कॉमन सर्विस सेंटर को फिर से मिल सकती है आधार कार्ड की सेवाएं, गैर-बायोमैट्रिक सहायता को दी जाएगी अनुमति ।

यूआइडीएआइ फिर से सीएससी की राह को चली, मिल सकती सीएससी को अनुमति आधार पंजीयन और अपडेशन सेवा देने की ।

कॉमन सर्विस सेंटर

यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया एक बार फिर से कॉमन सर्विस सेंटर 2020 को आधार कार्ड पंजीयन और अपडेशन के लिए गैर-बायोमैट्रिक सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए अनुमति दे सकता है , साथ ही लोगों को ऑनलाइन फॉर्म भरने में मदद करने जैसी सेवाएं भी उपलब्ध कराने की अनुमति दी जा सकती है ।

यह भी पढे , सीएससी नई सर्विस, आर्थिक सर्वे 2020 का काम करेगा सीएससी ।

सीएससी के संचालन करने वाले VLE को सरकार फिर से आधार कार्ड पंजीकरण अपडेट करने की सुविधा प्रदान करने की सोच रही है । इससे पहले 120 करोड़ लोगों का आधार बायोमैट्रिक सुरक्षित करने के लिए यूआईडीएआई ने कॉमन सर्विस सेंटर से आधार कार्ड बनाने की अथॉरिटी को छीन लिया था, और बताया था कि VLE लोगों से अधिक चार्ज करते हैं आधार कार्ड पंजीयन और अपडेशन के लिए ।

लेकिन फिर से चल रहे बातों से यह लगता है कि यूआइडीएआइ एक बार पुनः आधार कार्ड का कार्य कॉमन सर्विस सेंटर को दे सकती है ।

इस प्रकार से काम होगी कॉमन सर्विस सेंटर 2020 में ।

सूत्रों की हिसाब से यूआइडीएआइ के अधिकारियों के द्वारा बातचीत की जा रही है सीएससी को पंजीकरण एवं सूचनाओं का अपडेशन ने के लिए ऑनलाइन आधार फॉर्म भरने में आम लोगों की मदद करने की अनुमति देने की । पहले की तरह इसमें किसी प्रकार की बायोमेट्रिक गतिविधि को शामिल नहीं किया गया है ।
पहले की तरह VLE खुद से किसी भी व्यक्ति का बायोमेट्रिक की जानकारी लेकर आधार कार्ड नहीं बना पाएगा बल्कि नए नियम के अनुसार फॉर्म का आवेदन ऑनलाइन करने में लोगों की मदद करेगा ।

अधिकारी ने यह भी बताया कि ग्रामीण इलाकों के लोगों को ऑनलाइन की अधिक जानकारी नहीं होती है ,इसी वजह से सीएससी मील के पत्थर का काम करेगा । इस कार्य को करने के लिए सीएससी सेंटर को कुछ चार्ज लेने की भी इजाजत दी जाएगी ताकि भी VLE अपना कुछ कमाई कर सके और लोगों का कार्य भी कर सके ।

यह भी पढे ,आधार कार्ड है तो हो जाओ सावधान, प्लास्टिक आधार कार्ड इस्तेमाल करने वाले रहे सतर्क

कॉमन सर्विस सेंटर, आधार कार्ड
सीएससी बार बार सरकार से यह अपील करते आ रही है कि उन्हें पुनः आधार की सेवा प्रदान की जाए इसी पर विचार करते हुए यूआईडीएआई सीएससी को सेवा तो देगी लेकिन गैर-बायोमेट्रिक आधार कार्ड बनाने की ।

यह भी पढे ,5 गुना अधिक होगी पेंशन, मोदी सरकार का नया तोहफा वृद्धों, दिव्यांगों और विधवाओं को ।

VLE के लिए है कुछ आसार कमाई की

सीएससी में बहुत सारे ऐसे VLE है, जिन्होंने लाखों रुपए खर्च करके आधर कार्ड बनाने की मशीनें खरीदी थी । यूआइडीएआइ ने कुछ कारण बताकर इन लोगों से आधार बनाने की अथॉरिटी को छीन लिया , ऐसे में इन लोगों को फिर से आधार के जरिए कमाई करने का रास्ता मिल सकता है और वह इस नए तरीके के जरिए फिर से आधार का कार्य शुरू कर सकते हैं ।

Please share this
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

2 thoughts on “कॉमन सर्विस सेंटर को फिर से मिल सकती है आधार कार्ड की सेवाएं, गैर-बायोमैट्रिक सहायता को दी जाएगी अनुमति ।”

Leave a Comment