WhatsApp Share Telegram
Advertisements

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2024 एप्लीकेशन फॉर्म ऑनलाइन आवेदन

Ravi Bhushan Ray
21 Min Read

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana :- नमस्कार दोस्तों स्वागत करता हूं या अपने इस आर्टिकल में जैसा कि मैं आपको बता दूं कि प्राकृतिक आपदाओं के कारण किसानों को कई बार ऐसा होता है कि उनकी फसल का नुकसान हो जाता है | इसी वजह से राज्य के किसान को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ता है | जिससे कि वह सही से खेती नहीं कर पाते इन सभी समस्याओं को समाधान करने के लिए बिहार सरकार के द्वारा बिहार राज्य फसल सहायता योजना को आरंभ कर दिया गया है | आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के अंतर्गत इस योजना से जुड़ी सारी जानकारी बताने जा रहे हैं | जैसे कि Bihar Fasal Bima Yojana क्या है इसके लाभ क्या है इसका उद्देश्य क्या है इसके विशेषताएं तथा इसके पात्रता आवेदन करने के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज किया लगेगा आवेदन करने की प्रक्रिया क्या है यह सभी जानकारी आप सभी को हम अपने इस आर्टिकल में बताने जा रहे हैं तो आप सभी से यह निवेदन करते हैं कि आप कृपया कर हमारे इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें जिससे आप भी बिहार राज्य फसल सहायता योजना के अंतर्गत आवेदन कर इसका लाभ उठा सकें।

Advertisements
Contents
Bihar Fasal Bima Yojana-बिहार राज्य फसल सहायता योजनाBihar fasal Bima Yojana के अंतर्गत 226 करोड़ रुपए की राशि का किया जाएगा भुगतानरबी फसल की सहायता राशि का किया जाएगा जल्द से जल्द भुगतानKey Highlights Of Bihar Fasal Bima Yojanaखरीफ मौसम के लिए आरंभ हुई आवेदन की प्रक्रियाफसल सहायता योजना के लिए आरंभ हुए निबंधनइन फसलों की जाएगी भरपाईBihar Fasal Bima Yojana 2024 एप्लिकेशन फॉर्मBihar rajya fasal sahayata Yojana 2024 का उद्देश्यBihar Fasal Bima Yojana हेतु प्राप्त हुए कुल आवेदनबिहार राज्य फसल सहायता योजना की विशेषताएंBihar Fasal Bima Yojana के लाभबिहार राज्य फसल सहायता योजना 2024 के आवश्यक दस्तावेजBihar Fasal Bima Yojana के निर्देशबिहार राज्य फसल सहायता योजना 2024 के लिए आवेदन कैसे करेंBihar Fasal Bima Yojana पोर्टल पर लॉगइन करने की प्रक्रियासारांश (Summary)FAQ Related Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana

Bihar Fasal Bima Yojana-बिहार राज्य फसल सहायता योजना

Bihar Fasal Bima Yojana इस योजना को बिहार में खेती करने वाले सभी किसानों की फसल प्राकृतिक आपदाएं या किसी भी तरह की आपदा इसे खराब या बर्बाद हो जाती है | जैसे कि बाढ़ के कारण सूखा पड़ जाने के कारण इत्यादि सभी कारण अगर उनका फसल नुकसान हो जाता है | तो ऐसी स्थिति में सरकार के द्वारा उन्हें आर्थिक सहायता दिया जाता है | बिहार राज्य फसल सहायता योजना के अंतर्गत किसानों की फसल की वास्तविक उत्पादन में से 20% तक का नुकसान होने पर प्रति हेक्टर ₹7500 रुपया दिया जाएगा | यदि नुकसान का 20% से अधिक हो जाता है तो इस अवस्था में उन सभी को प्रति हेक्टेयर ₹10000 दिए जाएंगे | इस योजना के अंतर्गत दी जाने वाली जो धनराशि होगी वह सीधे उनके किसान के बैंक अकाउंट में पहुंचा दिया जाएगा। Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana के तहत आवेदन करने के लिए किसानों का बैंक अकाउंट होना अनिवार्य है जो कि आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।

Bihar fasal Bima Yojana के अंतर्गत 226 करोड़ रुपए की राशि का किया जाएगा भुगतान

बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी के द्वारा प्रदेश के 70000 किसानों के खाते में 13 सितंबर को बिहार राज्य फसल सहायता योजना के अंतर्गत उन को आर्थिक सहायता के लिए राशि भेज दिया जाएगा | वह सभी किसान जो रबी फसल में उत्पादन के नुकसान उठाया है | उनको Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana के अंतर्गत राहत मिलेगी और वह किसान जो 2022-23 में फसल पर नुकसान उठाया है | उन सभी को बिहार सरकार के द्वारा सहकारी विभाग के द्वारा नुकसान की भरपाई की प्रक्रिया आरंभ कर दी गई है | इस बार सरकार के द्वारा रहे और 11 दोनों तरह के पात्र किसानों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा | प्रदेश के सभी किसानों को लगभग इस योजना के अंतर्गत 226 करोड रुपए की धनराशि दिया जाएगा | जिससे कि उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार लाया जा सके सरकार के द्वारा अब तक 218 करोड़ 40 लाख का भुगतान किया जा चुका है | यह राशि पिछले वर्ष खरीफ मौसम में हुए नुकसान की भरपाई के लिए किसानों को दी जा रही है।

रबी फसल की सहायता राशि का किया जाएगा जल्द से जल्द भुगतान

आपको बता देगी इसके अलावा रवि की सहायता राशि के रूप में बिहार में अब तक 447070 किसानों को लाभ की राशि दी जा चुकी है | खरीफ मौसम के लिए प्रदेश के 34 जिलों का चयन बिहार राज्य फसल सहायता योजना के तहत किया गया है | इन सभी जिलों में 1630228 किसानों ने अभी तक पंजीकृत किया था लेकिन अब जांच के उपरांत या संख्या में कमी हो गई है | केवल जांच के बाद पात्र पाए जाने वाले सभी किसानों को लाभ की राशि दिया जाएगा और बचे हुए किसानों को भी एक-दो दिन में नाम की राशि दे दी जाएगी | इसके अलावा रबी फसल की सहायता राशि के लिए 70000 किसान जांच के पात्र पाए गए हैं।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

इन सभी किसानों को 30 करोड़ की राशि दी जाएगी और सभी किसानों की जांच एवं भुगतान की प्रक्रिया जल्दी शुरू कर दी जाएगी। इस योजना के अंतर्गत फसल की 1% से 20% तक की छाती होने पर सभी किसानों को प्रति हेक्टेयर ₹7000 की सहायता राशि सभी किसानों को दी जाती है | यदि 36% से अधिक होती है तो इस स्थिति में उनको यह राशि ₹10000 प्रति हेक्टर दी जाती है | यह अधिकतम 2 हेक्टेयर तक के लिए इस योजना का लाभ जिया जा सकता है।

Advertisements

Key Highlights Of Bihar Fasal Bima Yojana

📰 योजना का नामBihar Fasal Sahayata Yojana
📁 विभागसहकारिता विभाग
🎯 लाभार्थीराज्य के किसान
📅 ऑनलाइन आवेदन की आरंभ तिथिआरंभ है
📅 ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथिकोई नहीं
🎯 उद्देश्यफसलों में हुआ नुकसान से बचाने के लिए किसान की आत्मनिर्भरता बढ़ाने की लिए राज्य में खेती को बढ़ाबा देने की लिए
💰 सहायता राशि7500 से 10,000
📑 योजना का प्रकारराज्य सरकार की योजना
🌐 आधिकारिक वेबसाइटhttps://pacsonline.bih.nic.in/fsy/

खरीफ मौसम के लिए आरंभ हुई आवेदन की प्रक्रिया

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana की अंतर्गत खेती करने वाले सभी किसानों को किसी पर कीर्ति कारण कि वजह से उनकी फसल का नुकसान हो गया है | उनको इसका सामना करना पड़ता है तो उनको सरकार के द्वारा मुआवजा दिया जाएगा |

इस योजना के अंतर्गत खरीफ मौसम के लिए कृषि विभाग एवं सहकार विभाग के द्वारा तैयारी शुरू कर दी गई है | सभी किसानों को मुआवजा दिया जा रहा है | सरकार के द्वारा आवेदन से लेकर भुगतान की तिथि निर्धारित कर दी गई है | वह सभी किसान जो खरीफ फसल के लिए इस योजना का लाभ उठा सकते हैं | कृषि विभाग में निबंधित किसान सहकारी विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर 31 जुलाई 2024 तक आवेदन कर सकते हैं | Bihar Fasal Bima Yojana के तहत फसल कटनी का प्रयोग 28 फरवरी 2024 का होगा | इस फसल के माध्यम से यह तय किया जाएगा कि राज्य के किन किन जिलों के किन-किन प्रखंडों की पंचायतों के खरीफ फसल का उत्पादन हुआ है | इस रिपोर्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध करवाया जाएगा | जिससे कि सभी लोग इस रिपोर्ट को देख सकते हैं और इस रिपोर्ट के माध्यम से यह तय कर सकते हैं कि कि किसानों का कितना मुआवजा दिया जाएगा।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

फसल सहायता योजना के लिए आरंभ हुए निबंधन

बिहार राज्य फसल सहायता योजना के तहत 2024 से किसकी रबी फसल के लिए यह बंधन को शुरू कर दिया गया है | 3 दिसंबर 2023 को सहकारिता विभाग ने निबंधन करवाने की अधिसूचना को जारी कर दिया है | इस योजना के अंतर्गत किसानों को किसी प्रकार को प्रीमियम का भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है | फसल के नुकसान की भरपाई सरकार के द्वारा किया जाएगा | वह सभी किसान जो इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं | उन्हें आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा | यह निबंधन गेहूं मक्का चना मसूर अरहर आईसर एक प्याज आलू की फसल नुकसान की भरपाई के लिए अलग अलग अलग तरीके से योजना का लाभ उठाना चाहते हैं | उन्हें अंतिम तिथि से पहले आवेदन करना होगा।

इन फसलों की जाएगी भरपाई

  • गेहूं तथा मक्का को राज्य के 38 जिलों में पंचायत स्तरीय किया गया है। इसके अलावा चना, मसूर, अरहर, राई, सरसों, ईख, प्याज एवं आलू को जिला स्तर पर अधिसूचित किया गया है।
  • यदि चने की फसल का नुकसान होता है तो राज्य के 17 जिलों को भरपाई की जाएगी, मसूर की फसल पर नुकसान होता है तो 35 जिलों को भरपाई की जाएगी,
  • अरहर की फसल का नुकसान होता है तो 22 जिलों को भरपाई की जाएगी, ईख की फसल को नुकसान होता तो 16 जिलों को भरपाई की जाएगी, राई तथा सरसों की फसल के लिए राज्य के सभी जिलों को भरपाई की जाएगी,
  • प्याज की फसल का नुकसान होता है तो 14 जिलों को भरपाई की जाएगी तथा आलू की फसल पर नुकसान होता है तो 15 जिलों को भरपाई की जाएगी।
  • बिहार राज्य फसल सहायता योजना के अंतर्गत यदि नुकसान 20% से कम होता है तो छतिपूर्ति दर ₹7500 रुपए प्रति हेक्टेयर है। प्रत्येक किसान अधिकतम 2 हेक्टेयर के लिए इस योजना का लाभ उठा सकता है।
  • यदि 20 फ़ीसदी से ज्यादा नुकसान होता है तो ₹10000 प्रति हेक्टेयर की दर से भरपाई की जाती है।

Bihar Fasal Bima Yojana 2024 एप्लिकेशन फॉर्म

इस योजना के अंतर्गत राज्य के किसानो को फसलों के बर्बाद होने पर मिलने वाली धनराशि के लिए किसी भी तरह का प्रीमियम नहीं भरना होगा | बिहार राज्य में अधिकतर लोग किसानी करते है राज्य में धान की फसल से लेकर तिलहन की तक की खेती बड़ी मात्रा में होती है | Bihar Fasal Bima Yojana 2024 के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के लिए किसानो को खरीब की फसल तथा रबी की फसल के मौसम में ऑनलाइन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करना होगा | जो इच्छुक लाभार्थी बिहार किसान फसल सहायता योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आप आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। ऑनलाइन आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया हमने आपको अपने इस लेख में बताई है।

Bihar rajya fasal sahayata Yojana 2024 का उद्देश्य

बिहार राज्य फसल सहायता योजना का उद्देश्य है कि बिहार के जितने भी किसान जिनकी फसल बाढ़ या सूखा पड़ जाने के कारण या किसी भी प्रकृतिक आपदा उसे अगर उनके फसल का नुकसान होता है तो उसके लिए राज्य सरकार के द्वारा सभी किसानों को आर्थिक सहायता दिया जाता है और आगे भविष्य में अच्छी से खेती करने के लिए उनको प्रोत्साहित भी किया जाता है मौसम की मोड़ से फसलों के नुकसान का सामना करने वाले लाखों किसानों को Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana 2024 के तहत उन लाखों किसानों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा और किसानों को आत्मनिर्भर और सशक्त बनाने के लिए सरकार के द्वारा प्रयास किया जा रहा है इस उद्देश्य को पूरा करने के लिए राज्य सरकार ने इस योजना को आरंभ किया है।

Bihar Fasal Bima Yojana हेतु प्राप्त हुए कुल आवेदन

राज्य के जो भी इच्छुक लाभार्थी इस योजना का लाभ उठाना चाहता है वह इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं।

  • फसल सहायता योजना हेतु अब तक कुल प्राप्त आवेदन 810070 (खरीफ-19),1150527 (खरीफ-18)
    गेहूं अधिप्राप्ति हेतु कुल आवेदन 7479 प्राप्त हुए हैं।
  • बिहार राज्य फसल सहायता योजना रबी 2018-19 हेतु प्राप्त कुल आवेदन 1754350 प्राप्त हुए हैं।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना की विशेषताएं

  • Bihar Fasal sahayata scheme को बिहार सरकार के द्वारा बिहार के किसानों के लिए स्कोर आरंभ किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से किसानों को फसल बीमा का लाभ दिया जाएगा।
  • यदि किसी प्राकृतिक आपदा जैसे की बाढ़, सूखा या किसी प्रकृतिक आपदा इत्यादि के कारण फसल की बर्बादी हो जाती है तो किसानों को इस योजना के तहत आर्थिक सहायता दिया जाता है।
  • इस योजना के अंतर्गत किसानों को ₹7500 प्रति हेक्टेयर से 20% तक का नुकसान होने पर दिया जाएगा।
  • ₹10000 प्रति हेक्टर 20% से अधिक की फसल नुकसान होने के कारण किसानों की आर्थिक स्थिति के लिए दिया जाएगा।
  • यदि आप धान मक्का इत्यादि की खेती करते हैं तो आप जल्द से जल्द ऑनलाइन आवेदन करके इसका लाभ उठा ले।
  • ऑनलाइन आवेदन करवाने की प्रक्रिया 18 मई 2021 से आरंभ हो रही है।
  • ऑनलाइन आवेदन 31 जुलाई 2024 तक चलेगी।

Bihar Fasal Bima Yojana के लाभ

  • इस योजना का लाभ राज्य के उन किसानों को दिया जाएगा जिन की फसलों को प्राकृतिक आपदा या किसी मौसम की परिस्थिति के कारण उनकी फसल को नुकसान पहुंचा है।
  • बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2024 के तहत राज्य के सभी किसानों की फसलों की वास्तविक उपाधि दर में 20% तक का नुकसान होने पर प्रति हेक्टेयर की दर से ₹7500 की धनराशि सरकार के द्वारा दी जाएगी।
  • बिहार राज्य के किसानों की फसल की वास्तविक उपज में 20% से अधिक नुकसान होने पर प्रति हेक्टेयर की दर से ₹10000 तक की धनराशि दी जाएगी।
  • राज्य सरकार के द्वारा किसानों की फसलों को मौसम बाज या सुखार होने के कारण उनके फसल के नुकसान की भरपाई के लिए सहायता धनराशि सभी लाभार्थी के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर किया जाएगा।
  • इसके लिए आवेदक का बैंक अकाउंट होना चाहिए जो कि आधार कार्ड से लिंक हो।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2024 के आवश्यक दस्तावेज

  • आवेदन करने वाला लाभार्थी बिहार राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना के अंतर्गत वही किसान आवेदन कर सकता है जिनकी फसल हो प्राकृतिक आपदा या मौसम के किसी कारण से बर्बाद हुई हो।
  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक की पासबुक
  • बैंक का विवरण
  • खेती कर रहे जमीन के कागजात
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Bihar Fasal Bima Yojana के निर्देश

  • फोटो (50 KB से कम होनी चाहिए)
  • पहचान पत्र भारत निर्वाचन आयोग द्वारा मान्यता प्राप्त (400 KB से कम होनी चाहिए और पीडीएफ के रूप में होनी चाहिए।)
  • बैंक की पासबुक के पहले पृष्ठ की प्राप्ति (400 KB से कम होनी चाहिए तथा पीडीएफ रूप में होना चाहिए)।
  • आवासीय प्रमाण पत्र (400 KB) से कम होनी चाहिए तथा पीडीएफ प्रारूप होनी चाहिए)

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2024 के लिए आवेदन कैसे करें

Bihar Fasal Bima Yojana के तहत जो इच्छुक लाभार्थी ऑनलाइन आवेदन करना चाहता है वह लाभार्थी नीचे दिए गए तरीकों को जो हम दे रहे हैं उसको स्टेप बाय स्टेप फॉलो करके आवेदन कर सकते हैं और इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

  • इसके बाद आपके सामने एक रजिस्ट्रेशन का ऑप्शन दिखाई देगा आपको उस पर क्लिक कर देना होगा और उस विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • उसके बाद आपको कंप्यूटर स्क्रीन पर एक नया फेस खुलकर आएगा जिसमें आपको आधार है या नहीं उसका ऑप्शन दिखाई देगा अगर आपके पास आधार है तो हो क्या ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • आधार कार्ड के हो के ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा उस पेज पर आप से आधार नंबर पूछा जाएगा।
  • इसके बाद आप अपना आधार नंबर भर दे और अपना नाम भरना होगा और सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं।

Bihar Fasal Bima Yojana पोर्टल पर लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • उसके बाद आपके सामने इसका होमपेज खुलकर आएगा।

  • इसके बाद आपको लॉगइन के ऑप्शन पर जाकर मोबाइल नंबर पासवर्ड तथा कैप्चा कोड को दर्ज करना है।
  • अब आपको लॉगइन के ऑप्शन पर जाकर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार से आप पोर्टल पर आसानी से लॉगइन कर सकते हैं।

सारांश (Summary)

तो दोस्तों आपको कैसी Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana के विषय में यह जानकारी तो हमें कमेंट बॉक्स में बताना न भूलें और अगर आपका इस लेख से जुड़ा कोई सवाल या सुझाव है तो हमें जरूर बताएं। और दोस्तों अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे लाइक और कमेंट करें और दोस्तों के साथ शेयर भी करें।.

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana

✔️ बिहार में फसल बीमा का पैसा कब मिलेगा?

जिनकी फसलों को प्राकृतिक आपदाओं ,मौसम की परिस्थितियों के कारण क्षति हुई है । बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2024 के अंतर्गत राज्य के किसानो की फसलों की वास्तविक उपज दर में 20 %तक का नुकसान होने पर प्रति हेक्टेयर की दर से 7500 रूपये की धनराशि सरकार द्वारा प्रदान की जाएगी ।

✔️ फसल बीमा पर सरकार कितनी सब्सिडी देती है?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के माध्यम से किसानों को खड़ी फसलों के नुकसान के खिलाफ बीमा कवर दिया जाता है. योजना के जरिए रबी फसलों के लिए बीमा कवर का प्रीमियम 1.5 फीसद है. जबकि सरकार 50 फीसदी सब्सिडी देती है. जिसका मतलब यह है कि किसान भाइयों को बस 0.75 प्रतिशत प्रीमियम का भुगतान करना होता है.

✔️ फसल बीमा योजना का लाभ कैसे मिलेगा?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का क्लेम लेने के लिए किसानों को फसल खराब होने की स्थिति में सबसे पहले 72 घंटे के भीतर कृषि विभाग को जानकारी देनी होती है. इसके बाद आवेदन करना होता है. फॉर्म में फसल खराब होने का कारण, कौन-सी फसल बोई गई थी, कितने क्षेत्र में फसल बर्बाद हुई हैं, इन सब बातों का ब्यौरा देना होता है

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
✔️ बिहार फसल बीमा का पैसा कैसे चेक करें?

मुआवजा का पैसा कैसे चेक किया जाता है? फसल बीमा योजना का स्टेटस चेक करने के लिए सबसे पहले आप सरकार की वेबसाइट pmfby.gov.in को ओपन करें। इसके बाद Application Status के विकल्प को चुने। फिर रिसिप्ट नंबर और कैप्चा को डालें

Advertisements
Advertisements
Share This Article
Ravi Bhaushan Ray heads Content at Sarkariyojnaa.com. He has 2 years of experience in creating content for academic and professional audiences. He has led editorial teams in Online Media, Academic Books & Journals Publishing, Test Prep, Study Abroad and eLearning. He has postgraduate degrees in Social Sciences and Management and has previously worked with organizations like Wiley India, NIIT Ltd. and SAGE Publishing. He can be reached at ravibhushan@sarkariyojnaa.comArea of Expertise:Content & Strategy, Educational Content, Digital Curriculum Development, eLearning, Test PrepHonors & Awards:Best Editor, Rising Star, Award for Professional Excellence, Collaboration and InnovationCertification:Fact-Checking Fundamentals with IFCN, Content Marketing, Inbound Marketing and Email Marketing - All from HubSpot Academy, Executive Program in Digital Marketing and Applied Analytics - IIT Bombay
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *