अब जिओ नहीं रहा फ्री, वॉइस कॉल करने पर देने होंगे इतने पैसे प्रति मिनट । No more Free Call’s on Jio

Please share this
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

              इस पोस्ट में क्या है ?

इस पोस्ट में क्या है ?

 सम्बंधित पोस्ट

रिलायंस जियो अपने वॉइस कॉलिंग के पैक और इसके चार्जेस के ऊपर एक बहुत बड़ा बदलाव करने जा रहा है अब रिलायंस जियो से दूसरे ऑपरेटर पर कॉल करने के लिए ग्राहकों को 6 पैसे प्रति मिनट चुकाने होंगे , यानी कि रिलायंस जिओ से अन्य ऑपरेटर फ्री कॉलिंग अब फ्री नहीं रही ।

No more Free Call's on Jio

क्या हुआ बदलाब । No more Free Call’s on Jio

अगर आप एक जिओ धारक हैं और अन्य सिम पर अगर आप कॉल करते हैं जो पहले फ्री हुआ करता था, अब रिलायंस जिओ के माध्यम से अन्य ऑपरेटर पर कॉल करने के लिए आपको 6 पैसे प्रति मिनट चुकाने पड़ेंगे । रिलायंस जियो ने इसकी ऑफिशियल जानकारी अपने ऑफिशियल वेबसाइट के माध्यम से दे दी है । जिओ ने बताया कि दूसरी कंपनी के नेटवर्क पर कॉल करने पर अब ग्राहकों को 6 पैसे प्रति मिनट चुकाने पड़ेंगे , जब भी कोई ऑपरेटर दूसरे ऑपरेटर पर कॉल कनेक्ट करता है तो उसके लिए IUC के चार्जेस ₹6 पैसे प्रति मिनट जाते हैं जिसके ऊपर TRAI ने बहुत पहले ही नियम बनाया था । अब तक IUC चार्जेस को जिओ अपने खाते से देता आ रहा है और इस आधिकारिक बयान में जिओ ने यह भी बताया कि 13,500 करोड़ रुपए से भी अधिक अब तक जियो ने IUC CHARGES के नाम पर अन्य कंपनियों को दे दिया है ।

अब क्यूँ नही देगा JIO फ्री कॉलिंग ?

जिओ जब मार्केट में कदम रखी थी तब अपने ग्राहकों को या 9 अक्टूबर 2019 तक अपने ग्राहकों को फ्री कॉलिंग की सुविधा देती थी जो सभी ऑपरेटर पर था । TRAI के द्वारा जिओ के आने से बहुत पहले ही एक नियम लगाया गया था जिसके अंतर्गत एक ऑपरेटर अगर दूसरे ऑपरेटर पर कॉल करता है तो इस स्थिति में 6 पैसे प्रति मिनट कॉल करने वाले जिस ऑपरेटर पर कॉल किया गया हो उसको देनी होती है । जिओ ने अपने ऑफिशियल बयान में यह भी बताया कि रोजाना बहुत सारे ऐसे मिस कॉल आते हैं जिओ पर जिसके एवज में उन्हें कॉल बैक किया जाता है और इस वजह से जियो का बहुत ज्यादा नुकसान हो रहा है । अब तक जियो ने अपने ग्राहकों के लिए IUC CHARGES अपने जेब से दिए थे जिसमें 13,500 करोड़ रुपए जिओ के जा चुके हैं ।

TRAI का IUC का क्या है नियम ?

IUC यानी इंटरकनेक्ट यूजेज़ चार्ज :- जब कोई ऑपरेटर अपना कॉल किसी और ऑपरेटर से कनेक्ट करवाता है तो ऐसी स्थिति में यह इंटरकनेक्ट यूजर चार्ज के अंतर्गत आ जाती है और TRAI के नियमों के अनुसार इस चार्जेस को 6 पैसे प्रति मिनट रखा गया है । उदाहरण से समझते हैं ;- यदि एक जिओ यूजर किसी दूसरे उदाहरण के लिए एयरटेल यूजर को कॉल करता है और 2 मिनट के लिए बात करता है तो ऐसी स्थिति में जिओ कंपनी एयरटेल को 8 पैसे देगी । भले ही जिओ ने अपने ग्राहकों से कॉलिंग के लिए पैसे ना लिए हो लेकिन IUC के तहत उसे यह पैसा देना ही होगा । साधारण शब्दों में आप बस यह समझ लीजिए कि अगर आप जिओ के नंबर से किसी दूसरे ऑपरेटर पर कॉल करते हैं तो अब आपको इसके लिए 6 पैसे प्रति मिनट IUC चार्जेस देने होंगे ।

अब जियो ग्राहकों के पास क्या है ऑप्शन ?

अगर आप एक जिओ ग्राहक हैं और आप इस बदलाव को देखकर सोच रहे है कि आप जियो से किसी दूसरी कंपनी में PORT हो जाए तो ठहर जाइए । TRAI ने यह चार्जेज सभी ऑपरेटर पर लगा रखी है अभी जिओ अपने ग्राहकों से IUC के नाम पर 6 पैसे प्रति मिनट ले रहा है आने वाले समय में ज्यादातर संभावना है कि अन्य ऑपरेटर भी अपने ग्राहकों से IUC के नाम पर कम से कम 6 पैसे प्रति मिनट लेगी ।

अगर ग्राहक अभी भी अन्य ऑपरेटर पर बात करना चाहते हैं तो उसके लिए इनके पास क्या ऑप्शन मौजूद हैं ?

चुकी आपने जान लिया कि अगर आप जिओ के नंबर से किसी और नंबर पर कॉल करते हैं तो इसके लिए आपको 6 पैसे प्रति मिनट देने होंगे जिसको देखते हुए जियो ने कुछ प्लान लांच किए हैं जो टॉप अप वाउचर के तौर पर आप इस्तेमाल में ले सकते हैं ।

जिओ IUC टॉप-अप वाउचर कुछ इस प्रकार से हैं ।

₹10 के रिचार्ज में आपको IUC यानी दूसरे ऑपरेटर पर आउटगोइंग कॉल करने के लिए 124 मिनट दिए जाएंगे जिसमें आपको 1GB डाटा भी फ्री दिया जाएगा ।

₹20 के रिचार्ज में आपको IUC यानी दूसरे ऑपरेटर पर आउटगोइंग कॉल करने के लिए 249 मिनट दिए जाएंगे और 2GB डाटा भी फ्री दिया जाएगा

₹50 के रिचार्ज में आपको IUC यानी दूसरे ऑपरेटर पर आउटगोइंग कॉल करने के लिए 656 मिनट दिए जाएंगे और 5GB डाटा अतिरिक्त दिया जाएगा

₹100 के रिचार्ज में आपको IUC यानी दूसरे ऑपरेटर पर आउटगोइंग कॉल करने के लिए 1362 मिनट दिए जाएंगे और 10GB डाटा अतिरिक्त दिया जाएगा ।

जिओ अब तक क्यों दे रहा था फ्री अनलिमिटेड कॉलिंग ।

TRAI का IUC का नियम तो पहले भी था लेकिन जियो क्यों थी फ्री ? यह सवाल आपके मन में भी चल रहा होगा चलिए इसकी जवाब की ओर !

TRAI ने बहुत पहले ही IUC के नियम को बना दिया था जिसके अंतर्गत अन्य टेलीकॉम ऑपरेटर पर कॉल करने के लिए 6 पैसे प्रति मिनट देने होते थे जब जिओ आया था तो TRAI के ऊपर एक प्रस्ताव रखा गया था और कहा यह जा रहा था कि जनवरी 2020 तक IUC अपने चार्जेस को खत्म कर देगी यानी कि अगर एक ऑपरेटर दूसरे ऑपरेटर पर कॉल कनेक्ट करता है तो इसके लिए उसे एक पैसे भी देने नहीं होंगे , जिस को ध्यान में रखते हुए जिओ ने अपने ग्राहकों को फ्री में कॉलिंग की सुविधा दी लेकिन अभी TRAI का यह कहना है कि इसके ऊपर विचार किया जाएगा और अभी IUC चार्जेस को पूरी तरह से खत्म नहीं की जा रही है और तो और अब तक
जियो IUC चार्जेस के नाम पर 13,500 करोड़ से भी अधिक रुपए का भुगतान कर चुकी है ।

20 से 30 करोड़ मिस कॉल रोज आते हैं जिओ के नेटवर्क पे ।

जिओ ने यह भी बताया कि पिछले 3 सालों में वह IUC चार्जेस के तौर पर 13,500 करोड रुपए तक का भुगतान दूसरे ऑपरेटरों को कर चुका है । अब तक जियो ने इसका बोझ अपने ग्राहकों पर नहीं डाला था क्योंकि उम्मीद थी 2020 तक इस चार्जेस को खत्म कर देने की लेकिन जैसा कि TRAI ने बताया अभी इस चार्जेस को खत्म नहीं किया जा रहा है । तो ना चाहते हुए भी IUC चार्जेस अब ग्राहकों को ही चुकानी होगी । जिओ ने यह भी बताया कि जिओ के नेटवर्क पर रोजाना 20 से 30 करोड़ मिस कॉल आते हैं । जिस को पूर्ण करने के लिए जिओ के नंबर से उस ऑपरेटर पर कॉल बैक किया जाता है और ऐसी स्थिति में जिओ को 6 पैसे प्रति मिनट उस ऑपरेटर को देने पर जाते हैं ।

नोट :- जिओ ने यह भी बताया अगर TRAI IUC CHARGES को जीरो कर देती है वह अपने ग्राहकों से 6 पैसे प्रति मिनट की वसूली नहीं करेगा और पहले की तरह ही जियो से अन्य ऑपरेटर पर भी कॉलिंग की सुविधा फ्री ही रहेगी ।

ध्यान रखें :-

◆ अभी भी आपको जियो टू जियो कॉलिंग के लिए कोई पैसा नहीं देना है यह पूरी तरह से फ्री है क्योंकि इसमें IUC के चार्जेस नहीं लगते हैं ।

◆ दूसरे नेटवर्क पर कॉल करने के लिए जिओ के ग्राहकों को अब IUC टॉप अप वाउचर लेना होगा जिसकी कीमत ₹10 से शुरू होती है और ₹100 तक जाती है ।

◆ पहले की तरह जियो से जियो पर कॉल इंटरनेट कॉल और इनकमिंग कॉल फ्री रहेंगे ।

◆ अन्य ऑपरेटरों की तरह आपको जिओ में इनकमिंग कॉल के लिए ₹35 प्रतिमाह नहीं देना होगा ।

◆ 10 अक्टूबर 2019 से 6 पैसे प्रति मिनट की यह चार्जेज जिओ के ऊपर लागू हो जाएगा और इससे जिओ के लगभग 35 करोड़ ग्राहक प्रभावित हो जाएंगे ।

नोट :- जिओ का यह नया बदलाव आप लोगों को किस प्रकार से प्रभावित करेगा आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं ।

 


Please share this
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

जरुरी सूचना

दोस्तों, हमारी वेबसाइट (sarkariyojnaa.com)सरकार द्वारा चलाई जाने वाली वेबसाइट नहीं है,ना ही किसी सरकारी मंत्रालय से इसका कुछ लेना देना है | यह ब्लॉग किसी व्यक्ति विशेष द्वारा, जो सरकारी योजनाओं में रुचि रखता है और औरों को भी बताना चाहता है, द्वारा चलाया गया है | हमारी पूरी कोशिश रहती की एकदम सटीक जानकारी अपने पाठकों तक पहुंचे जाए लेकिन लाख कोशिशों के बावजूद भी गलती की सम्भावना को नकारा नहीं जा सकता| इस ब्लॉग के हर आर्टिकल में योजना की आधिकारिक वेबसाइट की जानकारी दी जाती है| हमारा सुझाव है कि हमारा लेख पढ़ने के साथ साथ आप आधिकारिक वेबसाइट से भी जरूर जानकारी लीजिये | अगर किसी लेख में कोई त्रुटि लगती है तो आपसे आग्रह है कि हमें जरूर बताएं |

हम अपने ब्लॉग के माध्यम से रजिस्ट्रेशन नहीं करवाते ना ही कभी भी पैसे कि मांग करते हैं | हमारा उद्देश्य है केवल आप तक सही जानकारी पहुँचाना !