ज्वाइन करे टेलीग्राम ग्रुप

Adani के लिए क्यों मुश्किल है Jio और Airtel को टक्कर देना? बनाना परेगा गेम चेंजिंग प्लान

भारतीय मोबाइल उपभोगता के लिए जल्द ही एक नई खुशखबरी सामने आने वाली है। अब मोबाइल उपभोगता को एक नया सिम का ऑप्शन मिलने वाला है। अंबानी ग्रुप में कुछ साल पहले जिओ नेटवर्क की शुरुआत की थी और भारत में इंटरनेट का एक नया दौर शुरू हो गया था। अब अडानी ग्रुप भी अपना एक नया टेलीकॉम नेटवर्क शुरू करने जा रहा है। #  Adani के लिए क्यों मुश्किल है Jio और Airtel को टक्कर देना?   

इस वक्त भारत और एशिया के सबसे अमीर इंसान और दिग्गज कारोबारी गौतम अडानी टेलीकॉम सेक्टर में एंट्री करने जा रहे हैं। अगर ऐसा हुआ तो टेलीकॉम इंडस्ट्री में अडानी ग्रुप की सीधी टक्कर रिलायंस जिओ, एयरटेल और वोडाफोन जैसे कंपनियों से होगी।

हालांकि, कल्पना का दौर बहुत लंबा नहीं चल सकता। अडानी डाटा इंटरनेट ने साफ कर दिया कि वह एक स्पेक्ट्रम की बदौलत एक प्राइवेट नेटवर्क तैयार करेंगे।

यह नेटवर्क एयरपोर्ट से लेकर पावर तक के उनके बिजनेस को सपोर्ट करेगा। इसके साथ ही डाटा सेंटर को भी स्पेक्ट्रम की मदद मिलेगी। मगर अडानी का प्लांन सिर्फ इतना ही है।   # Adani के लिए मुश्किल

Adani के लिए क्यों मुश्किल है Jio और Airtel को टक्कर देना?

 

अब होगा अंबानी और अडानी का सीधा मुकाबला  #Adani के लिए मुश्किल

अब अगर ऐसा होता है तो पहली बार किसी सेक्टर में अडानी और अंबानी का सीधा मुकाबला होगा। आपको बता दें कि यह दोनों भारत के 2 सबसे अमीर इंसान और सबसे बड़े कारोबारी है। पिछले कुछ सालों में इनका बोलबाला रहा है, लेकिन दोनों कभी आमने सामने नहीं आए हैं। यह दोनों गुजरात के हैं, लेकिन दोनों का कारोबार अलग-अलग है। अंबानी का कारोबार तेल, पेट्रोकेमिकल, टेलीकॉम सेक्टर और कई कुदरा क्षेत्रों तक फैला हुआ है।

वहीं, अडानी का कारोबार कोयला, एनर्जी डिस्ट्रीब्यूशन, बंदरगह और एविएशन सेक्टर तक फैला हुआ है। ऐसे में इन दोनों कारोबारियों का व्यापार अलग-अलग क्षेत्रों में फैला हुआ है, लेकिन अब अगर अडानी ग्रुप टेलीकॉम सेक्टर में आते हैं तो पहली बार अंबानी और अडानी के व्यापार की सीधी टक्कर होगी।  ##  Adani के लिए क्यों मुश्किल है Jio और Airtel को टक्कर देना?   

जिओ का गेमचेंजिंग प्लान  #Adani के लिए मुश्किल

साल 2016 में जब जियो की एंट्री हुई थी, तो उनके प्लांस का किसी को अंदाज तक नहीं था। जिओ ने अपने एंट्री के साथी यूजर को फ्री में अपना नेटवर्क एक्सपीरियंस करने का मौका दिया।

एक बार 4G स्पीड का चस्का लगने के बाद लोगों ने जिओ को टेलीकॉम इंडस्टिं का बादशाह बना दिया। मगर अडानी के लिए यह सब कर पाना शायद उतना आसान नहीं होगा।  #Adani के लिए मुश्किल

जिओ जब इंडस्ट्री में आया था, तो ज्यादातर प्लांस कॉलिंग पर बेस्ट थे। कंपनी ने डाटा बेस्ट प्लान लांच किए और कॉलिंग को एक तरह से फ्री कर दिया। या फिर डेटा प्लांट के साथ कंप्लीमेंट्री कर दिया।

#  Adani के लिए क्यों मुश्किल है Jio और Airtel को टक्कर देना?   

अडानी को बनाना होगा नया प्लान

अगर अडानी ग्रुप इस बिजनेस में आता है, तो उसे जियो से कुछ अलग करना होगा। जीयो ही नहीं अब जीयो, एयरटेल और वोडाफोन तीनों के प्लांस लगभग एक जैसे हैं। हालांकि, अडानी ग्रुप इस बिजनेस में एंटरप्राइजेज सेगमेंट में एंट्री कर रहा है।

उनका फोकस कंज्यूमर सेगमेंट पर नहीं है। ऐसे में गेम अलग ही दिशा में चला जाता है। जहाँ अडानी ने इस ऑक्शन के लिए सिर्फ एक अरब रुपये जमा किए हैं। वहीं जियो ने 140 अरब रुपये जमा किए हैं। दोनों के बीच का अंतर भी काफी ज्यादा है।

 

ध्यान दें :- ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम सबसे पहले अपने इस वेबसाइट sarkariyojnaa.com के माध्यम से देते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…

Posted by Amar Gupta

🔥🔥 Join Our Group For All Information And Update, Also Follow me For Latest Information🔥🔥

🔥 Follow US On Google News Click Here
🔥 WhatsApp Group Join Now Click Here
🔥 Facebook Page Click Here
🔥 Instagram Click Here
🔥 Telegram Channel Techgupta Click Here
🔥 Telegram Channel Sarkari Yojana Click Here
🔥 Twitter Click Here
🔥 Website  Click Here

 

Leave a Comment