ज्वाइन करे टेलीग्राम ग्रुप

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana 2022 – ऑनलाइन आवेदन करें?

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana (फसल बीमा योजना बिहार) : नमस्कार दोस्तों स्वागत करता हूं मै अपने इस आर्टिकल में जैसा कि मैं आपको बता दूं कि प्राकृतिक आपदाओं के कारण किसानों को कई बार ऐसा होता है कि उनकी फसल का नुकसान हो जाता है और इसी वजह से राज्य के किसान को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ता है जिससे कि वह सही से खेती नहीं कर पाते इन सभी समस्याओं को समाधान करने के लिए बिहार सरकार के द्वारा Bihar Rajya Fasal Sahayata Scheme (बिहार राज्य फसल सहायता योजना) को आरंभ कर दिया गया है आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के अंतर्गत Fasal Bima Yojana 2022 से जुड़ी सारी जानकारी बताने जा रहे हैं जैसे कि बिहार राज्य फसल सहायता योजना क्या है, इसके लाभ क्या है, इसका उद्देश्य क्या है, इसके विशेषताएं तथा इसके पात्रता आवेदन करने के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज किया लगेगा आवेदन करने की प्रक्रिया क्या है यह सभी जानकारी आप सभी को हम अपने इस आर्टिकल में बताने जा रहे हैं तो आप सभी से यह निवेदन करते हैं कि आप कृपया कर हमारे इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें जिससे आप भी Bihar Rajya Fasal Sahayata Scheme (बिहार राज्य फसल सहायता योजना) के अंतर्गत आवेदन कर इसका लाभ उठा सकें।

,बिहार फसल सहायता योजना, बिहार राज्य फसल सहायता योजना ,Bihar Rajya Fasal Sahayata ,Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana 2022 ,fasal bima yojana 2022 ,fasal bima yojana bihar ,फसल बीमा योजना बिहार ,फसल बीमा योजना बिहार ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन ,Bihar Fasal Sahayata Scheme ,bihar fasal sahayata scheme 2022

इस पोस्ट में क्या है ?

Bihar fasal Bima Yojana-बिहार राज्य फसल सहायता योजना

Bihar Fasal Bima Yojana (फसल बीमा योजना बिहार) के अंतर्गत बिहार में खेती करने वाले सभी किसानों की फसल प्राकृतिक आपदाएं या किसी भी तरह की आपदा इसे खराब या बर्बाद हो जाती है जैसे कि बाढ़ के कारण सूखा पड़ जाने के कारण इत्यादि सभी कारण अगर उनका फसल नुकसान हो जाता है तो ऐसी स्थिति में सरकार के द्वारा उन्हें आर्थिक सहायता दिया जाता है बिहार राज्य फसल सहायता योजना के अंतर्गत किसानों की फसल की वास्तविक उत्पादन में से 20% तक का नुकसान होने पर प्रति हेक्टर ₹7500 रुपया दिया जाएगा और यदि नुकसान का 20% से अधिक हो जाता है तो इस अवस्था में उन सभी को प्रति हेक्टेयर ₹10000 दिए जाएंगे इस योजना के अंतर्गत दी जाने वाली जो धनराशि होगी वह सीधे उनके किसान के बैंक अकाउंट में पहुंचा दिया जाएगा। Bihar Fasal Sahayata Yojana (फसल बीमा योजना बिहार) के तहत आवेदन करने के लिए किसानों का बैंक अकाउंट होना अनिवार्य है जो कि आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।

Bihar fasal Bima Yojana के अंतर्गत 226 करोड़ रुपए की राशि का किया जाएगा भुगतान

बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी के द्वारा प्रदेश के 70000 किसानों के खाते में 13 सितंबर को Bihar Rajya Fasal Sahayata Scheme (बिहार राज्य फसल सहायता योजना) के अंतर्गत उन को आर्थिक सहायता के लिए राशि भेज दिया जाएगा और वह सभी किसान जो रबी फसल में उत्पादन के नुकसान उठाया है उनको Bihar fasal Bima Yojana (फसल बीमा योजना बिहार) के अंतर्गत राहत मिलेगी और वह किसान जो 2020 से 21 में फसल पर नुकसान उठाया है उन सभी को बिहार सरकार के द्वारा सहकारी विभाग के द्वारा नुकसान की भरपाई की प्रक्रिया आरंभ कर दी गई है और इस बार सरकार के द्वारा रहे और 11 दोनों तरह के पात्र किसानों को फसल बीमा योजना बिहार का लाभ दिया जाएगा प्रदेश के सभी किसानों को लगभग इस योजना के अंतर्गत 226 करोड रुपए की धनराशि दिया जाएगा जिससे कि उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार लाया जा सके सरकार के द्वारा अब तक 218 करोड़ 40 लाख का भुगतान किया जा चुका है और यह राशि पिछले वर्ष खरीफ मौसम में हुए नुकसान की भरपाई के लिए किसानों को दी जा रही है।

रबी फसल की सहायता राशि का किया जाएगा जल्द से जल्द भुगतान

आपको बता देगी इसके अलावा रवि की सहायता राशि के रूप में बिहार में अब तक 447070 किसानों को लाभ की राशि दी जा चुकी है खरीफ मौसम के लिए प्रदेश के 34 जिलों का चयन बिहार राज्य फसल सहायता योजना के तहत किया गया है इन सभी जिलों में 1630228 किसानों ने अभी तक पंजीकृत किया था लेकिन अब जांच के उपरांत या संख्या में कमी हो गई है केवल जांच के बाद पात्र पाए जाने वाले सभी किसानों को लाभ की राशि दिया जाएगा और बचे हुए किसानों को भी एक-दो दिन में नाम की राशि दे दी जाएगी इसके अलावा रबी फसल की सहायता राशि के लिए 70000 किसान जांच के पात्र पाए गए हैं।
इन सभी किसानों को 30 करोड़ की राशि दी जाएगी और सभी किसानों की जांच एवं भुगतान की प्रक्रिया जल्दी शुरू कर दी जाएगी। इस योजना के अंतर्गत फसल की 1% से 20% तक की छाती होने पर सभी किसानों को प्रति हेक्टेयर ₹7000 की सहायता राशि सभी किसानों को दी जाती है यदि 36% से अधिक होती है तो इस स्थिति में उनको यह राशि ₹10000 प्रति हेक्टर दी जाती है और यह अधिकतम 2 हेक्टेयर तक के लिए इस योजना का लाभ जिया जा सकता है।

Bihar fasal Bima Yojana in highlights

🔥 योजना का नाम 🔥 बिहार राज्य फसल सहायता योजना
🔥 विभाग 🔥 सहकारिता विभाग
🔥 लाभार्थी 🔥 राज्य के किसान
🔥 ऑनलाइन आवेदन की आरंभ तिथि 🔥 आरंभ है
🔥 ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि  🔥 कोई नहीं
🔥 उद्देश्य 🔥 फसलों में हुआ नुकसान से बचाने के लिए किसान की आत्मनिर्भरता बढ़ाने की लिए राज्य में खेती को बढ़ाबा देने की लिए
🔥 सहायता राशि 🔥 7500 से 10,000
🔥 योजना का प्रकार 🔥 राज्य सरकार की योजना
🔥 आधिकारिक वेबसाइट       🔥 Click Here

खरीफ मौसम के लिए आरंभ हुई आवेदन की प्रक्रिया

बिहार फसल सहायता योजना की अंतर्गत खेती करने वाले सभी किसानों को किसी प्रकृतिक कारण कि वजह से उनकी फसल का नुकसान हो गया है और उनको इसका सामना करना पड़ता है तो उनको सरकार के द्वारा मुआवजा दिया जाएगा इस योजना  के अंतर्गत खरीफ मौसम के लिए कृषि विभाग एवं सहकार विभाग के द्वारा तैयारी शुरू कर दी गई है और सभी किसानों को मुआवजा दिया जा रहा है सरकार के द्वारा आवेदन से लेकर भुगतान की तिथि निर्धारित कर दी गई है वह सभी किसान जो खरीफ फसल के लिए Fasal Bima Yojana 2022 का लाभ उठा सकते हैं व कृषि विभाग में निबंधित किसान सहकारी विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर 31 जुलाई 2021 तक आवेदन कर सकते हैं Bihar Fasal Bima Yojana के तहत फसल कटनी का प्रयोग 28 फरवरी 2022 का होगा इस फसल के माध्यम से यह तय किया जाएगा कि राज्य के किन किन जिलों के किन-किन प्रखंडों की पंचायतों के खरीफ फसल का उत्पादन हुआ है और इस रिपोर्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध करवाया जाएगा जिससे कि सभी लोग इस रिपोर्ट को देख सकते हैं और इस रिपोर्ट के माध्यम से यह तय कर सकते हैं कि कि किसानों का कितना मुआवजा दिया जाएगा।

फसल सहायता योजना के लिए आरंभ हुए निबंधन

Bihar Rajya Fasal Sahayata Scheme के तहत 2020 से किसकी रबी फसल के लिए यह बंधन को शुरू कर दिया गया है 3 दिसंबर 2020 को सहकारिता विभाग ने निबंधन करवाने की अधिसूचना को जारी कर दिया है इस योजना के अंतर्गत किसानों को किसी प्रकार को प्रीमियम का भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है फसल के नुकसान की भरपाई सरकार के द्वारा किया जाएगा वह सभी किसान जो Fasal Bima Yojana 2022 का लाभ उठाना चाहते हैं उन्हें आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा और यह निबंधन गेहूं मक्का चना मसूर अरहर आईसर एक प्याज आलू की फसल नुकसान की भरपाई के लिए अलग अलग अलग तरीके से Fasal Bima Yojana(फसल बीमा योजना बिहार) का लाभ उठाना चाहते हैं उन्हें अंतिम तिथि से पहले आवेदन करना होगा।

इन फसलों की जाएगी भरपाई

  • गेहूं तथा मक्का को राज्य के 38 जिलों में पंचायत स्तरीय किया गया है। इसके अलावा चना, मसूर, अरहर, राई, सरसों, ईख, प्याज एवं आलू को जिला स्तर पर अधिसूचित किया गया है।
  • यदि चने की फसल का नुकसान होता है तो राज्य के 17 जिलों को भरपाई की जाएगी, मसूर की फसल पर नुकसान होता है तो 35 जिलों को भरपाई की जाएगी,
  • अरहर की फसल का नुकसान होता है तो 22 जिलों को भरपाई की जाएगी, ईख की फसल को नुकसान होता तो 16 जिलों को भरपाई की जाएगी| 
  • राई तथा सरसों की फसल के लिए राज्य के सभी जिलों को भरपाई की जाएगी, प्याज की फसल का नुकसान होता है तो 14 जिलों को भरपाई की जाएगी तथा आलू की फसल पर नुकसान होता है तो 15 जिलों को भरपाई की जाएगी।
  • बिहार राज्य फसल सहायता योजना (Scheme) के अंतर्गत यदि नुकसान 20% से कम होता है तो छतिपूर्ति दर ₹7500 रुपए प्रति हेक्टेयर है।
  • प्रत्येक किसान अधिकतम 2 हेक्टेयर के लिए Fasal Bima Yojana 2022 का लाभ उठा सकता है। यदि 20 फ़ीसदी से ज्यादा नुकसान होता है तो ₹10000 प्रति हेक्टेयर की दर से भरपाई की जाती है।

Bihar Fasal Bima Yojana 2022 एप्लिकेशन फॉर्म

Bihar Fasal Sahayata Scheme के अंतर्गत राज्य के किसानो को फसलों के बर्बाद होने पर मिलने वाली धनराशि के लिए किसी भी तरह का प्रीमियम नहीं भरना होगा | बिहार राज्य में अधिकतर लोग किसानी करते है राज्य में धान की फसल से लेकर तिलहन की तक की खेती बड़ी मात्रा में होती है | Bihar Fasal Bima Yojana 2022 के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के लिए किसानो को खरीब की फसल तथा रबी की फसल के मौसम में ऑनलाइन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करना होगा | जो इच्छुक लाभार्थी बिहार किसान फसल सहायता योजना (फसल बीमा योजना बिहार) के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आप आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। फसल बीमा योजना बिहार ऑनलाइन आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया हमने आपको अपने इस लेख में बताई है।

Bihar rajya fasal sahayata Yojana(Scheme) 2022 का उद्देश्य

बिहार राज्य फसल सहायता योजना का उद्देश्य है कि बिहार के जितने भी किसान जिनकी फसल बाढ़ या सूखा पड़ जाने के कारण या किसी भी प्रकृतिक आपदा उसे अगर उनके फसल का नुकसान होता है तो उसके लिए राज्य सरकार के द्वारा सभी किसानों को आर्थिक सहायता दिया जाता है और आगे भविष्य में अच्छी से खेती करने के लिए उनको प्रोत्साहित भी किया जाता है मौसम की मोड़ से फसलों के नुकसान का सामना करने वाले लाखों किसानों को Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana 2022 के तहत उन लाखों किसानों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा और किसानों को आत्मनिर्भर और सशक्त बनाने के लिए सरकार के द्वारा प्रयास किया जा रहा है इस उद्देश्य को पूरा करने के लिए राज्य सरकार ने इस योजना को आरंभ किया है।

फसल निबंधन की अंतिम तिथि

🔥 फसल का नाम 🔥 निबंधन की अंतिम तिथि
🔥 गेहूं 🔥 26 फरवरी
🔥 मक्का 🔥 26 फरवरी
🔥 चना 🔥 31 जनवरी
🔥 मसूर 🔥 15 फरवरी
🔥 अरहर 🔥 28 मार्च
🔥 ईख 🔥 28 फरवरी
🔥 प्याज़ 🔥 15 फरवरी
🔥 आलू 🔥 31 जनवरी
🔥 राई – सरसो 🔥 31 दिसंबर

Bihar fasal Bima Yojana हेतु प्राप्त हुए कुल आवेदन

राज्य के जो भी इच्छुक लाभार्थी Fasal Bima Yojana 2022 का लाभ उठाना चाहता है वह इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं।

  • फसल सहायता योजना (फसल बीमा योजना बिहार) हेतु अब तक कुल प्राप्त आवेदन 810070 (खरीफ-19),1150527 (खरीफ-18)
    गेहूं अधिप्राप्ति हेतु कुल आवेदन 7479 प्राप्त हुए हैं।
  • बिहार राज्य फसल सहायता योजना रबी 2018-19 हेतु प्राप्त कुल आवेदन 1754350 प्राप्त हुए हैं।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना की विशेषताएं

  • Bihar Fasal Sahayata Scheme को बिहार सरकार के द्वारा बिहार के किसानों के लिए स्कोर आरंभ किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से किसानों को फसल बीमा का लाभ दिया जाएगा।
  • यदि किसी प्राकृतिक आपदा जैसे की बाढ़, सूखा या किसी प्रकृतिक आपदा इत्यादि के कारण फसल की बर्बादी हो जाती है तो किसानों को इस योजना के तहत आर्थिक सहायता दिया जाता है।
  • इस योजना के अंतर्गत किसानों को ₹7500 प्रति हेक्टेयर से 20% तक का नुकसान होने पर दिया जाएगा।
  • ₹10000 प्रति हेक्टर 20% से अधिक की फसल नुकसान होने के कारण किसानों की आर्थिक स्थिति के लिए दिया जाएगा।
  • यदि आप धान मक्का इत्यादि की खेती करते हैं तो आप जल्द से जल्द ऑनलाइन आवेदन करके इसका लाभ उठा ले।
  • ऑनलाइन आवेदन करवाने की प्रक्रिया 18 मई 2021 से आरंभ हो रही है।
  • फसल बीमा योजना बिहार की ऑनलाइन आवेदन 31 जुलाई 2021 तक चलेगी।

Bihar fasal Bima Yojana (फसल बीमा योजना बिहार) के लाभ

  • फसल बीमा योजना बिहार का लाभ राज्य के उन किसानों को दिया जाएगा जिन की फसलों को प्राकृतिक आपदा या किसी मौसम की परिस्थिति के कारण उनकी फसल को नुकसान पहुंचा है।
  • बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2022 के तहत राज्य के सभी किसानों की फसलों की वास्तविक उपाधि दर में 20% तक का नुकसान होने पर प्रति हेक्टेयर की दर से ₹7500 की धनराशि सरकार के द्वारा दी जाएगी।
  • बिहार राज्य के किसानों की फसल की वास्तविक उपज में 20% से अधिक नुकसान होने पर प्रति हेक्टेयर की दर से ₹10000 तक की धनराशि दी जाएगी।
  • राज्य सरकार के द्वारा किसानों की फसलों को मौसम बाज या सुखार होने के कारण उनके फसल के नुकसान की भरपाई के लिए सहायता धनराशि सभी लाभार्थी के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर किया जाएगा। इसके लिए आवेदक का बैंक अकाउंट होना चाहिए जो कि आधार कार्ड से लिंक हो।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2022 के आवश्यक दस्तावेज

  • आवेदन करने वाला लाभार्थी बिहार राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • फसल बीमा योजना बिहार (Bihar Fasal Sahayata Scheme) के अंतर्गत वही किसान आवेदन कर सकता है जिनकी फसल हो प्राकृतिक आपदा या मौसम के किसी कारण से बर्बाद हुई हो।
  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक की पासबुक
  • बैंक का विवरण
  • खेती कर रहे जमीन के कागजात
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Bihar fasal Bima Yojana (Scheme) के निर्देश

  • फोटो (50 KB से कम होनी चाहिए)
  • पहचान पत्र भारत निर्वाचन आयोग द्वारा मान्यता प्राप्त (400 KB से कम होनी चाहिए और पीडीएफ के रूप में होनी चाहिए।)
  • बैंक की पासबुक के पहले पृष्ठ की प्राप्ति (400 KB से कम होनी चाहिए तथा पीडीएफ रूप में होना चाहिए)।
  • आवासीय प्रमाण पत्र (400 KB) से कम होनी चाहिए तथा पीडीएफ प्रारूप होनी चाहिए)

बिहार राज्य फसल सहायता योजना (Bihar Fasal Sahayata Scheme) 2022 के लिए आवेदन कैसे करें

Bihar Fasal Bima Yojana के तहत जो इच्छुक लाभार्थी ऑनलाइन आवेदन करना चाहता है वह लाभार्थी नीचे दिए गए तरीकों को जो हम दे रहे हैं उसको स्टेप बाय स्टेप फॉलो करके आवेदन कर सकते हैं और इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

,बिहार फसल सहायता योजना, बिहार राज्य फसल सहायता योजना ,Bihar Rajya Fasal Sahayata ,Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana 2022 ,fasal bima yojana 2022 ,fasal bima yojana bihar ,फसल बीमा योजना बिहार ,फसल बीमा योजना बिहार ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन ,Bihar Fasal Sahayata Scheme ,bihar fasal sahayata scheme 2022

  • इसके बाद आपके सामने एक रजिस्ट्रेशन का ऑप्शन दिखाई देगा आपको उस पर क्लिक कर देना होगा और उस विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
    ,बिहार फसल सहायता योजना, बिहार राज्य फसल सहायता योजना ,Bihar Rajya Fasal Sahayata ,Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana 2022 ,fasal bima yojana 2022 ,fasal bima yojana bihar ,फसल बीमा योजना बिहार ,फसल बीमा योजना बिहार ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन ,Bihar Fasal Sahayata Scheme ,bihar fasal sahayata scheme 2022
  • उसके बाद आपको कंप्यूटर स्क्रीन पर एक नया फेस खुलकर आएगा जिसमें आपको आधार है या नहीं उसका ऑप्शन दिखाई देगा अगर आपके पास आधार है तो आधार है के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • आधार कार्ड के है के ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा उस पेज पर आप से आधार नंबर पूछा जाएगा।
  • इसके बाद आप अपना आधार नंबर भर दे और अपना नाम भरना होगा और सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं।

Bihar fasal Bima Yojana पोर्टल पर लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • उसके बाद आपके सामने इसका होमपेज खुलकर आएगा।
  • इसके बाद आपको लॉगइन के ऑप्शन पर जाकर मोबाइल नंबर पासवर्ड तथा कैप्चा कोड को दर्ज करना है।
  • अब आपको लॉगइन के ऑप्शन पर जाकर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार से आप पोर्टल पर आसानी से लॉगइन कर सकते हैं।

ध्यान दें :- ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम सबसे पहले अपने इस वेबसाइट sarkariyojnaa.com के माध्यम से देते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…

Posted by Amar Gupta

🔥🔥 Join Our Group For All Information And Update, Also Follow me For Latest Information🔥🔥

🔥 Follow US On Google News Click Here
🔥 Whatsapp Group Join Now Click Here
🔥 Facebook Page Click Here
🔥 Instagram Click Here
🔥 Telegram Channel Techgupta Click Here
🔥 Telegram Channel Sarkari Yojana Click Here
🔥 Twitter Click Here
🔥 Website  Click Here

FAQ Questions related to Bihar fasal Bima Yojana

✔️ Bihar fasal Bima Yojana-बिहार राज्य फसल सहायता योजना क्या है ?

Bihar fasal Bima Yojana इस योजना के अंतर्गत बिहार में खेती करने वाले सभी किसानों की फसल प्राकृतिक आपदाएं या किसी भी तरह की आपदा इसे खराब या बर्बाद हो जाती है जैसे कि बाढ़ के कारण सूखा पड़ जाने के कारण इत्यादि सभी कारण अगर उनका फसल नुकसान हो जाता है तो ऐसी स्थिति में सरकार के द्वारा उन्हें आर्थिक सहायता दिया जाता है बिहार राज्य फसल सहायता योजना के अंतर्गत किसानों की फसल की वास्तविक उत्पादन में से 20% तक का नुकसान होने पर प्रति हेक्टर ₹7500 रुपया दिया जाएगा और यदि नुकसान का 20% से अधिक हो जाता है तो इस अवस्था में उन सभी को प्रति हेक्टेयर ₹10000 दिए जाएंगे इस योजना के अंतर्गत दी जाने वाली जो धनराशि होगी वह सीधे उनके किसान के बैंक अकाउंट में पहुंचा दिया जाएगा। Bihar fasal sahayata Yojana के तहत आवेदन करने के लिए किसानों का बैंक अकाउंट होना अनिवार्य है जो कि आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।

✔️ Bihar rajya fasal sahayata Yojana 2022 का उद्देश्य क्या है ?

बिहार राज्य फसल सहायता योजना का उद्देश्य है कि बिहार के जितने भी किसान जिनकी फसल बाढ़ या सूखा पड़ जाने के कारण या किसी भी प्रकृतिक आपदा उसे अगर उनके फसल का नुकसान होता है तो उसके लिए राज्य सरकार के द्वारा सभी किसानों को आर्थिक सहायता दिया जाता है और आगे भविष्य में अच्छी से खेती करने के लिए उनको प्रोत्साहित भी किया जाता है मौसम की मोड़ से फसलों के नुकसान का सामना करने वाले लाखों किसानों को Bihar rajya fasal sahayata Yojana 2022 के तहत उन लाखों किसानों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा और किसानों को आत्मनिर्भर और सशक्त बनाने के लिए सरकार के द्वारा प्रयास किया जा रहा है इस उद्देश्य को पूरा करने के लिए राज्य सरकार ने इस योजना को आरंभ किया है।

✔️ Bihar fasal Bima Yojana के लाभ क्या है ?

इस योजना का लाभ राज्य के उन किसानों को दिया जाएगा जिन की फसलों को प्राकृतिक आपदा या किसी मौसम की परिस्थिति के कारण उनकी फसल को नुकसान पहुंचा है।
बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2022 के तहत राज्य के सभी किसानों की फसलों की वास्तविक उपाधि दर में 20% तक का नुकसान होने पर प्रति हेक्टेयर की दर से ₹7500 की धनराशि सरकार के द्वारा दी जाएगी।
बिहार राज्य के किसानों की फसल की वास्तविक उपज में 20% से अधिक नुकसान होने पर प्रति हेक्टेयर की दर से ₹10000 तक की धनराशि दी जाएगी।
राज्य सरकार के द्वारा किसानों की फसलों को मौसम बाज या सुखार होने के कारण उनके फसल के नुकसान की भरपाई के लिए सहायता धनराशि सभी लाभार्थी के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर किया जाएगा। इसके लिए आवेदक का बैंक अकाउंट होना चाहिए जो कि आधार कार्ड से लिंक हो।

✔️ बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2022 के आवश्यक दस्तावेज कौन-कौन लगेगा ?

आधार कार्ड
पहचान पत्र
बैंक की पासबुक
बैंक का विवरण
खेती कर रहे जमीन के कागजात
मोबाइल नंबर
पासपोर्ट साइज फोटो

✔️ बिहार फसल बीमा का पैसा कैसे चेक करें?

फसल बीमा योजना का स्टेटस चेक करने के लिए सबसे पहले आप सरकार की वेबसाइट pmfby.gov.in को ओपन करें। इसके बाद Application Status के विकल्प को चुने। फिर रिसिप्ट नंबर और कैप्चा को डालें। इसके बाद Check Status के विकल्प को चुने।

✔️ फसलों का बीमा कौन करता है?

इस योजना का प्रशासन कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा किया जाएगा। किसानों द्वारा सभी खरीफ फसलों के लिए केवल 2% एवं सभी रबी फसलों के लिए 1.5% का एक समान प्रीमियम का भुगतान किया जाना है।

✔️ फसल बीमा में कितना पैसा मिलता है?

कितना मिलता है क्‍लेम? प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत अलग-अलग फसलों के लिए बीमा राशि अलग-अलग है. कपास की फसल के लिए अधिकतम 36,282 रुपये, धान के लिए फसल के लिए 37,484 रुपये, बाजरा की फसल के लिए 17,639 रुपये, मक्का की फसल के लिए 18,742 रुपये और मूंग की फसल के लिए 16,497 रुपये प्रति एकड़ राशि मिल सकती है|

✔️ खरीफ मौसम के लिए आरंभ हुई कैसे करे आवेदन ?

कृषि विभाग में निबंधित किसान सहकारी विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर 31 जुलाई 2021 तक आवेदन कर सकते हैं Bihar fasal Bima Yojana के तहत फसल कटनी का प्रयोग 28 फरवरी 2022 का होगा इस फसल के माध्यम से यह तय किया जाएगा कि राज्य के किन किन जिलों के किन-किन प्रखंडों की पंचायतों के खरीफ फसल का उत्पादन हुआ है और इस रिपोर्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध करवाया जाएगा जिससे कि सभी लोग इस रिपोर्ट को देख सकते हैं और इस रिपोर्ट के माध्यम से यह तय कर सकते हैं कि कि किसानों का कितना मुआवजा दिया जाएगा।

Leave a Comment