ज्वाइन करे टेलीग्राम ग्रुप

apply for doodh ganga yojana online 2022 loan and all recutritment

doodh ganga yojana,doodh ganga yojna bihar,maharastra,hariyana,दूध गंगा योजना 2022 के अंतर्गत आवेदन कैसे करें

doodh Ganga Yojana apply online 2022, application form for HP dairy farming business loan दूध गंगा योजना ऑनलाइन आवेदन doodh Ganga Yojana eligibility and benefits जैसा की आप सभी किसान भाइयों जानते होंगे कि दूध डेयरी खोलने के लिए कुछ पैसों की जरूरत पड़ती है और इतने पैसे बहुत किसानों के पास नहीं होते हैं और हम आपको यह बता दे कि अब आप भी दूध डेरी फॉर्म खोल सकते हैं और इससे अच्छी खासी आमदनी कर सकते हैं और पैसे कमा सकते हैं और आपके लिए हम यह बता दे कि सरकार के द्वारा अब दूध गंगा योजना के अंतर्गत सभी जो भी आप दूध की डेरी अगर खोलना चाहते हैं तो आपके लिए योजना के अंतर्गत आपको लोन दिया जाएगा तो हम आपको यह बता दें कि यह फार्म बिजनेस लोन के लिए आवेदन कैसे करेंगे और कहां से करेंगे|

ज्वाइन करे टेलीग्राम ग्रुप

doodh ganga yojana,doodh ganga yojna bihar,maharastra,hariyana,दूध गंगा योजना 2022 के अंतर्गत आवेदन कैसे करें

इस पोस्ट में क्या है ?

दूध गंगा योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए महत्वपूर्ण जानकारी

हम आपको यह बता दे कि हिमाचल प्रदेश सरकार अपने राज्य में दूध उत्पादन व्यवसाय को बढ़ाने के लिए बहुत सारे प्रयास करते रहते हैं और जिसके लिए दूध व्यवसाय क्षेत्र से जुड़े सभी पशुपालक और दूध उद्यमी को बहुत सारे लाभ देते रहते हैं जैसे कि आपको बता दें कि सन 2010 में एक ऐसा योजना को संचालित किया गया जिसके अंतर्गत सभी दूध व्यवसाय करने वाले सभी किसानों को दूध का व्यवसाय और करने के लिए उसको लोन दे रही है जिसका नाम दूध गंगा योजना है हम आपको बता दें कि यह दूध गंगा योजना के माध्यम से जितने भी उत्पादन कार्य से जुड़े सभी नागरिक हैं उन सभी नागरिकों को 3000000 रूपए तक का लोन बहुत कम ब्याज की दर पर सरकार के द्वारा दिया जाता है| doodh ganga yojana,doodh ganga yojna bihar,maharastra,hariyana,दूध गंगा योजना 2022 के अंतर्गत आवेदन कैसे करें

इन लोगों को मिलेगा लोन जाने इसके बारे मे 

सरकार के द्वारा इसलिए दिया जाता है क्योंकि जो भी छोटे डेरी फार्मिंग के संगठित विकसित डेयरी व्यवसाय में बदला जा सके और उसे बड़ी व्यवसाय बनाने के लिए सरकार ने हिमाचल प्रदेश के सभी नागरिक को दूध गंगा योजना 2022 से संबंधित सभी जानकारी हम आपको अपने इस आर्टिकल के जरिए दे रहे हैं कि इसमें दूध गंगा योजना के अंतर्गत लोन लेना चाहते हैं तो आप यह जानकारी आपको पता होना चाहिए और आपको हम बता दें कि इसके लिए आवेदन करने के लिए आपको इस की पात्रता इसकी आवश्यकता और इसके दस्तावेज और आवेदन की प्रक्रिया सभी के बारे में हमको पता होना चाहिए तो हम आपको यह बता दे कि आपको हम अपने इस आर्टिकल के अंतर्गत आपको हम अपने इस आर्टिकल में सभी जानकारी दे रहे हैं जिससे आप भी दूध गंगा योजना के अंतर्गत लोन लेने के लिए आवेदन कर सकें|

dudh Ganga Yojana 2022

हम आपको यह बता दे कि दूध गंगा योजना को हिमाचल प्रदेश के सरकार के द्वारा अपने राज्य में दूध उत्पादन के क्षेत्र को बढ़ाने के लिए सभी किसानों पशुपालकों और दुग्ध उद्यमी को सरकार के द्वारा ₹3000000 तक का लोन दिया जाएगा और उन सभी को यह लोन कम ब्याज पर दिया जाएगा हम आपको यह बता दें कि यह दूध गंगा योजना के अंतर्गत सभी किसानों को लोन दिया जाएगा जिस का आरंभ इस योजना का आरंभ 2010 ईस्वी में भारत सरकार के पशुपालन विभाग द्वारा डेयरी बढ़ाने के लिए और राष्ट्र कृषि और ग्रामीण विकास बैंक के माध्यम से इसे आरंभ किया गया था और हम आपको यह बता दे कि शुरुआती दौर में तो दूध गंगा योजना का नाम दूध गंगापुर योजना रखा गया था लेकिन आपको यह बता दे कि इसमें पहले ब्याज मुक्त ऋण देने का प्रावधान था|

इस योजना मे किया गया परिवर्तन 

लेकिन आप इसको परिवर्तन किया गया और परिवर्तन कर कर इसमें अब ब्याज मुक्त देने का प्रावधान को हटा दिया गया है और अब सभी किसानों को कम ऋण पर ब्याज लिया जाएगा यह दूध गंगा योजना का परिवर्तन इसलिए किया गया क्योंकि सरकार को इसके माध्यम से अब ब्याज मुक्त ऋण देने के बदले ऋण राशि पर सब्सिडी दी जाएगी और हम आपको बता दें कि या हिमाचल प्रदेश को बेरोजगारी को खत्म करने के लिए सरकार के द्वारा यह निर्णय लिया गया है और सरकार ने सभी को एक रोजगार देने के लिए इसके बारे में सोचा था यही के लिए वह सभी को दूध गंगा योजना के अंतर्गत लोन देकर एक अच्छी व्यवसाय खुलवाना चाहते हैं| doodh ganga yojana,doodh ganga yojna bihar,maharastra,hariyana,दूध गंगा योजना 2022 के अंतर्गत आवेदन कैसे करें

dudh Ganga Yojana 2022 के अंतर्गत लोन का विवरण इस प्रकार से किया जाएगा

हम आप सभी किसानों को या बता दे कि जिस के पास दूध से लेकर दस दुधारु गाय हैं तो सभी पशुपालन किसानों को 5 लाख तक का लोन दिया जाएगा
✔️ उन किसानों को जिनके पास 5 से 20 बछरा पालन करने के लिए 4.3 लाख रुपया का लोन दिया जाएगा
✔️ जो वर्मी कंपोस्ट दुधारु गायों के साथ जुड़ा होगा तुम उन्हें ₹20000 का लोन दिया जाएगा
✔️ दूध दोने की मशीन मिलते स्टॉप अरे दूध कूलर इकाई के लिए सरकार के द्वारा 18 लाख उसके लोन दिया जाएगा
✔️ दुध से देसी उत्पाद बनाने के लिए 1200000 रुपए तक का लोन दिया जाएगा
✔️  दूध उत्पादों की धुलाई और कोल्ड चैन सुविधा हेतु 24 लाख रुपए तक का लोन पशुपालकों के लिए दिया जाएगा
✔️ निजी पशु चिकित्सा इकाइयों के लिए ऋण व्यवस्था कुछ इस प्रकार है
✔️  मोबाइल इकाइयों के लिए 2.40 लाख रुपया का लोन दिया जाएगा
✔️ अस्थाई इकाई के लिए 1.80 लाख रुपया का लोन दीया जाएगा
✔️ दूध उत्पाद को बेचने के लिए बूथ निर्माण के लिए 0.56 लाख रुपए तक का लोन सरकार के द्वारा सभी किसान को जोड़ा जाएगा और पशुपालकों को लोन दिया जाएगा|

दूध गंगा योजना के अंतर्गत दी जाने वाली सब्सिडी

हिमाचल प्रदेश दूध गंगा योजना के अंतर्गत जो भी दूध का बिजनेस करने वाले किसान है उनको कम ब्याज पर लोन दिया जाता है और यह लोन की राशि पर सरकार के द्वारा सभी लाभार्थियों को सब्सिडी भी दी जाती है और यह सब्सिडी राशि के लिए विभिन्न पर आधारित होती है जो कि एसटी और एससी वर्ग के सभी जो भी लाभार्थी होते हैं उसको 33 परसेंट और जो सामान्य वर्ग और के लाभार्थी को 25% दी जाती है और उसके साथी हम आपको बता दें कि राज्य सरकार की तरफ से अतिरिक्त सब्सिडी दी जाती है जो कि देसी गाय या भैंस खरीदने पर 20 परसेंट और जर्सी गाय खरीदने प 10% की सब्सिडी दी जाती है|

स्वयं सहायता समूह को 50 परसेंट ब्याज दर में छूट

और सरकार के द्वारा स्वयं सहायता समूह को 10 पशुओं की डेरी फॉर्म को खोलने के लिए दूध गंगा योजना 2022 के अंतर्गत तीन लाख तक का लोन दिया जाता है और इस लोन पर उन्हें 50 परसेंट तक ब्याज की दर में छूट दिया जाता है और स्वयं सहायता समूह को केवल डेढ़ लाख रुपया के ही लोन पर ब्याज दर का भुगतान करवा दिया जाता है और हम आप सभी को यह बता दें कि स्वयं सहायता समूह के जो भी लोग होते हैं और उसके अतिरिक्त ब्याज की दर में इसलिए दी जाती है क्योंकि राज्य के अधिक से अधिक स्वयं सहायता समूह के गुणवत्तापूर्ण डेरी फॉर्म स्थापित करने के लिए उन्हें भी प्रोत्साहित कर दिया जा सके|

परदेश में देरी फॉर्म और प्रशिक्षण हेतु एक केंद्र को किया जाएगा स्थापित

जैसा कि हमारे मत्स्य पालन पशुपालन मंत्री सुरेंद्र कुंवर जी ने यह कहा की अब दूध गंगा योजना 2022 के अंतर्गत हिमाचल प्रदेश में फॉर्म को अधिकरण करने के लिए डेरी फॉरम शिक्षण के लिए एक और केंद्र को स्थापित किया जाएगा और और उन्होंने यह भी बताया है कि केंद्र सरकार ने राज्य के अनेक स्थानों पर आधुनिक डेयरी फॉर्म और प्रशिक्षण केंद्र के निर्माण करने के लिए मंजूरी भी दी गई है और इस केंद्र के माध्यम से बनाए जाने वाले डेरी फॉर्म में जो आधुनिक मशीनों का 400 दुधारू पशु को रखने के लिए सुविधा भी दी जाएगी और इसके अलावा इन सभी फलों में पशु चिकित्सक अधिकारी और अन्य कर्मचारियों को भी प्रशिक्षण दिया जाएगा जिससे वह पशुपालन में किसानों की अधिक से अधिक सहायता कर सकें| doodh ganga yojana,doodh ganga yojna bihar,maharastra,hariyana,दूध गंगा योजना 2022 के अंतर्गत आवेदन कैसे करें

dudh Ganga Yojana 2022 का उद्देश्य

हम आप सभी को यह बता दें कि दूध गंगा योजना के अंतर्गत सरकार का यह उद्देश्य है कि इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य हिमाचल प्रदेश के सभी जारी फॉर मी करने वाले जो भी छोटे उद्योग के बड़े डेरी फार्म बिजनेस में बदलना जिसे हमारे राज्य में दूध की कमी न हो सके और इसकी अंतर्गत दूध उत्पादन से सभी जुड़े लोगों को दूध गंगा योजना अंतर्गत 30 लाख का लोन उचित ब्याज पर दिया जाएगा और उसके साथ ही उन्हें आर्थिक सहायता भी की जाएगी इसके लिए सभी को सब्सिडी भी दिया जाएगा|

ये किया जाएगा बदलाव आधुनिक मशीन का किया जाएगा उपयोग 

इस योजना के अंतर्गत हमारे राज्य के सभी दुग्ध उत्पादक क्षेत्रों में से जुड़े सभी लोगों को परंपरागत तकनीकों से छुटकारा दिलाकर जो आधुनिक कार्य में जो तकनीक चल रही है उन से जोड़ना होगा जिसके परिणाम स्वरूप उसमें बहुत अच्छे नस्ल के जो नई नस्ल की दुधारू पशु होंगे उसे तैयार किया जाएगा और इसके जरिए उनसे ज्यादा दूध वितरण होने का संभावना होगी और इसके अलावा दूध गंगा योजना 2022 के अंतर्गत शुरू करने के मुख्य उद्देश्य है कि 10,000 स्वयं सहायता समूह के माध्यम से 50,000 ग्रामीण परिवार को को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाना और उनका कल्याण करना| doodh ganga yojana,doodh ganga yojna bihar,maharastra,hariyana,दूध गंगा योजना 2022 के अंतर्गत आवेदन कैसे करें

हिमाचल प्रदेश दूध गंगा योजना 2022 के लाभ और उसके विशेषताएं

हम आप सभी को यह बता दें कि भारत के जितने भी पशुपालन विभाग है और उनके द्वारा दूध गंगा योजना के रूप में हमारे राष्ट्र के जितने भी कृषि और ग्रामीण बैंक के माध्यम से इस योजना को आरंभ किया गया था और इस योजना के हिमाचल प्रदेश के जो छोटे किसान उसका व्यवसाय कर रहे हैं उनको बड़े फार्मिंग व्यवसाय में बदलने के लिए इसको आरंभ किया गया है और हिमाचल प्रदेश दूध गंगा योजना 2022 के अंतर्गत जितने भी दूध उत्पादक है और उनकी कार्य में जो लगे गए 3000000 रूपए तक का जो लोन दिया जाएगा उन सभी लोगों को अलग-अलग काम के लिए अलग अलग तरीके से दिया जाएगा|

इस योजना के अंतर्गत दिया जाएगा किसको कितना सब्सिडी 

 उसके साथ ही जो लोन का पैसा रहेगा वह ऐसी और एसटी के जो लाभार्थी रहेंगे उनको 33 परसेंट और जो सामान्य वर्ग के लाभार्थी है उनको 25 परसेंट तक सब्सिडी दिया जाएगा और उसके साथ ही लोन की राशि राज्य सरकार के द्वारा देसी गाय और भैंस खरीदने पर 20 परसेंट और जो किसान जर्सी गाय खरीदेंगे उनको 10 पर्सेंट तक सब्सिडी दिया जाएगा और इस योजना के अंतर्गत जो भी उत्तम नस्ल के दुधारू पशु को तैयार और उनको संरक्षण करने के लिए बछरी पालन को प्रोत्साहित भी किया जाएगा और दूध गंगा योजना के अंतर्गत राज्य के जो भी बेरोजगार किसान है उन सभी को एक अच्छी खासी रोजगार देने की कोशिश किया जाएगा और हमारे राज्य में डेयरी क्षेत्र को अत्यधिक सुविधा प्राप्त हो सकती है और इस योजना के अंतर्गत राज्य के गायों से और पशुओं से 350 लाख लीटर दूध हमारे राज्य में है उत्पादन करने का लक्ष्य को तैयार किया गया है|

ज्वाइन करे टेलीग्राम ग्रुप

dudh Ganga Yojana 2022 के अंतर्गत आवेदन करने की पात्रता

जो भी दूध उत्पादन से जुड़े हुए किसान है उनको हिमाचल प्रदेश का स्थाई निवासी होना अत्यंत जरूरी है और जो व्यक्ति स्वयं सहायता समूह या गैर सरकारी संगठन या दूध संगठन दूध सहकारी जो भी कंपनियां है यह सभी दूध गंगा योजना 2022 के अंतर्गत लाभ उठाने के पात्र हैं आई इसके अलावा अगर परिवार के कोई एक सदस्य भी अपनी अलग अलग जगहों पर अलग-अलग इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो वह भी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं लेकिन उनकी स्थापित इकाई वह एक दूसरे से कम से कम 500 मीटर की दूरी होनी चाहिए अन्यथा उनको इस योजना का लाभ नहीं मिल पाएगा| doodh ganga yojana,doodh ganga yojna bihar,maharastra,hariyana,दूध गंगा योजना 2022 के अंतर्गत आवेदन कैसे करें

दूध गंगा योजना 2022 के अंतर्गत आवेदन कैसे करें

आप सबको सबसे पहले हिमाचल प्रदेश की department of animal husbandry कि आप नहीं जो आधिकारिक वेबसाइट है आपको उस वेबसाइट पर जाना होगा और वहां जाने के बाद आपको वेबसाइट के होम पेज फुल कर आपके सामने आएगा और आपको इस वेबसाइट के होम पेज पर आपको दूध गंगा योजना के बारे में जो भी जानकारी है वहां देनी होगी और इसके बाद आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं|doodh ganga yojna up
और इस तरह आप दूध गंगा योजना के अंतर्गत आवेदन करने में सक्षम हो गए हैं और आप इस तरह से अपना बेरोजगारी को दूर कर सकते हैं और अपने लिए अच्छी रोजगार को और व्यवसाय को आरंभ कर सकते हैं जिससे आपकी आर्थिक स्थिति सुधार सकती है|,doodh ganga yojna up

1 thought on “apply for doodh ganga yojana online 2022 loan and all recutritment”

  1. doodh ganga yojna ki aur jankari jaise website email contact no dijiye.

    Reply

Leave a Comment