारे देश के चल रहे सभी मुद्दे नजर रखते हुए हमारी सरकार के द्वारा सभी देश के जो बुजुर्ग दिव्यांग है उन सभी को लिए 3 महीने तक ₹1000 पेंशन दी जाएगी और इन सभी लाभ भी चीजों की डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से इस को दी जाएगी और इस योजना के अंतर्गत लगभग हमारे देश के 3 करोड लाभार्थी शामिल होंगे

स्वयं सेवा समूह के लिए दीनदयाल योजना

कोई नया बता दो कि भारत सरकार के द्वारा इंतजार योजना अंतर्गत जो भी संसोधन करते हुए अब महिला और साथ सम्मुख के अंतर्गत इसका लाभ को महिलाओं को 20 लाख तक का लोन दिया जाएगा और जो धनराशि पहले रुपए 1000000 तक सीमित थी साथ ही सरकार के द्वारा आने वाले हर तीन माह तक सभी महिलाओं को जिनके खाते में जनधन की अंतर्गत खुले हुए हैं उन्हें अगले 3 माह तक ₹500 तक की धनराशि डीबीटी के माध्यम से भेज दिया जाएगा

3 महीना का ईपीएफ देगी सरकार

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत हमसे आप सभी को यह बता दें कि सरकार के द्वारा यह घोषणा की गई है कि आने वाले दो-तीन महीना है 3 महीने तक भारत सरकार के द्वारा इपीएफ कंट्रीब्यूशन केंद्र सरकार के द्वारा किया जाएगा अर्थात यह कि केंद्र सरकार के द्वारा 24 फीसदी कंट्रीब्यूशन कर्मचारियों के EPF खाते में अब किया जाएगा और इसका लाभ उन सभी कंपनियों को मिलेगा जिनमें 100 या उससे अधिक कर्मचारियों काम करते हो जी कर्मचारी का वेतन कम से कम ₹15000 है

योजना की मुख्य बातें जो निम्न है

हम आप सभी को यह बता दे कि हमारे देश के जो लोग चिकित्सा क्षेत्र से जुड़े हुए हैं उन सभी को कोरोनावायरस के अंतर्गत और उनके खिलाफ अपनी जान की बाजी लगा रहे हैं उन सभी को केंद्र सरकार के द्वारा ₹5000000 का जीवन बीमा प्रदान किया जाएगा ताकि वह पूरा जीवन सुरक्षित कर सकें

और हमारे देश के वित्त मंत्री सीता निर्मला सीतारमण जी ने इस योजना के अंतर्गत देश के सभी किसानों और मनरेगा मजदूर गरीब विधवा गरीब दिव्यांग और गरीब पेंशन धारक जन धन योजना उज्ज्वल के लाभार्थी जो है और स्वयं सहायता समूह की सभी महिलाएं और जो भी है उन सभी को लिए यह ऐलान किया है कि इस योजना के अंतर्गत 2.85 करोड़ लोगों को 1405 करोड़ रूप से अब पेंशन दिया जाएगा और इनमें से विधवा पेंशन वरिष्ठ नागरिक और दिव्यांगों को दी जाने वाली सभी पेंशन शामिल रहेंगे

आप सभी को या बता दे कि इस योजना के अंतर्गत जो भी बुजुर्ग दिव्या विधवा है उन सभी को दो किस्त तो में 3 महीने आज से 1000 उसे दिए जाएंगे और इससे 3 करोड़ लोगों का लाभ दिया जाएगा

प्रधानमंत्री जनधन योजना के अंतर्गत हमारे देश के जो महिला है उनको जनधन खाता धारकों को 3 महीने तक ₹500 प्रति माह की राशि दी जाएगी इससे लगभग 20 महिलाओं को लाभ दिया जाएगा

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के लिए पंजीकरण कैसे करें

हम आपको यह बता दे कि देश के जो गरीब लोग हैं इस योजना के अंतर्गत सब्सिडी पर राशन सरकार के द्वारा ले रहे हैं या लेना चाहते हैं तो उन्हें नीचे दिए गए दिशा निर्देश को पाना होगा प्रधानमंत्री राशन सब्सिडी योजना के अंतर्गत लाभ करने के लिए उनको कोई पंजीकरण की प्रक्रिया नहीं है देश के जो इच्छुक लाभार्थी प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत ₹2 प्रति किलो की दर से गेहूं और ₹3 प्रति किलो की दर से आते हैं तो अपने राशन की दुकान पर जाकर इस योजना के अंतर्गत लाभ उठा सकते हैं और अपना जीवन को बिता सकें

NOTE : ऐसे ही और जानकारी के लिए हमारे आर्टिकल को पढ़ते रहें। और कैसा लगा ये आर्टिकल आपको मुझे अपनी राय कमेंट में जरुर बताये…pradhanmantri Garib Kalyan Yojana,pradhanmantri Garib Kalyan Yojana,pradhanmantri Garib Kalyan Yojana, pm garib kalyan yojana, pm garib kalyan yojana, pm garib kalyan yojana, pm garib kalyan yojana, pm garib kalyan yojana

 

✔️ गरीब कल्याण योजना की शुरुआत कब हुई?

इसकी शुरुआत 2016 में हुई। इसके लिए सरकार ने 31 मार्च 2017 तक का समय दिया था। साथ ही इस योजना के तहत सिर्फ एक बार ही पैसा जमा किया जा सकता है।

✔️ गरीब कल्याण योजना का लाभ कैसे मिलेगा?

मोदी सरकार द्वारा कोरोना वाइरस की लहर के भयंकर प्रकोप को देखते हुए, पी एम गरीब कल्याण अन्न योजना को 2021 के लिए पुनः शुरू किया गया है। इस योजना के तहत मई व जून माह के लिए एक निश्चित मात्रा में अन्न वितरण किया जाता है। सरकार द्वारा घोषणा की गयी की मई और जून माह में 80 करोड़ परिवारों को 5-5 किलो गेहू व चावल देगी।

✔️ प्रधानमंत्री जन कल्याण योजना क्या है?

इस योजना का नाम प्रधानमंत्री जन कल्याण योजना है इसके माध्यम से जन सुविधा केंद्र खोले जायेंगे , जिसके अंतर्गत कम दामों में किराना सामान व राशन कर का उपलब्ध कराया जायेगा। इस योजना का उद्देश्य यह है कि जो गरीब परिवार होते हैं उन्हें कम दामों में अच्छा सामान मिल सके जिससे उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार किया जा सके।

Leave a Comment