स्वामित्व योजना क्या है – PM Swamitva Yojana 2021 | SVAMITVA Scheme

|| Pm Swamitva Yojana Online Apply , प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना क्या है , प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना ऑनलाइन आवेदन , स्वामित्व योजना अप्लाई ऑनलाइन , Pm Swamitva Yojana Registration , प्रधानमंत्री स्वामित्व कार्ड ||

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना की जरूरत हमारे देश के ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को सबसे ज्यादा हैं , इस योजना के तहत इन लोगों को अपने प्रॉपर्टी का पूरा हक मिलेगा साथ ही इन्हें प्रधानमंत्री स्वामित्व कार्ड भी दिए जाएंगे । आज हम आपको प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के बारे में संपूर्ण जानकारी देने जा रहे हैं हम आपको बताएंगे प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना 2021 क्या है ,इसके लिए पात्रता ,आवेदन, रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया क्या है ? , इत्यादि जैसे संपूर्ण जानकारी देंगे ।

हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने डिजिटल इंडिया का सपना देखा है और वह समय-समय पर इस सपने को पूरा करने के लिए किसी ना किसी ऑनलाइन योजना की शुरुआत करते रहते हैं । भारत की उन्नति करने के लिए साथ ही डिजिटल इंडिया बनाने के लिए ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को भी डिजिटल बनाना होगा इस उद्देश्य के साथ प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा पीएम ग्रामीण स्वामित्व योजना की शुरुआत की गई है । Pm Swamitva Yojana के तहत ग्राम स्वराज पोर्टल से इसे जोरा जाएगा साथ ही यह पंचायती राज्य मंत्रालय के अंतर्गत संचालित होगी ।

इस पोस्ट में क्या है ?

Pradhanmantri Swamitva Yojana 2021

SVAMITVA Scheme is a Central Sector scheme launched by Hon’ble Prime Minister of India on National Panchayat Day i.e 24th April 2020. The Ministry of Panchayati Raj (MoPR) is the Nodal Ministry for the implementation of the scheme. In the States, the Revenue Department / Land Records Department will be the Nodal Department and shall carry out the scheme with the support of the State Panchayati Raj Department. Survey of India shall work as the technology partner for implementation.

The scheme aims to provide an integrated property validation solution for rural India. The demarcation of rural Abadi areas would be done using Drone Surveying technology. This would provide the ‘record of rights’ to village household owners possessing houses in inhabited rural areas in villages which, in turn, would enable them to use their property as a financial asset for taking loans and other financial benefits from Bank

The Swamitva Yojana seeks to achieve the following objectives: –

  1. To bring financial stability to the citizens in rural India by enabling them to use their property as a financial asset for taking loans and other financial benefits.
  2. Creation of accurate land records for rural planning.
  3. Determination of property tax, which would accrue to the GPs directly in States where it is devolved or else, add to the State exchequer.
  4. Creation of survey infrastructure and GIS maps that can be leveraged by any department for their use.
  5. To support the preparation of a better-quality Gram Panchayat Development Plan (GPDP) by making use of GIS maps.
  6. To reduce property related disputes and legal cases

स्वामित्व योजना क्या है?

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा शुरू की गई पीएम स्वामित्व योजना के अंतर्गत इस योजना को ग्राम स्वराज के ऑनलाइन पोर्टल से जोड़ा जाएगा जिसके परिणाम स्वरूप भूमि माफिया, फर्जीवाड़ा, भूमि की लूट इत्यादि जैसी समस्याएं दूर हो जाएंगे और ग्रामीण लोग उनकी संपत्ति का पूरा ब्यौरा ऑनलाइन उपलब्ध हो सकेगा । प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा शुरू की गई इस योजना के तहत गांव की संपूर्ण सर्वेक्षण का प्रावधान ड्रोन कैमरे की सहायता से किया गया है साथ ही मैपिंग के पश्चात गांव में उस संपत्ति पर जिस ग्रामीण का मौलिक अधिकार है उसे उसके नाम से पूरी तरह रजिस्टर्ड कर दिया जाएगा साथ ही यह रजिस्ट्रेशन होने के बाद उस ग्रामीण को प्रधानमंत्री स्वामित्व कार्ड भी दिया जाएगा जो यह प्रमाणित करेगा कि इस प्रॉपर्टी पर इस व्यक्ति का अधिकार है । इसकी जरूरत सबसे ज्यादा ग्रामीणों को है क्योंकि ग्रामीणों में अब तक बहुत सारे ऐसे लोग हैं जिनके पास अपनी प्रॉपर्टी या जमीन का कोई भी दस्तावेज मौजूद नहीं है जो यह सत्यापित कर सके की जमीन उनका ही है ।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के तहत गांव में ग्राम पंचायतों के विकास के लिए ही ग्राम पोर्टल का प्रयोग किया जाएगा साथ ही गांव के प्रत्येक प्रॉपर्टी को उनके मालिक के साथ मैप कर दी जाएगी जिससे फर्जीवाड़ा घूसखोरी और भूमि माफिया का काम खत्म हो जाएगा ।

बिहार में लॉन्च होगी स्वामित्व कार्ड योजना नया अपडेट

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जल्द ही बिहार में भी स्वामित्व कार्ड योजना लॉन्च करने वाले हैं , इस योजना के अंतर्गत जमीन के मालिकों को उनका मालिकाना हक दिलाने के लिए रूम से सर्वेक्षण का काम बिहार में जल्द ही शुरू हो जाएगा । बिहार में स्वामित्व संपत्ति कार्ड योजना 24 अप्रैल से चालू कर दी जाएगी जिसके लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा कर दी है ।

पंचायती राज विभाग के मंत्री सम्राट चौधरी ने इस संबंध में जानकारी दी उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी 24 अप्रैल को राष्ट्रीय पंचायत दिवस मनाएंगे एवं 12:00 बजे दिन में राष्ट्रीय पंचायत दिवस के अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में और पंचायती राज के केंद्रीय मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर देश को संबोधित करेंगे । उन्होंने यह भी बताया कि प्रधानमंत्री अपने संबोधन के कर्म में आंध्र प्रदेश, हरियाणा, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब और राजस्थान मे इस योजना का संचालन किया जाएगा । एवं इन राज्यों में गांव का सर्वेक्षण कर लगभग 5002 गांव के 4.09 लाख ग्रामीणों को भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र एवं प्रॉपर्टी कार्ड वितरित करेंगे ।

यही नहीं बल्कि सम्राट चौधरी ने यह भी कहा कि बिहार के कई जिलों में सर्वे का काम तेजी से चल रहा है इस अवसर पर प्रधानमंत्री देश के 30 राज्यों को संघ राज्य 313 चयनित ग्राम पंचायतों को दीन दयाल उपाध्याय पंचायत सशक्तिकरण पुरस्कार, नानाजी देशमुख राष्ट्रीय गौरव ग्रामसभा पुरस्कार, ग्राम पंचायत विकास योजना पुरस्कार एवं बाल हितेषी ग्राम पंचायत पुरस्कार के तहत प्रशस्तिपत्र, प्रतीक चिन्ह और राशि से सम्मानित भी करेंगे , उन्होंने यह भी बताया कि इस योजना का शुभारंभ श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा वर्चुअल माध्यम से किया जाएगा ।

Pm Swamitva Yojana 2020

Pm Swamitva Yojana New Update

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने रविवार को प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के तहत प्रॉपर्टी कार्ड वितरित करने की शुरुआत कर दी है इस योजना को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए लॉन्च कर दिया गया । प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के तहत इस बार 100000 ग्रामीणों को उनके प्रॉपर्टी का हक देना सुनिश्चित किया गया है ।

जैसा आप सभी भली-भांति जानते हैं ग्रामीण क्षेत्र में ऐसे बहुत सारे व्यक्ति हैं जिनके पास प्रॉपर्टी तो है लेकिन प्रॉपर्टी पर हक साबित करने के लिए उनके पास कोई दस्तावेज नहीं है। इस समस्या को दूर करने के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय पीएमओ ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना को ग्रामीण भारत के ऐतिहासिक कदम करार दिया है । इस योजना से ग्रामीण इलाके के लोगों को किसी भी तरह के ऋण या वित्तीय लाभ लेने के लिए वित्तीय संपत्ति के तौर पर अपनी प्रॉपर्टी या संपत्ति का उपयोग करने का अधिकार दिया जाएगा ।

पीएमओ ने कहा कि प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के लॉन्च के दौरान एक लाख प्रॉपर्टी धारकों के मोबाइल पर लिंक भेजा जाएगा इसकी मदद से वे अपने प्रॉपर्टी कार्ड यानी प्रधानमंत्री स्वामित्व कार्ड को डाउनलोड कर पाएंगे । इसके बाद राज्य सरकारों के द्वारा इन लाभार्थियों को प्रधानमंत्री स्वामित्व कार्ड यानी प्रॉपर्टी कार्ड बांटे जाएंगे ।

अभी प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के तहत 6 राज्यों के 763 गांव के लाभार्थियों को प्रधानमंत्री स्वामित्व कार्ड यानी प्रॉपर्टी कार्ड जारी किया जाएगा ।

इन 6 राज्यों में उत्तर प्रदेश के 346, हरियाणा के 221 , महाराष्ट्र के 100 , मध्य प्रदेश के 44 तथा उत्तराखंड के 50 और कर्नाटक के 2 गांव शामिल हैं । पीएमओ ऑफिस से मिली जानकारी से यह पता चला है कि प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के तहत महाराष्ट्र के अलावा अन्य राज्यों के लाभार्थियों को उनकी जमीन के कागजात डाउनलोड करने के लिए s.m.s. में लिंक 1 दिन के भीतर भेज दिया जाएगा ।

महाराष्ट्र में फिलहाल प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के तहत मालिकाना हक यानी प्रधानमंत्री स्वामित्व कार्ड डाउनलोड करने के लिए शुल्क रखा गया है बाकी राज्यों में अभी शुल्क नहीं सुनिश्चित की गई हैं । इस शुल्क के कारण महाराष्ट्र में प्रधानमंत्री स्वामित्व कार्ड डाउनलोड करने की प्रक्रिया थोड़ी धीमी रहेगी और यह कार्ड लगभग एक महीने बाद डाउनलोड किया जा सकेगा ।

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर लाभार्थियों से बात भी की गई साथ ही स्वामित्व योजना पंचायती राज मंत्रालय की योजना है जिसे पंचायत स्तर पर काफी अहम भूमिका दी जा रही है । प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना को प्रधानमंत्री ने वर्ष 2021 से 24 के बीच चरणबद्ध तरीके से शुरू करने का निर्देश दिया है इसके दायरे में करीब 6.62 लाख गांवों को शामिल किया जाएगा ।

🔥🔥 Pm Swamitva Scheme Highlights 🔥🔥

🔥 योजना का नाम प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना
🔥 शुरू किया गया प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा
🔥 विभाग पंचायती राज मंत्रालय भारत सरकार
🔥 उद्देश्य प्रॉपर्टी के असली मालिकों को उनका हक दिलाना
🔥 घोषणा की गई 24 अप्रैल 2020 को
🔥 मुख्य लाभ लोन लेने की सुविधा उपलब्ध कराना
🔥 Official Website Click Here
🔥 वर्तमान मे किन राज्यों मे चालू है ? आंध्र प्रदेश, बिहार, हरियाणा, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब और राजस्थान 

स्वामित्व योजना नई अपडेट

Pm Swamitva Yojana2021 के तहत ग्रामीण क्षेत्र के आबादी के सर्वेक्षण करने के बाद स्वामित्व रिकॉर्ड की तैयारी की जाएगी । तथा रिकॉर्ड तैयार हो जाने के बाद ग्रामीण लोगों के जमीन के मालिक होने का प्रमाण के रूप में स्वामित्व रिकॉर्ड यानी प्रधानमंत्री स्वामित्व कार्ड दिया जाएगा। यह कार्ड उन लोगों को दिया जाएगा जो 25 सितंबर 2018 को या उसके बाद आबादी वाली भूमि का उपयोग कर रहे हैं उन्हें निम्नलिखित भूमि आवंटित की जाएगी। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने अपने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में यह भी बताया कि Pm Swamitva Yojana 2021 के तहत इन ग्रामीणों को उनकी संपत्ति के कब्जे के रिकॉर्ड और स्वामित्व प्रमाण पत्र दिए जाएंगे।

Pradhanmantri Swamitva Scheme के उद्देश्य

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा कोरोनावायरस संकट के बीच भी देश में फैली हजारों ग्राम पंचायतों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा संबोधित किया गया इस योजना की शुरुआत 24 अप्रैल 2020 यानी पंचायती राज दिवस के रूप में मनाए जाने वाले दिन को किया गया । प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा किसानों तथा संबंधित ग्रामीणों को संबोधित किया गया और इस योजना के मुख्य उद्देश्य की जानकारी ग्रामीणों को दी गई । प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण किसानों की जमीन की ऑनलाइन देखरेख मुहैया कराना और जमीन की मैपिंग साथ ही उसके मालिक को उनका हक दिलाना है, इस कदम से ग्रामीणों को बहुत सारे फायदे होंगे भूमि माफियाओं का काम खत्म हो जाएगा, फर्जीवाड़े और धोखाधड़ी या भूमि बेमानी या हड़प लेने जैसी समस्या भी खत्म हो जाएगी ।

PM Swamitva Yojana card 2020

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के लाभ

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना की शुरुआत करने का सबसे बड़ा उद्देश्य ग्रामीणों को उनके प्रॉपर्टी का पूरा हक दिलाना है साथ ही प्रधानमंत्री जी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में यह भी बताया कि पहले देश के करीब 100 ग्राम पंचायत ही ब्रॉडबैंड कनेक्शन से जुड़े थे लेकिन आज के दौर में यह संख्या सवा लाख पहुंच चुकी है यानी अब ग्रामीण क्षेत्र के लोग भी आसानी से किसी भी खबर और सरकारी योजनाओं की जानकारी प्राप्त कर पाते हैं । इसी प्रकार से उन्होंने बताया कि जैसे शहर में मकान पर होम ,जमीन पर लोन लेने की सुविधा होती है और आसानी से लोन मिल भी जाता है इसी प्रकार अब गांव में पीएम स्वामित्व योजना से जमीन मालिक घर मालिक की पहचान आसानी से हो जाएगी और उन्हें भी लोन की सुविधा काफी आसानी से मिल पाएगी । पीएम मोदी ने बताया कि गांव में जमीन की मैपिंग ड्रोन कैमरे के द्वारा की जाएगी और फिलहाल देश के लगभग 6 राज्य में इसकी शुरुआत हो चुकी है, यहां तक की केंद्र सरकार ने बताया कि 2024 तक इसको देश के हर एक गांव तक पहुंचा दिया जाएगा । इसके अलावा भी पीएम स्वामित्व योजना के कई लाभ हैं जो निम्नलिखित हैं :-

  • ➡️ संपत्ति नामांकन के प्रोसेस को प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के अंतर्गत सरल बना दिया जाएगा ।
  • ➡️ पीएम स्वामित्व योजना के तहत ड्रोन के द्वारा गांव, खेत ,भूमि की मैपिंग की जाएगी ।
  • ➡️ भूमि की सत्यापन प्रक्रिया में तेजी साथ ही भूमि माफियाओं, भूमि भ्रष्टाचार के मामले को रोकने में भी सहायता मिलेगा ।
  • ➡️ ग्राम पंचायतों के अंतर्गत आने वाले किसानों को लोन की भी सुविधा उपलब्ध हो पाएगी ।
  • ➡️ जमीन के असली मालिक को उनकी प्रॉपर्टी पर सही अधिकार मिल पाएगा साथ ही उन्हें पीएम स्वामित्व कार्ड भी दिया जाएगा ।
  • ➡️ इस कार्ड के एवज में लोग आसानी से बैंक से लोन प्राप्त कर पाएंगे ।
  • ➡️ किसी भी जमीन या प्रॉपर्टी पर किस व्यक्ति का मालिकाना हक है इसकी जानकारी प्राप्त करना काफी सरल हो जाएगा ।
  • ➡️ योजना का संचालन ग्राम पंचायत तथा ई ग्राम पोर्टल के माध्यम से किया जा रहा है ।

पीएम स्वामित्व योजना आवेदन कैसे करें ?

अगर आप पीएम स्वामित्व योजना के तहत आवेदन करने की सोच रहे हैं तो आपको ध्यान देना होगा । इस योजना के तहत आवेदन की प्रक्रिया अभी तक लांच नहीं की गई है भले ही इस योजना के तहत सर्वे का काम स्टार्ट हो चुका है ।

सर्वे होने के बाद ही मिलेगा भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र

केंद्र सरकार के द्वारा चयनित राज्य के चयनित गांव का ड्रोन से सर्वेक्षण तथा ग्राम पंचायतों में जाकर सर्वेक्षण किया जाना सुनिश्चित किया गया है । यानी आप की प्रॉपर्टी की जानकारी पहले अधिकारी एकत्रित करेंगे और फिर यह सुनिश्चित करेंगे कि उस प्रॉपर्टी पर आपका मालिकाना हक है , सभी जानकारी सुनिश्चित हो जाने के बाद और सभी जानकारी एकत्रित हो जाने के बाद आपका प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना रजिस्ट्रेशन कर दिया जाएगा और परिणाम स्वरूप आपको प्रधानमंत्री स्वामित्व कार्ड या प्रॉपर्टी कार्ड निर्गत कर दी जाएगी ।

अगर आप ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो आप Egram Swaraj की वेबसाइट पर जाकर अधिक जानकारी देख सकते हैं ।

Pm Swamitva Yojana Contact Information

वैसे हमने इस आर्टिकल में आपको पीएम स्वामित्व योजना से संबंधित लगभग सारी जानकारी दे दी है अगर फिर भी आप कुछ पूछना या जानना चाहते हैं तो आप इसके आधिकारिक ईमेल आईडी पर संपर्क कर सकते हैं ।

इस ईमेल पर संपर्क कर आप अपने किसी भी समस्या को रजिस्टर्ड करा सकते हैं या कोई भी संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकते हैं ।

Pm Swamitva Yojana HelpDesk Email:- [email protected]

FAQ Pm Swamitva Yojana 2021

Q 1. पीएम स्वामित्व योजना क्या है ?

यह केंद्र सरकार के द्वारा पंचायती राज मंत्रालय के तहत शुरू की गई एक योजना है जिसके तहत मुख्य रूप से ग्राम पंचायतों में रहने करने वाले ग्रामीणों को लाभ दिया जाएगा । पीएम स्वामित्व योजना के तहत इन लोगों को उनके प्रॉपर्टी का असली हक उपलब्ध कराया जाएगा जिसके तहत इन्हें पीएम स्वामित्व कार्ड तथा जमीन के दस्तावेज उपलब्ध कराए जाएंगे ।

Q 2. पीएम स्वामित्व योजना फिलहाल किन किन राज्य में शुरू है ?

वैसे तो यह केंद्र सरकार की योजना है यानी इसे भारत के हर राज्य में लागू किया जाएगा लेकिन फिलहाल इसे 6 राज्यों में चालू किया गया है जो निम्नलिखित हैं :- यूपी ,महाराष्ट्र , कर्नाटक , हरियाणा , मध्य प्रदेश तथा उत्तराखंड

Q 3. क्या स्वामित्व योजना सर्वे से घबराने की जरूरत है ?

“नहीं” Pm Swamitva Yojana के तहत अगर आपके ग्राम पंचायत में किसी प्रकार का सर्वे हो रहा है और आपसे कोई जानकारी पूछी जा रही है तो आप अपना सही जानकारी दर्ज करें तथा अपनी प्रॉपर्टी की संपूर्ण जानकारी दर्ज करें ताकि आपके संपूर्ण प्रॉपर्टी पर आपके मालिकाना हक को सुनिश्चित किया जा सके और भविष्य में आपके साथ कोई भी फर्जीवाड़ा या धोखाधड़ी ना हो ।

Q 4. पीएम मोदी प्रॉपर्टी कार्ड कितने लोगों को और कब तक वितरित की जाएगी ?

फिलहाल पीएम मोदी के द्वारा ऑफीशियली ट्वीट कर बताया गया है कि अभी 100000 ग्रामीणों को पीएम मोदी प्रॉपर्टी कार्ड वितरित की जाएगी जिसके लिए उनके मोबाइल पर s.m.s. के द्वारा एक लिंक भेजा जाएगा जिस लिंक पर क्लिक कर वह अपने प्रॉपर्टी कार्ड को डाउनलोड कर पाएंगे साथ ही ग्राम पंचायतों के माध्यम से भी प्रॉपर्टी कार्ड ऑफलाइन इन लोगों को दे दिया जाएगा ।

Q 5. पीएम स्वामित्व योजना के फायदे क्या है ?

वैसे तो इस योजना के बहुत सारे फायदे हैं लेकिन इनमें कुछ प्रमुख फायदे हम आपको बता रहे हैं ।

➡️ प्रॉपर्टी पर आसानी से ऋण लेने की सुविधा
➡️ जमीन पर पूरी तरह से मालिकाना हक
➡️ जमीन का रिकॉर्ड ऑनलाइन पोर्टल पर उपलब्ध होना
➡️ जमीन मालिक का पूरा रिकॉर्ड पोर्टल पर उपलब्ध रहना
➡️ फर्जीवाड़े धोखाधड़ी भूमि माफिया के ऊपर प्रतिबंध ।

नोट :- तो आज के इस आर्टिकल में आपने प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना से संबंधित लगभग सारी जानकारी प्राप्त की अगर फिर भी आप कुछ पूछना यह जानना चाहते हैं तो कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं ।

ध्यान दें :- ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम सबसे पहले अपने इस वेबसाइट sarkariyojnaa.com के माध्यम से देते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…

Posted by Amar Gupta

🔥🔥 Join Our Group For All Information And Update, Also Follow me For Latest Information🔥🔥

🔥 Whatsapp Group Join Now Click Here
🔥 Facebook Page Click Here
🔥 Instagram Click Here
🔥 Telegram Channel Techgupta Click Here
🔥 Telegram Channel Sarkari Yojana Click Here
🔥 Twitter Click Here
🔥 Website  Click Here

FAQ Pm Swamitva Yojana 2021

✔️ पीएम स्वामित्व योजना क्या है ?

यह केंद्र सरकार के द्वारा पंचायती राज मंत्रालय के तहत शुरू की गई एक योजना है जिसके तहत मुख्य रूप से ग्राम पंचायतों में रहने करने वाले ग्रामीणों को लाभ दिया जाएगा । PM Swamitva Yojana के तहत इन लोगों को उनके प्रॉपर्टी का असली हक उपलब्ध कराया जाएगा जिसके तहत इन्हें पीएम स्वामित्व कार्ड तथा जमीन के दस्तावेज उपलब्ध कराए जाएंगे ।

✔️ पीएम स्वामित्व योजना फिलहाल किन किन राज्य में शुरू है ?

वैसे तो यह केंद्र सरकार की योजना है यानी इसे भारत के हर राज्य में लागू किया जाएगा लेकिन फिलहाल इसे 6 राज्यों में चालू किया गया है जो निम्नलिखित हैं :- यूपी ,महाराष्ट्र , कर्नाटक , हरियाणा , मध्य प्रदेश तथा उत्तराखंड

✔️ क्या स्वामित्व योजना सर्वे से घबराने की जरूरत है ?

“नहीं” प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के तहत अगर आपके ग्राम पंचायत में किसी प्रकार का सर्वे हो रहा है और आपसे कोई जानकारी पूछी जा रही है तो आप अपना सही जानकारी दर्ज करें तथा अपनी प्रॉपर्टी की संपूर्ण जानकारी दर्ज करें ताकि आपके संपूर्ण प्रॉपर्टी पर आपके मालिकाना हक को सुनिश्चित किया जा सके और भविष्य में आपके साथ कोई भी फर्जीवाड़ा या धोखाधड़ी ना हो ।

✔️ पीएम मोदी प्रॉपर्टी कार्ड कितने लोगों को और कब तक वितरित की जाएगी ?

फिलहाल पीएम मोदी के द्वारा ऑफीशियली ट्वीट कर बताया गया है कि अभी 100000 ग्रामीणों को पीएम मोदी प्रॉपर्टी कार्ड वितरित की जाएगी जिसके लिए उनके मोबाइल पर s.m.s. के द्वारा एक लिंक भेजा जाएगा जिस लिंक पर क्लिक कर वह अपने प्रॉपर्टी कार्ड को डाउनलोड कर पाएंगे साथ ही ग्राम पंचायतों के माध्यम से भी प्रॉपर्टी कार्ड ऑफलाइन इन लोगों को दे दिया जाएगा ।

✔️ पीएम स्वामित्व योजना के फायदे क्या है ?

वैसे तो इस योजना के बहुत सारे फायदे हैं लेकिन इनमें कुछ प्रमुख फायदे हम आपको बता रहे हैं ।
➡️ प्रॉपर्टी पर आसानी से ऋण लेने की सुविधा
➡️ जमीन पर पूरी तरह से मालिकाना हक
➡️ जमीन का रिकॉर्ड ऑनलाइन पोर्टल पर उपलब्ध होना
➡️ जमीन मालिक का पूरा रिकॉर्ड पोर्टल पर उपलब्ध रहना
➡️ फर्जीवाड़े धोखाधड़ी भूमि माफिया के ऊपर प्रतिबंध ।

1 thought on “स्वामित्व योजना क्या है – PM Swamitva Yojana 2021 | SVAMITVA Scheme”

Leave a Comment