राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना : Krishi Upaj Rahan ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

राजस्थान राज्य सरकार ने Krishi Upaj Rahan Loan Yojana शुरू की है। इस योजना के तहत राज्य में मौजूद सभी छोटे और सीमांत किसानों को ऋण की सुविधा मिलेगी जिसके अनुसार किसानों को आर्थिक मदद मिलेगी। वित्तीय सहायता से किसानों को उनके उत्पादों की कीमत का उचित लाभ मिल सकेगा। इस कृषि उपज रहन ऋण योजना के तहत राज्य के 25,000 से अधिक किसान शामिल हुए हैं। आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के किसानों को न्यूनतम ब्याज दर पर ऋण सहायता की राशि प्रदान की जाएगी।

किसानों को ऋण देने में राज्य सरकार का लक्ष्य यह है कि आर्थिक रूप से पिछड़े किसानों को कृषि कार्य में बेहतर उत्पादन करके उचित मूल्य मिल सके। आज हम इस लेख के माध्यम से कृषि उपज रहान ऋण योजना राजस्थान ऑनलाइन पंजीकरण से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी साझा करेंगे। इसलिए इस योजना का पूरा लाभ पाने के लिए आपको इस लेख को पूरा पढ़ने की जरूरत है।

Krishi Upaj Rahan Loan Yojana ,  राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना 2022

 

राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण (Krishi Upaj Rahan Loan Yojana 2022) योजना क्या है?

Krishi Upaj Rahan Loan Yojana 2022 के तहत राज्य के सभी छोटे और सीमांत किसानों को 1.5 लाख रुपये तक का ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। लाभार्थी किसानों को किसानों द्वारा एकत्र की गई ब्याज राशि का 3 प्रतिशत बैंकों को वापस करना होगा शेष ब्याज राशि का भुगतान राज्य सरकार द्वारा किया जाएगा। इसके साथ ही राज्य में मौजूद बड़े पैमाने के किसानों को 3 लाख रुपये तक की ऋण राशि प्रदान की जाएगी। लाभार्थी किसानों को 11 प्रतिशत ब्याज दर पर ऋण राशि प्रदान की जाएगी।

इस योजना के तहत किसानों को कल्याण कोष से दिए जाने वाले कर्ज की अदायगी की जाएगी। कृषि उपज रहान ऋण योजना राजस्थान का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी किसानों को योजना के तहत ऑनलाइन पंजीकरण करने की आवश्यकता है। पंजीकरण के बाद ही आप योजना से जुड़ी ऋण सेवाओं का लाभ प्राप्त कर सकेंगे।

Highlights OF Krishi Upaj Rahan Loan Yojana 2022

🔥 योजना का नाम 🔥 राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना (Krishi Upaj Rahan Loan Yojana 2022)
🔥 किसके द्वारा शुरू की गयी 🔥 मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा
🔥 विभाग 🔥 कृषि विभाग राजस्थान
🔥 आवेदन करने की तिथि 🔥 अभी उपलब्ध है
🔥 लाभार्थी 🔥 राज्य के लघु एवं सीमांत किसान
🔥 उद्देश्य 🔥 किसानों को कृषि कार्य हेतु कम ब्याजमूल्य की दर से लोन सहायता उपलब्ध करवाना
🔥 आधिकारिक वेबसाइट 🔥 Click Here  www.agriculture.rajasthan.gov.in

कृषि उपज रहन ऋण योजना

कृषि उपज रहन ऋण योजना के उद्देश्य

Krishi Upaj Rahan Loan Yojana 2022 राजस्थान का मुख्य उद्देश्य किसानों को कृषि कार्य में बेहतर रिटर्न के लिए कम कीमत पर ब्याज दर पर ऋण सहायता प्रदान करना है। यह ऋण राशि किसानों को 3 महीने की अवधि के लिए प्रदान की जाती है ताकि वे अपनी बाहरी जरूरतों को पूरा कर सकें। निजी आयोजन के लिए किसानों को 6 महीने की अवधि के लिए ऋण राशि प्रदान की जाती है। योजना के तहत ऋण प्राप्त कर किसान कृषि क्षेत्र में अधिक उत्पादन कर सकते हैं। यह विशेष पहल सरकार द्वारा कृषि कार्यों की गुणवत्ता में सुधार और किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार के लिए शुरू की गई है।

इस योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए राज्य सरकार ने 50 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है राज्य में 2 हेक्टेयर से कम कृषि भूमि वाले किसान राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना का लाभ प्राप्त करने के पात्र हैं।

कृषि उत्पादों के लिए जीवनयापन ऋण कार्यक्रम के लिए पात्रता

  • आवेदक राजस्थान का स्थायी निवासी होना चाहिए। राज्य में केवल छोटे और सीमांत किसान ही इस योजना के तहत पात्र होंगे।
  • जिन किसानों के पास एक हेक्टेयर से कम जमीन है उन्हें भी इस योजना का लाभ मिलेगा।
  • 2 हेक्टेयर से कम जमीन वाले किसान भी इस योजना के लिए पात्र हैं।
  • इस योजना का लाभ केवल राजस्थान राज्य के निवासी ही उठा सकते हैं। राज्य के किसी भी जिले में रहने वाले किसान इस व्यवस्था का लाभ उठा सकते हैं।
  • समय के अंत में ऋण का भुगतान करने वाले किसानों को अतिरिक्त 2% ब्याज वापसी प्राप्त होगी।

कृषि उपज रहन ऋण योजना राजस्थान के लाभ

  • राजस्थान कृषि उत्पाद ऋण के तहत जो किसान जल्दी ऋण चुकाएंगे उन्हें ब्याज दर पर 2 प्रतिशत की छूट मिलेगी।
    प्रदेश के 25 फीसदी से ज्यादा किसानों को तीन फीसदी की दर से कर्ज लेने की सुविधा मिलेगी
  • राजस्थान Krishi Upaj Rahan Loan Yojana 2022 के तहत छोटे और सीमांत किसानों को 1.5 लाख रुपये तक की ऋण राशि प्राप्त करने का अवसर मिलेगा।
  • राज्य के वे सभी किसान जिनके पास 2 हेक्टेयर से कम कृषि भूमि है उन्हें भी योजना के तहत आवेदन करने के लिए शामिल किया गया है।
  • इस योजना के तहत राज्य में छोटे और सीमांत किसानों के जीवन स्तर में सुधार होगा।
  • सीमांत किसानों को कृषि कार्य के उत्पादन के लिए 3 प्रतिशत की दर से ब्याज की राशि का भुगतान करना होगा। शेष 7 प्रतिशत का भुगतान राज्य सरकार करेगी।
  • रहन योजना कृषि उपज ऋण के तहत राज्य में लाभार्थी किसानों को उनकी उपज का उचित मूल्य मिलेगा।
  • यदि राजस्थान कृषि उपज रहाण ऋण योजना में शामिल समिति के कर्मचारी बेहतर भूमिका निभाते हैं तो एपेक्स बैंक के तहत प्रोत्साहन योजना भी शुरू की जाएगी।
  • कृषि उत्पाद ऋण कार्यक्रम किसानों के आर्थिक पक्ष को मजबूत करने में मदद करेगा।

राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना पात्रता और मानदंड

कृषि उपज रहन ऋण योजना का लाभ उठाने के लिए उम्मीदवार किसानों को आवश्यक पात्रता को पूरा करना होगा। हम आपको इस पात्रता के बारे में नीचे दिए गए बिंदुओं के माध्यम से सूचित करते हैं।

  • कृषि उपज रहन ऋण योजना में राज्य के केवल छोटे और सीमांत किसान ही आवेदन करने के पात्र माने जाएंगे।
  • योजना के तहत आवेदन करने के लिए केवल राज्य के मूल निवासी किसानों को ही शामिल किया गया है।
  • राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना किसान के बैंक खाते के विवरण को आधार कार्ड से जोड़ना अनिवार्य है।
  • योजना के तहत राज्य में किसानों को एनपीए का लाभ 10 प्रतिशत से कम होना चाहिए।

आवश्यक दस्तावेज

कृषि उपज रहन ऋण योजना के लिए आवेदन करने के लिए किसानों को आवेदन करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेजों की आवश्यकता होगी। इन दस्तावेजों के बारे में हम कुछ पॉइंट्स के जरिए बात करने जा रहे हैं।

  • लाभार्थी किसान का मतदाता पंजीकरण कार्ड
  • आवासीय प्रमाण पत्र
  • वेतन प्रमाण पत्र
  • कृषि भूमि दस्तावेज
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • आधार कार्ड से जुड़ा बैंक खाता
  • मोबाइल फोन नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • फसल संबंधी दस्तावेज
  • शपथ घोषणा

राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना के लिए ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करें?

राज्य के इच्छुक लाभार्थी जो Krishi Upaj Rahan Loan Yojana के तहत ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं वे नीचे दी गई प्रक्रिया के माध्यम से आसानी से आवेदन कर सकते हैं

Krishi Upaj Rahan Loan Yojana 2022

  • राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना के लिए ऑनलाइन पंजीकरण करने के लिए कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • उसके बाद आपकी स्क्रीन पर वेबसाइट का मेन पेज खुल जाएगा।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद होम पेज पर लाइव फार्म लोन प्रोग्राम के विकल्प पर क्लिक करें।
  • आवेदन पत्र अगले पृष्ठ पर आवेदक स्क्रीन पर खुल जाएगा।
  • आवेदन पत्र पर आवेदक किसान को आवेदन पत्र में मांगी गई सभी जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • जैसे आवेदक का नाम, मोबाइल नंबर, पता, बैंक विवरण, जिला, क्षेत्र, खेती की जानकारी, भूमि की जानकारी, आधार कार्ड नंबर आदि।
  • सभी जानकारी को पूरा करने के बाद आवेदक को फॉर्म के साथ सभी आवश्यक दस्तावेजों की स्कैन कॉपी अपलोड करनी होगी।
  • पूरी प्रक्रिया को पूरा करने के बाद सबमिट बटन पर क्लिक करें।
  • इस प्रकार आपकी राजस्थान कृषि उपज निर्वाह ऋण योजना ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी।

हेल्पलाइन नंबर

जैसा कि हमने आपको इस लेख में कृषि उपज रहन योजना राजस्थान से संबंधित सभी जानकारी दी है लेकिन अगर आपको इस जानकारी के अलावा किसी अन्य जानकारी की आवश्यकता है तो आप नीचे टिप्पणी अनुभाग में संदेश के माध्यम से पूछ सकते हैं। हमें उम्मीद है कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपके काम आएगी।

ध्यान दें :- ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम सबसे पहले अपने इस वेबसाइट sarkariyojnaa.com के माध्यम से देते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…

Posted by Amar Gupta

🔥🔥 Join Our Group For All Information And Update, Also Follow me For Latest Information🔥🔥

🔥 Follow US On Google News Click Here
🔥 Whatsapp Group Join Now Click Here
🔥 Facebook Page Click Here
🔥 Instagram Click Here
🔥 Telegram Channel Techgupta Click Here
🔥 Telegram Channel Sarkari Yojana Click Here
🔥 Twitter Click Here
🔥 Website  Click Here

FAQ Krishi Upaj Rahan Loan Yojana 2022 से जुड़े कुछ सवाल और जवाब

✔️ कृषि उपज ऋण कार्यक्रम के तहत किसानों को कितना ब्याज देना होगा?

कृषि उत्पाद ऋण कार्यक्रम के तहत किसानों द्वारा लिए गए ऋण पर ब्याज 3 प्रतिशत के आधार पर चुकाया जाएगा शेष सात प्रतिशत राज्य सरकार द्वारा ही वसूल किया जाएगा।

✔️ कृषि उपज रहन ऋण योजना क्यों शुरू की गई है?

यह योजना राजस्थान राज्य में छोटे और सीमांत किसानों के लिए शुरू की गई है इस योजना के तहत राज्य में मौजूद उन किसानों को ऋण सहायता की राशि दी जाएगी जो अपनी आर्थिक स्थिति के कारण उत्पादन और बिक्री करने में सक्षम हैं। कृषि क्षेत्र में उनकी फसल। क्षेत्र रक्षाहीन है। इन असहाय किसानों की आर्थिक मदद के लिए कृषि उपज रहाण ऋण योजना शुरू की गई थी।

✔️ योजना के तहत लघु एवं सीमांत किसानों को कितनी ऋण राशि उपलब्ध कराई जाएगी?

राजस्थान कृषि वस्तु ऋण योजना के तहत लघु एवं सीमांत किसानों को 1 लाख 50 हजार रुपये तक की अल्पकालीन ऋण राशि प्रदान की जाएगी।

✔️ क्या राज्य के अन्य किसानों को भी राजस्थान कृषि उपज जीवनयापन ऋण योजना के तहत ब्याज की राशि का रिफंड मिलेगा?

नहीं राजस्थान कृषि उपज रहाण ऋण योजना के तहत राज्य में मौजूद बड़े पैमाने के किसानों को ऋण लेने के लिए किसी भी प्रकार की छूट नहीं दी जाएगी।

✔️ किसानों के लिए किस प्रकार की ऋण प्रणाली शुरू की गई है?

यह राजस्थान सरकार द्वारा शुरू की गई किसानों के लिए एक अल्पकालिक ऋण योजना है जिसके आधार पर किसानों को अल्प अवधि के लिए यह ऋण प्रदान किया जाता है। सब्सिडी लाभ प्रदान किया जाता है।

✔️ कृषि उपज रहान ऋण योजना में कितनी समितियों को शामिल किया गया है?

कृषि उपज रहान ऋण योजना के तहत पांच हजार पांच सौ समितियों को शामिल किया गया है। जिससे राज्य के अधिक से अधिक किसान लाभान्वित हो सकें।

Leave a Comment