Kisan Vikas Patra Yojana , Post Office Kisan Scheme 2020 ; किसान विकास पत्र योजना 2020 , ब्याज दर, कैलकुलेटर, बेनिफिट ।

Please share this
  •  
  • 789
  •  
  • 786
  • 791
  •  
    2.4K
    Shares

Kisan Vikas Patra Yojana , Post Office Kisan Scheme 2020 ; किसान विकास पत्र योजना 2020 , ब्याज दर, कैलकुलेटर, बेनिफिट ।

इस पोस्ट में क्या है ?

|| Kisan Vikas Patra Eligibility And Features , Kisan Vikas Patra Yojana, KVP , Kisan Vikas Patra Yojana in Hindi , किसान विकास पत्र योजना 2020 के लिए आवेदन कैसे करें , किसान विकास पत्र ब्याज दर , किसान विकास पत्र योजना कैलकुलेटर , पोस्ट ऑफिस किसान स्कीम ||

Kisan Vikas Patra Yojana 2020

भविष्य को सुरक्षित करने के लिए निवेश कर बचत करना बहुत बड़ी बात होती है सरकार देश के नागरिकों के प्रति बचत की आदत को बढ़ावा देने के लिए तरह-तरह की योजनाएं समय समय पर शुरू करती रहती है इसी में केंद्र सरकार के द्वारा किसान विकास पत्र योजना का भी आरंभ किया गया है । Kisan Vikas Patra Yojana 2020 की शुरुआत ऐसे लोगों के लिए की गई है जो टर्म निवेश पर जोखिम नहीं उठाना चाहते हैं । आज हम आपको Kisan Vikas Patra Yojana 2020 से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी देंगे , साथ ही हम आपको बताएंगे किसान विकास पत्र योजना क्या है? , इसके उद्देश्य , इस योजना के तहत मिलने वाले ब्याज दर और आवेदन की प्रक्रिया । साथ ही सभी महत्वपूर्ण जानकारी आज के इस आर्टिकल की सहायता से आपको sarkariyojnaa.com के द्वारा दी जाएगी ।

Kisan Vikas Patra Yojana

Post Office Kisan Vikas Patra Scheme 2020

किसान विकास पत्र योजना एक प्रकार का बचत योजना है जिसमें निवेश की अवधि के बाद निवेश की रकम को दोगुना करके दी जाती है । किसान विकास योजना के लिए आवेदन आप अपने बैंक में या फिर डाकघर में कर सकते हैं । Kisan Vikas Patra Yojana 2020 में निवेश की अवधि 10 साल और 4 महीने यानी कि 124 महीने तक की होती है और 124 महीने बाद आपको पैसा दोगुना करके दिया जाता है । वैसे तो इस योजना का नाम किसान विकास पत्र रखा गया है लेकिन यह जरूरी नहीं है कि इस योजना के अंतर्गत केवल किसान ही आवेदन करें किसान विकास पत्र योजना के अंतर्गत कोई भी भारतीय नागरिक आवेदन कर इसका लाभ ले सकता है । Kisan Vikas Patra Yojana 2020 के तहत आवेदन करने के लिए केबीपी प्रमाण पत्र खरीदना होगा जिसका न्यूनतम निवेश ₹1000 तक है , वैसे इस निवेश की कोई ऊपरी सीमा नहीं है आप जितना चाहे उतना इस योजना के अंतर्गत निवेश कर सकते हैं । बस किसान विकास पत्र योजना के तहत अगर आप 50,000 से ऊपर का निवेश करते हैं तो आपको अपने पैन कार्ड की डिटेल देनी होती है ।

पोस्ट ऑफिस किसान विकास पत्र योजना ब्याज, रिटर्न और निकासी

Kisan Vikas Patra Yojana 2020 पर मौजूदा मिलने वाला ब्याज दर 6.9% है जो 124 महीने के बाद निवेश की राशि को दोगुना करके प्रदान की जाती हैं। इसके साथ ही अगर कोई निवेशक किसान विकास पत्र योजना से समय से पहले निकासी करना चाहता है तो इसका भी प्रावधान किया गया है लेकिन यदि निवेशक प्रमाण पत्र खरीदने के 1 वर्ष के भीतर योजना से बाहर निकलना चाहता है या निकासी करना चाहता है तो इस स्थिति में उसे ब्याज दर नहीं दिया जाएगा और उसे इसके लिए जुर्माना भी देना होगा । लेकिन यदि निवेशक किसान विकास पत्र खरीदने के 1 साल के बाद निकासी करता है तो उसे जुर्माना नहीं देना होगा लेकिन ब्याज दर भी 6.9% से कम मिलेगी । इसी प्रकार से यदि निवेशक Kisan Vikas Patra Yojana 2020 ढाई साल के बाद निकासी करता है तो उसे 6.9% का ब्याज दर भी मिलेगा और किसी प्रकार का जुर्माना भी नहीं देना होगा ।

🔥🔥 Post Office Kisan Vikas Patra Yojana 2020 KVP Highlights 🔥🔥

🔥 योजना का नामकिसान विकास पत्र योजना
🔥 शुरू किया गयाकेंद्र सरकार के द्वारा
🔥 लाभार्थीभारत का हर एक नागरिक
🔥 उद्देश्यदेशवासियों के प्रति बचत की भावना को प्रोत्साहित करना तथा बचत खातों में निवेश करने की दर को बढ़ाना ।
🔥 वर्ष2020
🔥 KVP अधिकतम निवेश की सीमाकोई सीमा नहीं
🔥 KVP न्यूनतम निवेश की सीमाकम से कम ₹1000
🔥 खाते की मैच्योरिटी की अवधि10 वर्ष 4 महीने यानी कुल 124 महीने
🔥 योजना पर मिलने वाला ब्याज दर6.9%
🔥 आवेदन किया जा सकता हैपोस्ट ऑफिस तथा बैंक के द्वारा

किसान विकास पत्र योजना न्यूनतम निवेश तथा अधिकतम निवेश की सीमा क्या है ?

Kisan Vikas Patra Yojana 2020 के अंतर्गत निवेशक के लिए न्यूनतम निवेश की सीमा तो ₹1000 की सुनिश्चित की गई है लेकिन इस योजना के तहत अधिकतम निवेश की कोई सीमा नहीं है , लेकिन अगर निवेशक के द्वारा ₹50,000 या उससे अधिक का निवेश किया जाता है तो उसे पैन कार्ड की डिटेल देनी होती है । किसान विकास पत्र योजना के अंतर्गत निवेश बाजार के जोखिमों से संबंधित नहीं है यानी यह एक ऐसी योजना है जिसमें निवेशक को किसी प्रकार की जोखिम नहीं होती हैं ।

किसान विकास पत्र योजना के उद्देश्य क्या है ?

किसान विकास पत्र योजना को शुरू करने का उद्देश्य लोगों में निवेश की भावना को प्रेरित करना है चुकी इस योजना के अंतर्गत निवेश की रकम को दोगुना करके निवेशक को लौटा दी जाती हैं यानी इस फायदे से ज्यादा से ज्यादा लोग लाभान्वित होंगे और इस योजना के तहत निवेश करने के प्रति ज्यादा इच्छुक होंगे । Kisan Vikas Patra Yojana 2020 के अंतर्गत निवेशक 124 महीने के लिए निवेश करता है जिस पर उन्हें 6.9% ब्याज दर दिया जाता है यानी इस योजना से निवेशक को अधिक रिटर्न मिलेगा और उनकी आर्थिक स्थिति भी योजना की मेच्योरिटी होने पर अच्छी हो जाएगी।

किसान विकास पत्र योजना के लाभ तथा विशेषताएं क्या है ?

  • ➡️ किसान विकास पत्र योजना एक ऐसी योजना है जो बाजार के जोखिम से मतलब नहीं रखता है इस योजना के अंतर्गत निवेशक अपने निवेश की रकम को दोगुना कर सकता है ।
  • ➡️ Kisan Vikas Patra Yojana 2020 के अंतर्गत निवेशक को कम से कम 124 महीने यानी 10 साल 4 महीने के लिए निवेश करना होगा ।
  • ➡️ पोस्ट ऑफिस किसान विकास पत्र योजना के अंतर्गत न्यूनतम निवेश ₹1000 है ।
  • ➡️ किसान विकास पत्र योजना के तहत अधिकतम निवेश की कोई सीमा नहीं है लेकिन यदि निवेशक के द्वारा ₹50,000 या उससे अधिक का निवेश किया जाता है तो उसे अपने पैन कार्ड की जानकारी देनी होती है ।
  • ➡️ Kisan Vikas Patra Yojana 2020 के लिए आवेदन निवेशक या तो पोस्ट ऑफिस के माध्यम से कर सकते हैं या फिर अपने बैंक शाखा के माध्यम से ।
  • ➡️ किसान विकास पत्र योजना की सबसे बड़ी विशेषता यह भी है कि इस योजना को एक पोस्ट ऑफिस से दूसरे पोस्ट ऑफिस में या फिर एक बैंक से दूसरे बैंक में ट्रांसफर किया जा सकता है।
  • ➡️ निवेशकों के द्वारा KVP Form कैश या फिर चेक के माध्यम से भरा जा सकता है ।
  • ➡️ जब भी आवेदक के द्वारा किसान विकास फॉर्म सबमिट किया जाता है उसे एक किसान विकास सर्टिफिकेट प्रदान की जाती है इस सर्टिफिकेट पर स्कीम की मैच्योरिटी डेट, आवेदक का विवरण तथा मेच्योरिटी अमाउंट की जानकारी मौजूद होती है
  • ➡️ किसान विकास पत्र योजना पर 6.9% ब्याज दर दिया जाता है ।
  • ➡️ वैसे तो अब किसान विकास पत्र योजना के अंतर्गत निवेशकों के द्वारा कभी भी निकासी की जा सकती है लेकिन यदि निकासी 1 वर्ष के भीतर की जाती है तो इस योजना पर कोई भी ब्याज दर नहीं दिया जाएगा साथ ही निवेशक से जुर्माना भी लिया जाएगा । इसी प्रकार से अगर आवेदक 1 वर्ष के बाद निकासी करता है तो उसे जुर्माना नहीं लिया जाएगा और ना ही ब्याज दर दिया जाएगा और अगर निवेशक ढाई साल में निकासी करता है तो उसे जुर्माना नहीं लिया जाएगा और ब्याज दर 6.9% दिया जाएगा ।
  • ➡️ किसान विकास पत्र योजना को गारंटी के तौर पर लोन प्राप्त करने के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है ।

तो अब तक आपने किसान विकास पत्र योजना इसके उद्देश्य तथा इसके मिलने वाले लाभों की जानकारी प्राप्त की आगे हम इस की पात्रता और आवेदन करने की प्रक्रिया की जानकारी लेंगे ।

किसान विकास पत्र योजना पात्रता / Eligibility For Kisan Vikas Patra Scheme

  1. ➡️ इस योजना के अंतर्गत कोई भी व्यक्ति आवेदन कर सकता है बशर्ते वह एक भारत का नागरिक होना चाहिए ।
  2. ➡️ निवेश करता की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए ।
  3. ➡️ यदि निवेशक माइनर है तो इस स्थिति में उसके माता पिता के द्वारा किसान विकास पत्र योजना के अंतर्गत निवेश किया जा सकता है ।
  4. ➡️ हिंदू एकीकृत परिवार या फिर अनिवासी भारतीय यानी एनआरआई इस योजना के अंतर्गत आवेदन नहीं कर सकते हैं ।

Kisan Vikas Patra Yojana 2020 Required Documents

  1. ➡️ आधार कार्ड
  2. ➡️ KVP Application Form
  3. ➡️ पैन कार्ड
  4. ➡️ निवास प्रमाण पत्र
  5. ➡️ आयु प्रमाण पत्र
  6. ➡️ पासपोर्ट साइज फोटो
  7. ➡️ मोबाइल नंबर और कुछ निजी जानकारी ।

किसान विकास पत्र योजना

किसान विकास पत्र योजना में आवेदन कैसे कर सकते हैं ?

यदि आप किसान विकास पत्र योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए आप दो माध्यमों से आवेदन कर सकते हैं पहला ऑफलाइन तथा दूसरा ऑनलाइन  , ऑनलाइन और ऑफलाइन आवेदन में भी दो प्रकार होते हैं आप पोस्ट ऑफिस के माध्यम से ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं तथा आपका जिस बैंक में खाता है उस बैंक में भी शाखा के माध्यम से ऑफलाइन तथा बैंक की आधिकारिक वेबसाइट से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं ।

किसान विकास पत्र योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करें ?

किसान विकास पत्र योजना ऑनलाइन आवेदन करने के लिए नीचे बताए गए प्रक्रिया को ध्यान पूर्वक अपनाए ।

Kisan Vikas Patra Yojana Online Application Process Step By Step

  1. ➡️ सबसे पहले आप यदि बैंक के माध्यम से आवेदन करना चाहते हैं तो अपने बैंक के अधिकारिक वेबसाइट पर जाएंगे या अगर आप पोस्ट ऑफिस के माध्यम से आवेदन करना चाहते हैं तो इंडियन पोस्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएंगे ।
  2. ➡️ वेबसाइट पर जानते ही आपके सामने इन वेबसाइट का Home Page खुल कर आ जाएगा ।
  3. ➡️ Home Page पर आपको बहुत सारे ऑप्शन देखने को मिलेंगे जिसमें आपको इन्वेस्टमेंट प्लान का एक लिंक देखने को मिलेगा । इन्वेस्टमेंट प्लान के लिंक पर क्लिक करें ।
  4. ➡️ जैसे ही आप इन्वेस्टमेंट प्लान के लिंक पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा जहां पर आपको किसान विकास पत्र योजना के लिए आवेदन करने का ऑनलाइन लिंक दिख जाएगा ।
  5. ➡️ जैसे ही आप किसान विकास पत्र ऑनलाइन आवेदन करें कि लिंक पर क्लिक करेंगे आपके सामने KVP Application form खुलकर आ जाएगी जहां पर आपको अपनी संपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी ।
  6. ➡️ सभी जानकारी को दर्ज करने के बाद आपको सभी आवश्यक संबंधित दस्तावेज को अपलोड करना होगा ।
  7. ➡️ सभी दस्तावेज को अपलोड करने के बाद आपको फाइनल सबमिट कर लिंक दिख जाएगा इस लिंक पर क्लिक करने के बाद आपका Kisan Vikas Patra Yojana 2020 के लिए ऑनलाइन आवेदन सफलतापूर्वक हो जाएगा ।

किसान विकास पत्र योजना ऑफलाइन आवेदन कैसे करें ?

किसान विकास पत्र योजना के अंतर्गत अगर आप ऑफलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो इसका भी प्रावधान किया गया है ऑफलाइन आवेदन आप अपने बैंक से या फिर पोस्ट ऑफिस में जाकर कर सकते हैं ।

Kisan Vikas Patra Yojana Offline Application Process Step By Step

  1. ➡️ सबसे पहले आपको अपने नजदीकी पोस्ट ऑफिस जाना होगा या फिर जिस बैंक में आपका खाता है वहां भी जा सकते हैं ।
  2. ➡️ ब्रांच में जाने के बाद आपको ब्रांच अधिकारी से संपर्क करनी होगी और उनसे KVP Application Form की मांग करनी होगी ।
  3. ➡️ KVP Application Form लेने के बाद उसमें पूछी गई सभी जानकारी आपको ध्यान पूर्वक दर्ज करनी होगी ।
  4. ➡️ सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको सभी संबंधित दस्तावेज को इसके साथ अटैच करना होगा ।
  5. ➡️ अब आपका आवेदन फॉर्म कंप्लीट हो चुका है और आप इसे अपने शाखा में या फिर पोस्ट ऑफिस में जमा कर सकते हैं ।
  6. ➡️ जमा करने के बाद आपसे निवेश की रकम पूछी जाएगी अगर आप 50,000 से नीचे का निवेश करते हैं तो आपको पैन कार्ड देने की आवश्यकता नहीं है और अगर आप 50,000 से ऊपर निवेश करते हैं तो पैन कार्ड की डिटेल भी आपको दर्ज करनी होगी ।
  7. ➡️ सभी जानकारी दर्ज करने के बाद और एप्लीकेशन फॉर्म को शाखा में जमा करने के बाद आपका आवेदन किसान विकास पत्र योजना के अंतर्गत हो जाएगा ।
  8. ➡️ किसान विकास पत्र योजना आवेदन हो जाने के बाद आपको एक किसान विकास सर्टिफिकेट दिया जाएगा जिस पर मैच्योरिटी की डेट आपकी जानकारी तथा मैच्योरिटी होने पर मिलने वाला अमाउंट की जानकारी दर्ज रहेगी।

नोट :- तो दोस्तों इस प्रकार से आप ऑनलाइन तथा ऑफलाइन पोस्ट ऑफिस तथा बैंक के माध्यम से किसान विकास पत्र योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं ।

किसान विकास पत्र ट्रांसफर कैसे करें ?

किसान विकास पत्र ट्रांसफर करने के लिए कुछ नियम होते हैं यदि आपने किसान विकास पत्र योजना के लिए आवेदन पोस्ट ऑफिस के माध्यम से किया था तो आप एक पोस्ट ऑफिस से दूसरे पोस्ट ऑफिस में इस योजना को ट्रांसफर कर सकते हैं इसी प्रकार से अगर आपने बैंक शाखा के माध्यम से किसान विकास पत्र योजना के अंतर्गत आवेदन किया था तो आप इसे एक बैंक शाखा से दूसरे बैंक शाखा में ट्रांसफर कर सकते हैं ।

Kisan Vikas Patra Yojana 2020 Account Transfer Process Step By Step

  1. ➡️ सर्वप्रथम अपने किसान विकास पत्र योजना के लिए जहां से आवेदन किया था (पोस्ट ऑफिस या बैंक शाखा ) वहां जाना होगा और आपको किसान विकास पत्र ट्रांसफर फॉर्म की मांग करनी होगी ।
  2. ➡️ अधिकारी द्वारा आपको KVP transfer form दिया जाएगा ।
  3. ➡️ अब आप जिस भी पोस्ट ऑफिस में या फिर जिस भी बैंक शाखा में अपने किसान विकास योजना अकाउंट को ट्रांसफर करना चाहते हैं उसकी जानकारी दर्ज करनी होगी ।
  4. ➡️ सभी संबंधित दस्तावेज आपको अटैच करना होगा जैसे कि पहचान पत्र ,निवास प्रमाण पत्र ,ओरिजिनल केवीपी सर्टिफिकेट तथा केवीपी एप्लीकेशन फॉर्म जो आपके पास मौजूद होगा ।
  5. ➡️ सभी जानकारी दर्ज होने के बाद आप KVP Account transfer form को बैंक शाखा में जमा कर देंगे और आपका KVP Vikash Patra Scheme आपके मन चाहे शाखा या पोस्ट ऑफिस में ट्रांसफर कर दिया जाएगा।

FAQ Kisan Vikas Patra Yojana 2020

Q 1. किसान विकास पत्र योजना क्या है ?

किसान विकास पत्र योजना केंद्र सरकार के द्वारा बाजार के जोखिमों से दूर शुरू की गई एक योजना है जो निवेशकों को निवेश करने के लिए प्रोत्साहित करती है इस योजना के अंतर्गत निवेशकों को निवेश की रकम दोगुनी मिलती है जो कि किसान विकास पत्र योजना की सबसे बड़ी विशेषता है ।

Q 2. किसान विकास पत्र योजना पर कितना ब्याज दर मिलता है ?

किसान विकास पत्र योजना पर 6.9 प्रतिशत तक का ब्याज दर पोस्ट ऑफिस या बैंक के द्वारा दिया जाता है ।

Q 3. किसान विकास पत्र योजना की मैच्योरिटी अवधि कितनी है ?

किसान विकास पत्र योजना की मैच्योरिटी अवधि 10 वर्ष 4 महीने यानी कुल 124 महीने की है इतने समय के लिए अगर आप अपने निवेश की रकम को छोड़ देते हैं तो आपका रकम दोगुना होकर आपको मिलता है ।

Q 4. क्या किसान विकास पत्र योजना के तहत केवल किसान ही निवेश कर सकते हैं ?

“नहीं ऐसा नहीं है” किसान विकास पत्र योजना के तहत कोई भी भारतीय नागरिक निवेश कर सकता है ।

Q 5. किसान विकास पत्र योजना में निकासी करने की सही अवधि क्या है ?

वैसे तो किसान विकास पत्र योजना में निकासी की सबसे अच्छी अवधि मैच्योरिटी की होती है क्योंकि इस अवधि पर आपको आपके निवेश का 2 गुना रकम वापस मिल जाता है ,लेकिन अगर आप मैच्योरिटी पूरे होने से पहले पैसा निकालना चाहते हैं तो आप इसमें निकासी ढाई साल बाद करें क्योंकि ढाई साल बाद आपको निकासी पर 6.9% ब्याज दर भी मिल जाती है और कोई जुर्माना भी नहीं लगाया जाता। अगर आप 1 वर्ष पर निकासी करते हैं तो आपको ब्याज दर भी नहीं मिलेगा और जुर्माना भी लिया जाएगा, इसी प्रकार अगर आप ढाई वर्ष से पहले और 1 वर्ष के बाद निकासी करते हैं तो आपको ब्याज दर नहीं दिया जाएगा ।

नोट :- तो आज के इस आर्टिकल में आपने किसान विकास पत्र योजना से संबंधित लगभग सारी जानकारी प्राप्त की है अगर आप फिर भी कुछ पूछना यह जानना चाहते हैं तो कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं ।

ध्यान दें :- ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम सबसे पहले अपने इस वेबसाइट sarkariyojnaa.com के माध्यम से देते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…

Posted by Amar Gupta

🔥🔥 Join Our Group For All Information And Update, Also Follow me For Latest Information🔥🔥

🔥 Facebook PageClick Here
🔥 InstagramClick Here
🔥 Telegram Channel TechguptaClick Here
🔥 Telegram Channel Sarkari YojanaClick Here
🔥 TwitterClick Here
🔥 Website Click Here

FAQ KVP Yojana 2020

✔️ किसान विकास पत्र योजना क्या है ?

किसान विकास पत्र योजना ( KVP ) केंद्र सरकार के द्वारा बाजार के जोखिमों से दूर शुरू की गई एक योजना है जो निवेशकों को निवेश करने के लिए प्रोत्साहित करती है इस योजना के अंतर्गत निवेशकों को निवेश की रकम दोगुनी मिलती है जो कि किसान विकास पत्र योजना की सबसे बड़ी विशेषता है ।

✔️ किसान विकास पत्र योजना पर कितना ब्याज दर मिलता है ?

किसान विकास पत्र योजना ( KVP ) पर 6.9 प्रतिशत तक का ब्याज दर पोस्ट ऑफिस या बैंक के द्वारा दिया जाता है ।

✔️ किसान विकास पत्र योजना की मैच्योरिटी अवधि कितनी है ?

किसान विकास पत्र योजना ( KVP ) की मैच्योरिटी अवधि 10 वर्ष 4 महीने यानी कुल 124 महीने की है इतने समय के लिए अगर आप अपने निवेश की रकम को छोड़ देते हैं तो आपका रकम दोगुना होकर आपको मिलता है ।

✔️ क्या किसान विकास पत्र योजना के तहत केवल किसान ही निवेश कर सकते हैं ?

“नहीं ऐसा नहीं है” किसान विकास पत्र योजना के तहत कोई भी भारतीय नागरिक निवेश कर सकता है ।

✔️ किसान विकास पत्र योजना में निकासी करने की सही अवधि क्या है ?

वैसे तो किसान विकास पत्र योजना ( KVP ) में निकासी की सबसे अच्छी अवधि मैच्योरिटी की होती है क्योंकि इस अवधि पर आपको आपके निवेश का 2 गुना रकम वापस मिल जाता है ,लेकिन अगर आप मैच्योरिटी पूरे होने से पहले पैसा निकालना चाहते हैं तो आप इसमें निकासी ढाई साल बाद करें क्योंकि ढाई साल बाद आपको निकासी पर 6.9% ब्याज दर भी मिल जाती है और कोई जुर्माना भी नहीं लगाया जाता। अगर आप 1 वर्ष पर निकासी करते हैं तो आपको ब्याज दर भी नहीं मिलेगा और जुर्माना भी लिया जाएगा, इसी प्रकार अगर आप ढाई वर्ष से पहले और 1 वर्ष के बाद निकासी करते हैं तो आपको ब्याज दर नहीं दिया जाएगा ।


Please share this
  •  
  • 789
  •  
  • 786
  • 791
  •  
    2.4K
    Shares
  •  
    3.3K
    Shares
  •  
  • 989
  • 786
  •  
  • 489
  • 991
  •  
Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

🔥🔥 Join Our Group For All Information And Update, Also Follow me For Latest Information🔥🔥
🔥 Facebook Page  Click Here
🔥 Instagram  Click Here
🔥 Telegram Channel Techgupta  Click Here
🔥 Telegram Channel Sarkari Yojana  Click Here
🔥 Twitter  Click Here
🔥 Website   Click Here

जरुरी सूचना

दोस्तों, हमारी वेबसाइट (sarkariyojnaa.com)सरकार द्वारा चलाई जाने वाली वेबसाइट नहीं है,ना ही किसी सरकारी मंत्रालय से इसका कुछ लेना देना है | यह ब्लॉग किसी व्यक्ति विशेष द्वारा, जो सरकारी योजनाओं में रुचि रखता है और औरों को भी बताना चाहता है, द्वारा चलाया गया है | हमारी पूरी कोशिश रहती की एकदम सटीक जानकारी अपने पाठकों तक पहुंचे जाए लेकिन लाख कोशिशों के बावजूद भी गलती की सम्भावना को नकारा नहीं जा सकता| इस ब्लॉग के हर आर्टिकल में योजना की आधिकारिक वेबसाइट की जानकारी दी जाती है| हमारा सुझाव है कि हमारा लेख पढ़ने के साथ साथ आप आधिकारिक वेबसाइट से भी जरूर जानकारी लीजिये | अगर किसी लेख में कोई त्रुटि लगती है तो आपसे आग्रह है कि हमें जरूर बताएं |

हम अपने ब्लॉग के माध्यम से रजिस्ट्रेशन नहीं करवाते ना ही कभी भी पैसे कि मांग करते हैं | हमारा उद्देश्य है केवल आप तक सही जानकारी पहुँचाना !