हर महीने होगी कमाई डबल, भारतीय डाक की नई योजना , ऐसे खोलें खाता इतना मिलेगा हर महीने रिटर्न ।

Please share this
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अगर आप भी साल 2020 में कुछ बचत करना चाहते हैं तो यह स्कीम आपके लिए काफी बढ़िया होने वाली है । इस स्कीम के तहत आपको हर महीने पैसे मिलेंगे , भारतीय डाक की नई शुरुआत ।

इस पोस्ट में क्या है ?

भारतीय डाक की नई योजना

भारतीय डाक की नई योजना साल 2020 में अगर पैसे बचाने का विचार बनाए हुए हैं तो यह स्कीम आप लोगों के लिए ही है, इस स्कीम में पैसा लगाने से आपको काफी ज्यादा फायदा मिलेगा और आपका पैसा भी सुरक्षित रहेगा, पोस्ट ऑफिस की इस नई स्कीम से आपको हर महीने अच्छी कमाई होगी ।

भारतीय डाक की नई शुरुआत ।

डाक की यह खास स्कीम उन सभी लोगों के लिए है जो अपनी कम जमा राशि पर अधिक से अधिक रिटर्न पाना चाहते हैं । इस नई स्कीम में ना केवल आपको अधिक रिटर्न मिलेगा बल्कि आप की जमा राशि भी पूरी तरह से सुरक्षित रहेगी साथ ही इसे कम लागत पर भी खोला जा सकता है ।

यह भी पढे , घर बैठे खुलेगा खाता, भारतीय डाक की नई शुरुआत ।

भारतीय डाक की इस नई स्कीम का नाम पीओएमआईएस स्कीम है ।

इस स्कीम में अगर आप एक बार पैसा लगाते हैं तो यह तय हो जाता है कि आप को हर महीने पैसा मिलता रहेगा । विशेषज्ञों के द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक यह स्कीम निवेश करने के लिए सबसे बढ़िया स्कीम है और इसमें रिटर्न एफडी या डेट इंस्ट्रूमेंट की तुलना में काफी अधिक है ।

हर महीने कर सकते हैं इतने की इन्वेस्टमेंट ?

इस स्कीम के तहत मंथली इन्वेस्टमेंट अकाउंट कोई भी व्यक्ति खोल सकता है , अगर आप इसके तहत सिंगल अकाउंट खोलते हैं तो आप इस में अधिकतम राशि 4.5 लाख रुपए महीने का जमा कर सकते हैं और न्यूनतम राशि 1500 रुपए महीने का या आप इसके तहत ज्वाइंट अकाउंट खोलते हैं तो राशि दोगुनी हो जाएगी ।

बच्चे का भी खुल सकता है इसके तहत खाता ।

भारतीय डाक की नई योजना के तहत बड़े तो बड़े बच्चों का भी खाता खोला जा सकता है । 10 साल से कम उम्र के बच्चों का खाता उनके लीगल गार्जियन या माता पिता के नाम पर खोला जा सकता है । बच्चे की उम्र 18 वर्ष होने पर वह इसकी जिम्मेवारी खुद ले सकता है । अगर आप इस स्कीम के तहत निवेश करते हैं तो आपको सालाना ब्याज 7.3 फ़ीसदी तक मिल सकता है ।

यह भी पढे , प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना ,पम्प वितरण क्या है ?, इसके लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें 2020

इस स्कीम के तहत 5 साल तक निवेश की जा सकती है ।

बता देते हैं कि अगर आप भारतीय डाक की नई योजना के तहत हर महीने पैसे को नहीं निकालते हैं तो वह रकम आपके पोस्ट बैंक के सेविंग अकाउंट में जमा हो जाती है और उसके ऊपर मिल रहा ब्याज भी उसमें शामिल हो जाता है ।
इस स्कीम की मैच्योरिटी पीरियड 5 वर्ष की है , अगर आप चाहे तो 5 वर्ष के बाद फिर से इस स्कीम में निवेश कर सकते हैं ।

खाता कैसे खोला जाएगा ?

इस स्कीम के तहत अगर आप अपना खाता खुलवाना चाहते हैं तो अपने पोस्ट ऑफिस में जाकर इसकी जानकारी देनी होगी । इसके लिए आपको साथ में आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, पैन कार्ड, राशन कार्ड ,ड्राइविंग लाइसेंस मेरे से किसी एक की फोटो कॉपी के साथ दो पासपोर्ट साइज फोटो ले जाने की आवश्यकता होगी ।

यह भी पढे , जनधन योजना के खाते में अचानक से आ रहे हैं , इतने रुपए ।


Please share this
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

🔥🔥 Join Our Group For All Information And Update, Also Follow me For Latest Information🔥🔥
🔥 Facebook Page  Click Here
🔥 Instagram  Click Here
🔥 Telegram Channel Techgupta  Click Here
🔥 Telegram Channel Sarkari Yojana  Click Here
🔥 Twitter  Click Here
🔥 Website   Click Here

जरुरी सूचना

दोस्तों, हमारी वेबसाइट (sarkariyojnaa.com)सरकार द्वारा चलाई जाने वाली वेबसाइट नहीं है,ना ही किसी सरकारी मंत्रालय से इसका कुछ लेना देना है | यह ब्लॉग किसी व्यक्ति विशेष द्वारा, जो सरकारी योजनाओं में रुचि रखता है और औरों को भी बताना चाहता है, द्वारा चलाया गया है | हमारी पूरी कोशिश रहती की एकदम सटीक जानकारी अपने पाठकों तक पहुंचे जाए लेकिन लाख कोशिशों के बावजूद भी गलती की सम्भावना को नकारा नहीं जा सकता| इस ब्लॉग के हर आर्टिकल में योजना की आधिकारिक वेबसाइट की जानकारी दी जाती है| हमारा सुझाव है कि हमारा लेख पढ़ने के साथ साथ आप आधिकारिक वेबसाइट से भी जरूर जानकारी लीजिये | अगर किसी लेख में कोई त्रुटि लगती है तो आपसे आग्रह है कि हमें जरूर बताएं |

हम अपने ब्लॉग के माध्यम से रजिस्ट्रेशन नहीं करवाते ना ही कभी भी पैसे कि मांग करते हैं | हमारा उद्देश्य है केवल आप तक सही जानकारी पहुँचाना !