नई सरकारी योजना, बेटी की पढ़ाई से लेकर उसकी शादी तक का खर्च चुकाएगी सरकार

इस पोस्ट में क्या है ?

मोदी सरकार के राज में बहुत सारी नई योजनाओं की शुरुआत की गई है इसी के तहत सरकार की योजना ऐसी भी जिसमें आपकी बेटी की पढ़ाई से उसकी शादी तक का खर्च सरकार चुकाएगी ।

नई सरकारी योजना

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा आज का सबसे उभरता हुआ नारा है सरकार की एक नई सरकारी योजना सुकन्या समृद्धि योजना है जिसकी शुरुआत 2015 में कर दी गई थी । इस योजना के तहत अगर बेटी की आयु 10 वर्ष से कम है तो उसका एक खाता खोला जा सकता है । यह खाता एक छोटा बचत खाता के तौर पर होता है ।

यह भी पढे , आयुष्मान भारत योजना , बिल गेट्स ने भी दी बधाई आयुष्मान भारत योजना की सफलता से हुए हैरान ।

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता खुलवाने के लिए कुछ बातों का ध्यान देना काफी जरूरी है ।

1.नई सरकारी योजना , सुकन्या समृद्धि योजना  का खाता खुलवाने के लिए सबसे पहले आपको अपने नजदीकी पोस्ट ऑफिस या बैंक जाना होगा, और वहां आपको फॉर्म लेकर फॉर्म भरना होगा । कुछ जरूरी दस्तावेज भी आपको इसके साथ जोड़ने होंगे । जरूरी दस्तावेज हो सकते हैं आधार कार्ड, आवास प्रमाण पत्र, बच्ची का जन्म प्रमाण पत्र ।
खाता खुलने के बाद आपको बैंक या पोस्ट ऑफिस के द्वारा एक पासबुक दी जाती है इसमें सारी जानकारी लिखी होती है ।

2. इस खाते को ₹1000 जमा करके खुलवाया जा सकता है, इस खाते में हर साल कम से कम ₹250 जमा करने होते हैं । पहले इस खाते के तहत सालाना कम से कम ₹1000 जमा करने होते थे लेकिन यह घटकर अभी ₹250 कर दिए गए हैं । ऐसा उन लोगों के लिए किया गया है जिनका इनकम कम है और वह अपनी बच्ची के भविष्य को सुनिश्चित करना चाहते हैं ।

नई सरकारी योजना , सुकन्या समृद्धि योजना के खाते से तब तक पैसे नहीं निकाले जा सकते हैं जब तक बच्चे की आयु 18 वर्ष की ना हो जाए ।

3. साल भर में 1.5 लाख रुपए से ज्यादा रकम इस खाते में नहीं जमा किए जा सकते हैं , अगर आप की दो बेटी है और उनका अलग-अलग अकाउंट है फिर भी आप खाते में 1.5 लाख रुपए से अधिक जमा नहीं करवा पाएंगे । अगर आप गलती से भी 1.5 लाख रुपए से अधिक राशि साल भर में अपने खाते में जमा कर देते हैं तो वह पैसा आपका बर्बाद हो जाता है जो कभी वापस नहीं मिल सकता है ना ही इस पर किसी भी प्रकार का कोई इंटरेस्ट दिया जाएगा ।
इस योजना के तहत ऐसे किसी भी प्रकार से जमा किए जा सकते हैं जैसे कि कैश, चेक, डिमांड ड्राफ्ट , ऑनलाइन ट्रांसफर का भी सहारा लिया जा सकता है ।

यह भी पढे ,आधार कार्ड कि इस गलती को ठीक कराने के लिए अब जाना होगा UIDAI के ऑफिस ।

4. खाता जब से शुरू होता है तब से लेकर 14 वर्षों तक इतने पैसे डिपाजिट किए जा सकते हैं । बच्चे की उम्र 10 साल होने पर वह खुद जाकर अपने खाते का देखरेख कर सकती है और इसमें खुद से पैसे जमा करवा सकती हैं । 18 वर्ष के होने पर खाते का पूरा कंट्रोल उसके हाथ में चला जाता है ।
अगर आपके घर में भी एक बच्ची है तो आप उसका सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता जरूर खुलवाएं इससे आपको काफी ब्याज दर दी जाती है ।

महत्वपूर्ण जानकारी

आधार कार्ड कि इस गलती को ठीक कराने के लिए अब जाना होगा UIDAI के ऑफिस ।

CSC से आर्थिक जनगणना 2019 ,Enumrator Or Supervisor में क्या है अंतर ? किसमें करना है रजिस्ट्रेशन ।

7वीं आर्थिक जनगणना 2019 में कितनी मिलेगी सैलरी , कैसी है कमाई जाने सारी बातें ।

आयुष्मान भारत योजना, यह गलती पहुंचा सकती है आपको जेल । वायरल मैसेज


 

Please share this
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment