Free Solar Panel Installation घर की छत से भी की जा सकती है लाखों रुपए की कमाई, सोलर पॉइंट लगाकर ऐसे करे कमाई ।

Please share this
  •  
  • 825
  •  
  • 582
  • 852
  •  
    2.3K
    Shares

Free Solar Panel Installation घर की छत से भी की जा सकती है लाखों रुपए की कमाई, सोलर पॉइंट लगाकर ऐसे करे कमाई ।

Free Solar Panel Installation : अगर आपका घर है और इस पर आप solar plant लगाकर अपनी बिजली की आपूर्ति को पूरा करना और अधिक बिजली उत्पन्न कर उसे बिजली उत्पादक कंपनी को बेच कर कमाई करना चाहते हैं तो आज हम आपको इसकी संपूर्ण प्रक्रिया बताने वाले हैं ।

Free Solar Panel Installation

घर की छत से कैसे होगी कमाई ?

अगर आप अपने छत के ऊपर Solar Panel Energy Plant लगाते हैं तो इससे उत्पन्न बिजली को बेचकर आप कमाई कर सकते हैं , Solar Panel से उत्पन्न बिजली से आप घर की जरूरतों को पूरा कर सकते हैं जिससे आपके महीने का बिजली बिल शून्य या कम हो जाएगा अगर आप एक बार Solar Plant लगा लेते हैं तो इसकी वैधता 25 सालों तक होती है यानी 25 वर्षों तक आपको बिजली से संबंधित कोई समस्या नहीं आने वाली है । यहां तक कि Solar Plant लगवाने के लिए सरकार के तरफ से आर्थिक और तकनीकी सहयोग भी दिया जा रहा है , जिस वजह से Solar Plant को लगवाना काफी ज्यादा आसान और कम खर्चीला भी हो गया है ।

Solar Plant लगाने के लिए कितनी आती है लागत ?

अगर हम आज के दौर में बिजली की जरूरतों की बात करें तो अभी हर एक घर में टीवी, फ्रिज, वाशिंग मशीन और पंखे जैसे बिजली से चलने वाले एक पर एक उपकरण मौजूद हैं ऐसे में एक साधारण घर में भी महीने भर में बिजली का बिल ₹2000 के आसपास आ जाता है , इस बिजली को के बिल को कम करने के लिए आप लगभग 2 किलो वाट का Solar Plant Energy System अपने छत पर लगवा सकते हैं । यह घर के खपत पर यह निर्भर करता है ।

⇒                    आप 1 किलोवाट का सिस्टम लगाते हैं जो ऑन ग्रिड का होता है तो इसमें आपको ₹54000 और अगर ऑफ ग्रिड सिस्टम लगवाने हैं तो ₹90000 की लागत आ सकती है , इसी प्रकार से अगर बात की जाए तो 2 किलो वाट में यह लागत ₹108000 से ₹180000 तक आ सकती है । केंद्र और राज्य सरकार की ओर से इन सिस्टम को लगाने के ऊपर आपको सब्सिडी और आर्थिक मदद भी दी जाती है जिसके बदौलत इस कीमत को कम किया जा सकता है ।

राज्य सरकार के द्वारा सोलर पैनल इंस्टॉलेशन पर 65% की सब्सिडी जा रहे हैं आप निश्चित समय के भीतर ले सकते हैं ।

Solar Subsidy Scheme Highlights

  सोलर सब्सिडी योजना एक झलक में 
योजना का नामसब्सिडी सोलर पैनल योजना
शुरू किया गयाकेंद्रीय स्तर पर
उद्देश्यबिजली की खपत को कम करना और निजी घरों में सोलर की पहुंच को बढ़ाना
बिहार राज्यसब्सिडी के लिए आवेदन शुरू
अधिकतम सब्सिडीकीमत का 65% तक
लाभार्थीकेंद्रीय स्तर पर भारत का हर एक व्यक्ति
लाभार्थीबिहार राज्य के लिए बिहार का हर एक निवासी
North Bihar Solar Subsidy Website Click Here
South Bihar Solar Subsidy Website Click Here
स्टेटसआवेदन शुरू है बिहार के लिए

Solar Panel Subsidy Government Scheme

अगर आप बिहार राज्य के निवासी हैं तो फिलहाल बिहार सरकार के द्वारा सोलर पैनल इंस्टॉलेशन के ऊपर 1 से 3 किलोवाट तक का पैनल लगाने पर आपको 65% तक सब्सिडी दी जाती है और अगर आप 3 से 10 किलो वाट का सोलर पैनल लगवा दे हैं तो आपको 45% तक सब्सिडी दी जाती हैं अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए वीडियो को देखें जिसमें आपको Free Solar Panel पर लेने के लिए आवेदन कैसे करना है इसकी जानकारी दी गई है ।

कैसे काम करता है सोलर सिस्टम ?

सोलर पैनल के सिस्टम अभी तीन प्रकार के आते हैं जिसमें से है ऑन ग्रिड सिस्टम, ऑफ ग्रिड सिस्टम तथा हाइब्रिड सिस्टम ।

ऑन ग्रिड सिस्टम के अंतर्गत Solar Panel का सिस्टम सीधे बिजली आपूर्ति के साथ जुड़ा होता है Solar Panel सिस्टम के अंतर्गत बैटरी नहीं होती है जिस वजह से आप बिजली की आपूर्ति तो कर पाते हैं लेकिन जब मन हो उस समय बिजली का उपयोग नहीं कर सकते हैं यानी बिजली को आप संचित करके नहीं रख सकते हैं । अगर बिजली आपूर्ति नहीं होती है तो ऐसी स्थिति में यह सिस्टम काम नहीं करेगा ऑन ग्रिड सिस्टम का ज्यादातर प्रयोग शहरी क्षेत्रों में ही किया जाता है क्योंकि इन क्षेत्रों में बिजली की आपूर्ति लगातार होती ही रहती है ।

⇒                  Solar Panel System के अंतर्गत सोलर पैनल बिजली आपूर्ति कर ग्रीड को भेजता रहता है इस तरीके से नियमानुसार 80 फ़ीसदी बिजली का बिल कम हो सकता है , नियम के अनुसार ऑन ग्रिड सिस्टम में 20 फ़ीसदी बिजली ग्रिड से लेना अनिवार्य रखा गया है । ऑन ग्रिड सिस्टम में सामान्य मीटर की जगह नेट मीटर लगाया जाता है जो उपभोक्ता के द्वारा उपयोग की गई बिजली और पैदा की गई ग्रिड को भेजी गई बिजली का ब्यौरा बताता है । इससे यह सुनिश्चित हो पाता है कि आप ने कितनी कमाई की है या आपने कितनी बिजली बचाई है ।

उदाहरण से समझते हैं कैसे हैं फायदा ।

मान लेते हैं किसी उपभोक्ता ने 300 यूनिट बिजली का उपयोग किया और उसके सोलर पैनल ने 240 यूनिट बिजली ग्रिड को भेजी तो ऐसी स्थिति में उपभोक्ता को शेष 60 यूनिट का ही बिल देना पड़ेगा । विशेषज्ञों से मिली जानकारी से हमें पता चला है कि अगर Solar Panel System का प्रयोग 4 से 5 साल तक किया जाता है तो इसके ऊपर की गई खर्च को बहुत ही आसानी से वसूला जा सकता है ।

Solar Panel off-grid-system कैसे कार्य करता है क्या इससे भी कमाई की जा सकती हैै ?

Solar Panel off-grid-system की अगर बात की जाए तो इसके अंतर्गत सोलर पैनल से बनी विद्युत ऊर्जा को घर के अंदर ही बैटरी में सहेज कर रख लिया जाता है सहेजी गई ऊर्जा का उपयोग आप तुरंत या बाद में कर सकते हैं जब आप की जरूरत हो । इस तरीके को अपनाकर आप बिजली के बिल को सुनने कर सकते हैं लेकिन नियम के अनुसार आप ऑफ ग्रिड सिस्टम के अंतर्गत बिजली को बेच नहीं सकते हैं इससे आप कमाई नहीं कर सकते हैं ।

इस सिस्टम के अंतर्गत बैटरी की लाइफ 5 साल की होती है और 5 साल पूरे हो जाने पर आप बैटरी को बदल सकते हैं ।

Solar Hybrid System 

Solar Hybrid System के अंतर्गत Solar On-grid-system और solar off-grid-system दोनों की विशेषताएं शामिल होती है अगर आप Solar Hybrid System का प्रयोग करते हैं तो आप बिजली को उत्पन्न भी कर सकते हैं साथ ही इसे बैटरी में सहेज कर भी रख सकते हैं और इसके द्वारा उत्पन्न की गई बिजली को आप बेच भी सकते हैं ।

इस सिस्टम को लगाने के लिए छत पर कितनी जगह होनी चाहिए ।

वैसे तो एक सामान्य घर की जरूरत पूरी करने के लिए आपका छत तो बहुत बड़ा नहीं होना चाहिए छत का एक छोटा सा हिस्सा भी आपके काम को आसानी से कर सकता है । सामान्य तौर पर 1 किलो वाट के सोलर सिस्टम को लगाने के लिए 100 वर्ग फीट की जगह की आवश्यकता होती है , 200 से 300 वर्ग फीट में एक परिवार की जरूरतों को सोलर सिस्टम के द्वारा पूरा किया जा सकता है । अगर आप Free Solar Panel लगवाने वक्त थोड़े बहुत और खर्च कर देते हैं तो इसे आप ऐसे लगवा सकते हैं कि ऊपर से यह छत के तौर पर काम करेगा और नीचे में रहकर आप अपना छोटा बड़ा काम भी आसानी से कर सकेंगे ।

रेसको प्रोजेक्ट से होती है अच्छी खासी कमाई

ऑन ग्रिड सिस्टम ऑफ ग्रिड सिस्टम घर की बिजली के बिल को काफी ज्यादा कम कर देती है या शून्य के बराबर कर देती है , लेकिन अगर इस माध्यम से आप मोटी कमाई करना चाहते हैं तो सोलर सिस्टम को व्यापक तरीकों का इस्तेमाल आपको करना ही होगा इसे तकनीकी भाषा में रेसको प्रोजेक्ट कहा जाता है इस तकनीक के द्वारा ज्यादा बड़े क्षेत्र में ज्यादा सोलर पैनल लगाकर अच्छी कमाई की जा सकती हैं ।

सोलर सिस्टम लगाने के लिए कैसे मिलती है आर्थिक मदद ?

जो कोई ग्राहक अपने घर पर Subsidy Solar Panel  लगवाना चाहता है इसके लिए ग्राहकों को सबसे पहले सोलर लगाने वाली कंपनी से संपर्क करनी होती है, कंपनी ग्राहकों के घर पर अपने अधिकारी को भेजता है जो अधिकारी यह सुनिश्चित करता है कि घर की बिजली की खपत क्या है और इस घर में कितने किलोवाट सोलर सिस्टम पैनल लगाने की जरूरत है । अधिकारी के द्वारा घर की जांच किए जाने के पश्चात सोलर लगवाने वाले ग्राहक को इसकी जानकारी दी जाती है और उचित सोलर पैनल लगाने की सलाह भी दी जाती है ।

⇒                        सिस्टम लगाने के लिए शुरूआत में ग्राहकों को अपने जेब से सारे रकम भरनी होती है लेकिन जब Solar Panel Installation हो जाता है तो कंपनी इसकी जानकारी सरकार के वेबसाइट पर अपलोड करती हैं सरकार को जब इसकी जानकारी मिलती है तो सरकार के तरफ से एक अधिकारी आता है जो घर की जांच करता है और देखता है कि यहां सोलर पैनल लगाया गया या नहीं अगर सब कुछ सही रहता है तो ग्राहकों के खाते में सीधे सब्सिडी की राशि ट्रांसफर कर दी जाती है अगर कंपनी द्वारा लगाए गए सोलर सिस्टम में किसी प्रकार की कोई त्रुटि होती है तो इसके लिए सरकार उन्हें त्रुटि सुधारने का आदेश देता है जिसके लिए कंपनी ग्राहकों से कोई अतिरिक्त चार्ज नहीं कर सकता है ।

solar plant की सफाई करने की भी नहीं है जरूरत ।

आजकल टेक्नोलॉजी इतने एडवांस हो गए हैं कि अब आपको सोलर पैनल के रखरखाव के ऊपर भी खर्च करने की जरूरत नहीं है आधुनिक सिस्टम में ऑटो क्लीनिंग का विकल्प होता है जो आपके सिस्टम की समय-समय पर खुद ही सफाई कर देती है । इसके अलावा कंपनियां आजकल ऑन साइड सोलर सिस्टम के देखरेख की भी जिम्मेदारी लेती है लेकिन इसके लिए उन्हें कुछ अतिरिक्त चार्ज भी देना पड़ता हैं ।

नोट :- घर में Free Solar Panel  System लगाना आपके लिए काफी ज्यादा फायदे का सौदा हो सकता है इससे आपको बहुत सारे लाभ मिलते हैं , पहला आपके घर में बिजली की आपूर्ति पूरी हो सकेगी आपको बिजली की समस्या से जुझना नहीं होगा , बिजली उत्पन्न कर आप अपने बिजली के बिल को घटा सकते हैं या इसे शून्य भी कर सकते हैं । यहां तक कि इसके द्वारा अतिरिक्त उत्पन्न हुए बिजली को आप बिजली वितरण कंपनी को बेचकर कमाई भी कर सकते हैं ।

related tags ;- subsidy solar panel , subsidy solar panel ,subsidy solar panel , subsidy solar panel  , Free Solar Panel , subsidy solar panel

अगर आपको हमारा यह पोस्ट पसंद आया है तो आप इसे लाइक और शेयर कर सकते हैं ऐसी ही जानकारी पाते रहने के लिए आप हमारे इस ब्लॉग को फॉलो भी कर सकते हैं ।

ध्यान दें :- ऐसी ही जानकारी हम रोजाना अपनी वेबसाइट sarkariyojnaa.com के माध्यम से देते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो जरूर करें ।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी पसंद आई है तो इसे लाइक और शेयर करना बिल्कुल भी ना भूले ..

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…

Posted by Amar Gupta

FAQ Free Solar Panel Installation

सोलर पैनल लगा कर घर की छत से कैसे होगी कमाई ?

अगर आप अपने छत के ऊपर Solar Panel Energy Plant लगाते हैं तो इससे उत्पन्न बिजली को बेचकर आप कमाई कर सकते हैं , Solar Panel से उत्पन्न बिजली से आप घर की जरूरतों को पूरा कर सकते हैं जिससे आपके महीने का बिजली बिल शून्य या कम हो जाएगा अगर आप एक बार Solar Plant लगा लेते हैं तो इसकी वैधता 25 सालों तक होती है यानी 25 वर्षों तक आपको बिजली से संबंधित कोई समस्या नहीं आने वाली है । यहां तक कि Solar Plant लगवाने के लिए सरकार के तरफ से आर्थिक और तकनीकी सहयोग भी दिया जा रहा है , जिस वजह से Solar Plant को लगवाना काफी ज्यादा आसान और कम खर्चीला भी हो गया है ।

Solar Plant लगाने के लिए कितनी लागत आती है?

अगर हम आज के दौर में बिजली की जरूरतों की बात करें तो अभी हर एक घर में टीवी, फ्रिज, वाशिंग मशीन और पंखे जैसे बिजली से चलने वाले एक पर एक उपकरण मौजूद हैं ऐसे में एक साधारण घर में भी महीने भर में बिजली का बिल ₹2000 के आसपास आ जाता है , इस बिजली को के बिल को कम करने के लिए आप लगभग 2 किलो वाट का Solar Plant Energy System अपने छत पर लगवा सकते हैं । यह घर के खपत पर यह निर्भर करता है ।
⇒                    आप 1 किलोवाट का सिस्टम लगाते हैं जो ऑन ग्रिड का होता है तो इसमें आपको ₹54000 और अगर ऑफ ग्रिड सिस्टम लगवाने हैं तो ₹90000 की लागत आ सकती है , इसी प्रकार से अगर बात की जाए तो 2 किलो वाट में यह लागत ₹108000 से ₹180000 तक आ सकती है । केंद्र और राज्य सरकार की ओर से इन सिस्टम को लगाने के ऊपर आपको सब्सिडी और आर्थिक मदद भी दी जाती है जिसके बदौलत इस कीमत को कम किया जा सकता है ।

Solar Panel off-grid-system कैसे कार्य करता है क्या इससे भी कमाई की जा सकती हैै ?

Solar Panel off-grid-system की अगर बात की जाए तो इसके अंतर्गत सोलर पैनल से बनी विद्युत ऊर्जा को घर के अंदर ही बैटरी में सहेज कर रख लिया जाता है सहेजी गई ऊर्जा का उपयोग आप तुरंत या बाद में कर सकते हैं जब आप की जरूरत हो । इस तरीके को अपनाकर आप बिजली के बिल को सुनने कर सकते हैं लेकिन नियम के अनुसार आप ऑफ ग्रिड सिस्टम के अंतर्गत बिजली को बेच नहीं सकते हैं इससे आप कमाई नहीं कर सकते हैं ।

Solar Hybrid System क्या होता है ?

Solar Hybrid System के अंतर्गत Solar On-grid-system और solar off-grid-system दोनों की विशेषताएं शामिल होती है अगर आप Solar Hybrid System का प्रयोग करते हैं तो आप बिजली को उत्पन्न भी कर सकते हैं साथ ही इसे बैटरी में सहेज कर भी रख सकते हैं और इसके द्वारा उत्पन्न की गई बिजली को आप बेच भी सकते हैं ।

सोलर सिस्टम लगाने के लिए कैसे मिलती है आर्थिक मदद ?

जो कोई ग्राहक अपने घर पर Subsidy Solar Panel  लगवाना चाहता है इसके लिए ग्राहकों को सबसे पहले सोलर लगाने वाली कंपनी से संपर्क करनी होती है, कंपनी ग्राहकों के घर पर अपने अधिकारी को भेजता है जो अधिकारी यह सुनिश्चित करता है कि घर की बिजली की खपत क्या है और इस घर में कितने किलोवाट सोलर सिस्टम पैनल लगाने की जरूरत है । अधिकारी के द्वारा घर की जांच किए जाने के पश्चात सोलर लगवाने वाले ग्राहक को इसकी जानकारी दी जाती है और उचित सोलर पैनल लगाने की सलाह भी दी जाती है ।


Please share this
  •  
  • 825
  •  
  • 582
  • 852
  •  
    2.3K
    Shares
  •  
    2.5K
    Shares
  •  
  • 536
  • 825
  •  
  • 865
  • 256
  •  
Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

जरुरी सूचना

दोस्तों, हमारी वेबसाइट (sarkariyojnaa.com)सरकार द्वारा चलाई जाने वाली वेबसाइट नहीं है,ना ही किसी सरकारी मंत्रालय से इसका कुछ लेना देना है | यह ब्लॉग किसी व्यक्ति विशेष द्वारा, जो सरकारी योजनाओं में रुचि रखता है और औरों को भी बताना चाहता है, द्वारा चलाया गया है | हमारी पूरी कोशिश रहती की एकदम सटीक जानकारी अपने पाठकों तक पहुंचे जाए लेकिन लाख कोशिशों के बावजूद भी गलती की सम्भावना को नकारा नहीं जा सकता| इस ब्लॉग के हर आर्टिकल में योजना की आधिकारिक वेबसाइट की जानकारी दी जाती है| हमारा सुझाव है कि हमारा लेख पढ़ने के साथ साथ आप आधिकारिक वेबसाइट से भी जरूर जानकारी लीजिये | अगर किसी लेख में कोई त्रुटि लगती है तो आपसे आग्रह है कि हमें जरूर बताएं |

हम अपने ब्लॉग के माध्यम से रजिस्ट्रेशन नहीं करवाते ना ही कभी भी पैसे कि मांग करते हैं | हमारा उद्देश्य है केवल आप तक सही जानकारी पहुँचाना !