ज्वाइन करे टेलीग्राम ग्रुप

मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना, ऑनलाइन आवेदन, रजिस्ट्रेशन फॉर्म?

| Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana ,  मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना , Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha |

Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha 2022: मैं आपको बता दूं कि समय पर हमारी जितनी भी पूरी दुनिया है उन सभी में सड़क दुर्घटना के कारण बहुत ज्यादा मृत्यु हो जाती है और मृत्यु हो जाने वाले जो भी लोग हैं उन सभी की संख्या भारत में सबसे ज्यादा है और इसका मुख्य कारण यह है कि दुर्घटनाग्रस्त कि सही समय पर अस्पताल ना हो जाना और अस्पताल ले जाने के कारण उन सभी दुर्घटना स्थल पर जितने भी लोगों को मिलती होती है वह वही मर जाते हैं और अस्पताल ना होने के कारण इस बिंदु का ध्यान में रखते हुए और इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए हमारे राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ने अपने राज्य में मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना की आरंभ किया है |

ज्वाइन करे टेलीग्राम ग्रुप

जैसा कि आप जानते हैं कि सरकार के द्वारा बहुत से ऐसे योजनाओं का संचालन करता है और ऐसे ही सरकार ने सड़क दुर्घटना के कारण जितने भी लोगों को अस्पताल ले जाने परेशानी होती है उन सभी को देखते हुए हमारे राजस्थान के मुख्यमंत्री जीवन रक्षा योजना को आरंभ किया है और इस योजना के अंतर्गत जितने भी घायल हुए व्यक्तियों सभी को अस्पताल पहुंचाने वाले सम्मान रूप में ₹5000 का इनाम रखा गया और उसके साथ पत्र दिया जाएगा।

Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana Apply मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना

सड़क दुर्घटना के कारण मृत्यु को रोका जा सकता है ?

आपको बता दें कि इस योजना की सबसे विशेषता यह है कि देश के किसी भी राज्य के नागरिक राजस्थान में सड़क हादसे मगर वह घायल हो जाते तो वह नागरिक को अस्पताल पहुंचाया जाता है और पहुंचाने वाले को इस योजना के अंतर्गत इनाम की राशि दी जाती है और वही नाम के राशि के हकदार होते हैं Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana 2022 और इससे जुड़ी सारा जानकारी के लिए आप हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पड़े जिससे आपको भी इस योजना का उद्देश्य क्या है इसका लाभ क्या है इसकी विशेषताएं क्या है इसमें इनाम राशि प्राप्त करने के लिए आप कैसे आवेदन की प्रक्रिया करेंगे यह सभी आपको हम अपने इस आर्टिकल के जरिए बताने वाले हैं तो आप कृपया कर आप हमारे इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पड़े जिससे आप भी मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना 2022 के अंतर्गत आवेदन करने में सक्षम हो सकते हैं।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना क्या है?

 आपको बता दें कि हमारे राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत जी ने 16 सितंबर को मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना को आरंभ किया गया था और इस योजना के अंतर्गत राजस्थान में जितने भी सड़क हादसे होते हैं और सड़क हादसे में जितने भी लोग घायल होते हैं उन सभी लोगों को जो लोग अस्पताल पहुंचाते हैं उन्हें सम्मान के रूप में उन्हें सम्मान राशि दी जाती है जो ₹5000 से उनका इनाम को प्रोत्साहित किया जाता है और एक सशस्त्र पत्र भी उनको दिया जाता है इसके अलावा बता दे कि घायल व्यक्तियों को अस्पताल जो पहुंच जाएगा उस अस्पताल पहुंचाने वाले व्यक्ति को पुलिस के द्वारा पूछताछ भी नहीं करनी पड़ेगी और प्रदेश सरकार का Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana 2022 को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य यह है कि सड़क हादसे में घायल हुए लोगों को जल्द से जल्द अस्पताल पहुंचाया जा सकता है ताकि उन्हें सही समय पर इलाज मिल सके और उनकी जान बच सके क्योंकि डब्ल्यूएचओ की रिपोर्ट के मुताबिक यदि सड़क दुर्घटना में घायल होने वाले व्यक्तियों को सही समय पर इलाज करा दिया जाता है तो 50% सड़क दुर्घटना से होने वाली मौतों को बचाया जा सकता है।

Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana key highlights

🔥 योजना का नाम 🔥 मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना
🔥 शुरू की गई 🔥 सीएम अशोक गहलोत जी के द्वारा
🔥 आरंभ तिथि 🔥 16 सितंबर
🔥 लाभार्थी 🔥 सड़क दुर्घटनाग्रस्त घायल को अस्पताल पहुंचाने वाले लोग
🔥 उद्देश्य 🔥 सड़क दुर्घटनाग्रस्त घायल को जल्द से जल्द अस्पताल पहुंचाया जा सके
🔥 साल 🔥 2022
🔥 राज्य 🔥 राजस्थान
🔥 योजना श्रेणी 🔥 राज्य सरकारी योजना
🔥 इनाम राशि 🔥 ₹5000 और प्रशस्ति पत्र
🔥 आवेदन प्रक्रिया 🔥 ऑफलाइन
🔥 इनाम प्राप्त करने हेतु संपर्क करे 🔥 कैजुअल्टी मेडिकल ऑफिस

Chiranjeevi Jeevan raksha Yojana पुरस्कार प्राप्त करने वाले कैजुअल चीफ मेडिकल ऑफिसर से करना होता है संपर्क

यदि राजस्थान में कोई व्यक्ति अगर सड़क दुर्घटना के कारण घायल हो जाते हैं जो व्यक्ति को अगर अस्पताल लेकर कोई अगर जाता है और उसका इलाज करवाता है तो उस व्यक्ति को मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना के अंतर्गत पुरस्कार की राशि दी जाएगी और इसके लिए इस बात की पूरी जानकारी के जोलिटी मेडिकल ऑफिसर को देनी होगी सीएमओ द्वारा व्यक्ति का नाम सही पता मोबाइल नंबर और बैंक डिटेल्स प्राप्त की जाएगी सभी जानकारी प्राप्त करने के बाद इस बात की पुष्टि की जाती है कि घायल व्यक्ति को किस अस्पताल लाया जाए और उसकी हालत गंभीर है या नहीं उसे इलाज मिला या नहीं का राशि का प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया जाएगा।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना का उद्देश्य

हम आपको बता दें कि हमारे देश में अधिकतर देखा गया है कि सड़क दुर्घटना के कारण वहां पर मौजूद लोग दुर्घटना में घायल हुए लोगों को कानूनी कार्रवाई के डर के वजह से अस्पताल ले जाने में डरते हैं और ले जाने में नहीं चाहते हैं और इसी बात को ध्यान में रखते हुए राजस्थान के सरकार के द्वारा अपने राज्य में मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना को आरंभ किया गया है और इस योजना के अंतर्गत जितने भी सड़क दुर्घटना के होगा और उनसे घायल सभी लोगों को सही समय पर अस्पताल पहुंचाया जाएगा जो पहुंच आएगा उसको ₹500 की राशि दी जाएगी और प्रशस्ति पत्र देकर उन्हें इनाम के तौर पर दिया जाएगा सरकार के द्वारा दी जाने वाली ₹5000 की राशि उन्हें सम्मानित करते हुए इनाम के रूप में दी जाती है Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana 2022 को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य है कि सड़क दुर्घटना स्थल पर जो भी लोग मौजूद होंगे वह घायल व्यक्तियों को जल्द से जल्द वहां पर से मौजूद व्यक्ति उसको समय पर अस्पताल पहुंचा सके।

Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana 2022 के लाभ

  • मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना का लाभ उन व्यक्तियों को मिलेगा जो राजस्थान के सड़क दुर्घटना में घायल होने वाले व्यक्तियों का अस्पताल पहुंचाएंगे।
  • अब राजस्थान में सड़क दुर्घटना के समय घायलों को अस्पताल तक पहुंचाने वाले को किसी भी कानूनी कार्रवाई की सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • दुर्घटनाग्रस्त व्यक्तियों को जल्द से जल्द अस्पताल ले जाया जा सकेगा जिससे कि उन्हें सही समय पर उपचार मिल सकेगा और उनकी जान बच सकेगी।
  • Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana 2022 के माध्यम सड़क हादसे में घायल होने वाले व्यक्तियों का अस्पताल तक पहुंचने पर ₹5000 का इनाम राशि और एक सर्टिफिकेट भी दिया जाएगा।
  • एंबुलेंस पुलिस और पीसीआर वैन और ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों को इस योजना का लाभ नहीं मिलता है।
  • यह योजना राज्य में सड़क दुर्घटना के कारण बढ़ती हुई मृत्यु दर को भी काम करने में बहुत ज्यादा मदद करेगी।

Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana की विशेषताएं

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत जी ने 6 सितंबर 2021 को मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना को आरंभ किया था।
इस योजना के माध्यम से राज्य के सड़क हादसे में घायल हुए लोगों को सहायता करने वालों को पुरस्कार राशि भी दिया जाता है।
इस योजना की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि जैसे किसी भी राज्य का नागरिक राजस्थान में सड़क हादसे में घायल हुए नागरिक को अस्पताल पहुंचाया जाता है और वह इस योजना के तहत नहीं नाम की राशि को प्राप्त कर सकता है उसके हकदार भी है।
राजस्थान की राज्य में अगर सड़क दुर्घटना में होने वाला वहां मौजूद अगर कोई भी नागरिक की बिना किसी कानूनी डर के घायलों को बेफिक्र होकर अस्पताल पहुंचा सकते हैं।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना 2022 के अंतर्गत पात्रता

  • देश के किसी भी आज का नागरिक राजस्थान में सड़क हादसे में घायल हुए नागरिक को अस्पताल पहुंचाता है वह इस योजना के अंतर्गत इनाम राशि प्राप्त होने के पात्र है।
  • सरकारी प्राइवेट एंबुलेंस पुलिस की पीसीआर वैन और ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों इस योजना का लाभ उठाने के पात्र नहीं है।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना 2022 के अंतर्गत आवेदन कैसे करें?

  • सबसे पहले आपको सड़क दुर्घटना में घायल हुए व्यक्ति को अस्पताल पहुंचाने के बाद इससे संबंधित अस्पताल में तैनात के जोलिटी मेडिकल ऑफिसर को अपनी पूरी जानकारी दर्ज करवानी होगी।
  • आपको अपना नाम पता मोबाइल नंबर एवं बैंक डिटेल दर्ज करनी होगी और
  • यह सभी जानकारी दर्ज करना बहुत जरूरी है।
    आप सभी जानकारी दर्ज करने के बाद सीएमओ अस्पताल में लाए हुए घायल व्यक्ति के इलाज के अनुसार एक रिपोर्ट तैयार करेंगे कि
  • व्यक्ति को जब अस्पताल लाया गया उसकी हालत कितनी गंभीर थी उसे तुरंत इलाज मिला या नहीं और उसकी अब तक क्या स्थिति है इत्यादि।
  • सीएमओ द्वारा तैयार की गई रिपोर्ट डायरेक्ट पब्लिक हेल्थ के पास भेजी जाएगी।
  • अगर आपका द्वारा किया गया क्लेम सही पाया जाता है तो आपको ₹5000 की पुरस्कार राशि और प्रशस्ति पत्र दिया जाएगा।
  • पुरस्कार राशि के लिए अप्रूव होने के 2 दिन के अंदर लाभार्थी के बैंक खाते में हस्तांतरित की जाती है एवं प्रशस्ति पत्र पत्र लाभार्थियों के पते पर स्पीड पोस्ट के माध्यम से भेजा जाता है।

ध्यान दें :- ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम सबसे पहले अपने इस वेबसाइट sarkariyojnaa.com के माध्यम से देते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…

Posted by Amar Gupta

🔥🔥 Join Our Group For All Information And Update, Also Follow me For Latest Information🔥🔥

🔥 Follow US On Google News Click Here
🔥 Whatsapp Group Join Now Click Here
🔥 Facebook Page Click Here
🔥 Instagram Click Here
🔥 Telegram Channel Techgupta Click Here
🔥 Telegram Channel Sarkari Yojana Click Here
🔥 Twitter Click Here
🔥 Website  Click Here

FAQ मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना 2022

✔️ मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना क्या है?

 आपको बता दें कि हमारे राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत जी ने 16 सितंबर को मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना को आरंभ किया गया था और इस योजना के अंतर्गत राजस्थान में जितने भी सड़क हादसे होते हैं और सड़क हादसे में जितने भी लोग घायल होते हैं उन सभी लोगों को जो लोग अस्पताल पहुंचाते हैं उन्हें सम्मान के रूप में उन्हें सम्मान राशि दी जाती है जो ₹5000 से उनका इनाम को प्रोत्साहित किया जाता है और एक सशस्त्र पत्र भी उनको दिया जाता है इसके अलावा बता दे कि घायल व्यक्तियों को अस्पताल जो पहुंच जाएगा उस अस्पताल पहुंचाने वाले व्यक्ति को पुलिस के द्वारा पूछताछ भी नहीं करनी पड़ेगी और प्रदेश सरकार का mukhymantri chirenjivi jivan raksha Yojana 2022 को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य यह है कि सड़क हादसे में घायल हुए लोगों को जल्द से जल्द अस्पताल पहुंचाया जा सकता है ताकि उन्हें सही समय पर इलाज मिल सके और उनकी जान बच सके क्योंकि डब्ल्यूएचओ की रिपोर्ट के मुताबिक यदि सड़क दुर्घटना में घायल होने वाले व्यक्तियों को सही समय पर इलाज करा दिया जाता है तो 50% सड़क दुर्घटना से होने वाली मौतों को बचाया जा सकता है।

ज्वाइन करे टेलीग्राम ग्रुप

✔️ मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना का उद्देश्य क्या है ?

हम आपको बता दें कि हमारे देश में अधिकतर देखा गया है कि सड़क दुर्घटना के कारण वहां पर मौजूद लोग दुर्घटना में घायल हुए लोगों को कानूनी कार्रवाई के डर के वजह से अस्पताल ले जाने में डरते हैं और ले जाने में नहीं चाहते हैं और इसी बात को ध्यान में रखते हुए राजस्थान के सरकार के द्वारा अपने राज्य में मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना को आरंभ किया गया है और इस योजना के अंतर्गत जितने भी सड़क दुर्घटना के होगा और उनसे घायल सभी लोगों को सही समय पर अस्पताल पहुंचाया जाएगा जो पहुंच आएगा उसको ₹500 की राशि दी जाएगी और प्रशस्ति पत्र देकर उन्हें इनाम के तौर पर दिया जाएगा सरकार के द्वारा दी जाने वाली ₹5000 की राशि उन्हें सम्मानित करते हुए इनाम के रूप में दी जाती है mukhymantri chirenjivi jivan raksha Yojana 2022 को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य है कि सड़क दुर्घटना स्थल पर जो भी लोग मौजूद होंगे वह घायल व्यक्तियों को जल्द से जल्द वहां पर से मौजूद व्यक्ति उसको समय पर अस्पताल पहुंचा सके।

✔️ mukhymantri chirenjivi jivan raksha Yojana की विशेषताएं क्या है ?

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत जी ने 6 सितंबर 2021 को मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना को आरंभ किया था। इस योजना के माध्यम से राज्य के सड़क हादसे में घायल हुए लोगों को सहायता करने वालों को पुरस्कार राशि भी दिया जाता है। इस योजना की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि जैसे किसी भी राज्य का नागरिक राजस्थान में सड़क हादसे में घायल हुए नागरिक को अस्पताल पहुंचाया जाता है और वह इस योजना के तहत नहीं नाम की राशि को प्राप्त कर सकता है उसके हकदार भी है। राजस्थान की राज्य में अगर सड़क दुर्घटना में होने वाला वहां मौजूद अगर कोई भी नागरिक की बिना किसी कानूनी डर के घायलों को बेफिक्र होकर अस्पताल पहुंचा सकते हैं।

✔️ mukhymantri chirenjivi jivan raksha Yojana 2022 के लाभ क्या है ?

मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना का लाभ उन व्यक्तियों को मिलेगा जो राजस्थान के सड़क दुर्घटना में घायल होने वाले व्यक्तियों का अस्पताल पहुंचाएंगे। अब राजस्थान में सड़क दुर्घटना के समय घायलों को अस्पताल तक पहुंचाने वाले को किसी भी कानूनी कार्रवाई की सामना नहीं करना पड़ेगा। दुर्घटनाग्रस्त व्यक्तियों को जल्द से जल्द अस्पताल ले जाया जा सकेगा जिससे कि उन्हें सही समय पर उपचार मिल सकेगा और उनकी जान बच सकेगी।mukhymantri chirenjivi jivan raksha Yojana 2022 के माध्यम सड़क हादसे में घायल होने वाले व्यक्तियों का अस्पताल तक पहुंचने पर ₹5000 का इनाम राशि और एक सर्टिफिकेट भी दिया जाएगा।
एंबुलेंस पुलिस और पीसीआर वैन और ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों को इस योजना का लाभ नहीं मिलता है।
यह योजना राज्य में सड़क दुर्घटना के कारण बढ़ती हुई मृत्यु दर को भी काम करने में बहुत ज्यादा मदद करेगी।

Leave a Comment